Breaking
तमिलनाडु में भारी बारिश के बाद इरोड में बाढ़ की चेतावनी बड़ी बहन भी गंभीर घायल; शादी के लिए गिफ्ट खरीदकर लौट रहीं थीं सब्जी काटने वाले चाकू से किया ताबड़तोड़ हमला; अस्पताल ले जाते वक्त मौत जनसभा के बाद चुनाव प्रचार के लिए गुजरात रवाना होंगे राहुल मांगों को लेकर 15 दिन का अल्टीमेटम; अमल न होने पर आर-पार की लड़ाई फिल्म 'The Kashmir Files' पर बयान देना इस्राइली फिल्म मेकर को पड़ा भारी नगर निगम सफाई इंस्पेक्टर को दी गई गालियां, नाराज कर्मचारियों ने पुलिस चौकी घेरा सात साल बाद बच्ची को मिला न्याय,दुष्कर्म आरोपी को 20 साल की कैद.. 573 मीटर ऊंची पहाड़ी पर रोकी पेड़ों की कटाई, अब इस पहाड़ी पर हरे-भरे हैं डेढ़ लाख से ज्यादा पेड़ नाराज मुख्यमंत्री की लगातार 6 पोस्ट, ईडी-आईटी वाले अफसरों को मुर्गा बनाकर पीट रहे हैं, अब शिकायत मिल...

प्रदेश में 10 मार्च तक बारिश

भोपाल । मध्यप्रदेश में मौसम फिर बदल गया है। भोपाल, खंडवा और आसपास के इलाकों में सोमवार शाम हल्की से तेज बारिश हुई। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा के मुताबिक 10 मार्च तक इसी तरह का मौसम बना रहेगा। इंदौर और भोपाल में अभी बादल छाए रह सकते हैं। सागर, जबलपुर और रीवा संभागों में बुधवार से बारिश शुरू हो सकती है। इससे दिन और रात के तापमान में गिरावट आ सकती है।
मौसम में बदलाव की वजह से प्रदेश के कुछ इलाकों में जहां बौछारें पड़ीं तो कहीं पारा चढ़ भी गया। सीजन में पहली बार रात का पारा नर्मदापुरम (होशंगाबाद) में 21 डिग्री सेल्सियस और इंदौर में 20 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया। सबसे कम खजुराहो में 11 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। इन दिनों खेतों में गेहूं की फसल लहलहा रही है। ज्यादा बारिश होने पर फसल के खराब होने का भी खतरा है। सोमवार शाम हुई बारिश से खेतों में खड़ी फसल बिछ गई। मौसम साफ नहीं रहा और बारिश होती रही तो गेहूं के दाने काले पड़ जाएंगे।
यहां बरस सकते हैं बादल
मौसम वैज्ञानिक ने बताया कि तीन दिन तक इसी तरह हल्की बारिश प्रदेश में होती रहेगी। नए सिस्टम के कारण अब पश्चिमी मध्यप्रदेश यानी जबलपुर, सागर, शहडोल और रीवा संभागों में बुधवार से बारिश होने की संभावना बन गई है। तीन दिन तक इन इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इस दौरान दिन और रात का तापमान भी गिर सकता है। भोपाल, इंदौर और उज्जैन संभागों में मंगलवार को कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है। इसके अलावा शेष इलाकों में इसका असर नहीं रहेगा।
रात का पारा चढ़ा
प्रदेश भर में अचानक बादल छाने के कारण दिन का पारा तो ज्यादा नहीं चढ़ सका, लेकिन रात का पारा चढ़ गया। कई इलाकों में तो यह सामान्य से 5 डिग्री तक ऊपर चला गया। सबसे ज्यादा न्यूनतम तापमान जबलपुर, सागर, सिवनी, बैतूल, भोपाल, धार, नर्मदापुरम, इंदौर, खंडवा, राजगढ़, शाजापुर और उज्जैन में 17 डिग्री से 21 डिग्री तक रिकॉर्ड किया गया। खजुराहो में सबसे कम 11 डिग्री रहा।

तमिलनाडु में भारी बारिश के बाद इरोड में बाढ़ की चेतावनी     |     बड़ी बहन भी गंभीर घायल; शादी के लिए गिफ्ट खरीदकर लौट रहीं थीं     |     सब्जी काटने वाले चाकू से किया ताबड़तोड़ हमला; अस्पताल ले जाते वक्त मौत     |     जनसभा के बाद चुनाव प्रचार के लिए गुजरात रवाना होंगे राहुल     |     मांगों को लेकर 15 दिन का अल्टीमेटम; अमल न होने पर आर-पार की लड़ाई     |     फिल्म ‘The Kashmir Files’ पर बयान देना इस्राइली फिल्म मेकर को पड़ा भारी     |     नगर निगम सफाई इंस्पेक्टर को दी गई गालियां, नाराज कर्मचारियों ने पुलिस चौकी घेरा     |     सात साल बाद बच्ची को मिला न्याय,दुष्कर्म आरोपी को 20 साल की कैद..     |     573 मीटर ऊंची पहाड़ी पर रोकी पेड़ों की कटाई, अब इस पहाड़ी पर हरे-भरे हैं डेढ़ लाख से ज्यादा पेड़     |     नाराज मुख्यमंत्री की लगातार 6 पोस्ट, ईडी-आईटी वाले अफसरों को मुर्गा बनाकर पीट रहे हैं, अब शिकायत मिली तो कार्रवाई     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201