Breaking
अमृतसर से आए गोताखोरों ने की तलाश, युवक का नहीं चला पता नवंबर माह में औसतन हर रोज मिले 5 मरीज, संख्या पहुंची 207, एक भी एडमिट नहीं शाम को खेलते-खलते दो नाबालिग सगे भाई हुए थे लापता, पीआरवी ने दुर्गापुर रोड टहलते हुए मिले पार्टी हाईकमान जेल से निकलने पर सौंप सकती है बड़ी जिम्मेदारी तापसी पन्नू की मर्डर मिस्ट्री थ्रिलर  फिल्म 'ब्लर' का टीजर हुआ रिलीज लंबा मार्च इस्लामाबाद नहीं जाएगा तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम रिश्तेदारों को छोड़ने के बाद खाना खाते वक्त लूटी, 4 लुटेरों ने की वारदात कोई दीवाना कहता है...कविता से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया, पूर्व मंत्री अरविंद सिंह गोप ने किया था कव... झटका ! 29 दिसंबर से Amazon की फूड डिलीवरी सर्विस भारत में होने वाली है बंद

परिवार के साथ जंगल में घूमने गई थी महिला, रहस्यमई चीज के काटने से हुआ बुरा हाल, हाथी जैसा सूज गया पैर!

जिन लोगों को एडवेंचर पसंद होता है वो अक्सर जंगल सफारी (Jungle Safari) पर चले जाते हैं. यानी गाड़ियों में जंगल घूमना, वहां से जुड़ी प्राकृतिक चीजें देखना, जानवरों को नजदीक से समझना. वैसे ये सब सुनने में जितना मजेदार लगता है, उतना खौफनाक भी है क्योंकि जंगल में अक्सर ऐसे जीव-जनतु भी होते हैं जिनके कारण लोग मुश्किल में पड़ सकते हैं. ऐसा ही कुछ इंग्लैंड की एक महिला के साथ हुआ जिसे अफ्रीका के जंगलों में किसी रहस्यमयी चीज (Woman bitten mysterious creature in Safari) ने काट लिया.
वेस्ट यॉर्कशायर (West Yorkshire, England) की रहने वाली 48 सला की फर्न वॉर्मल्ड (Fern Wormald) अपने परिवार के साथ साल 2017 में अफ्रीका (African Jungle Safari) गई थीं. यहां पश्चिमी अफ्रीका के द गांबिया (The Gambia) देश में वो और उनकी बेटी स्कूल के बच्चों को गणित और इंग्लिश पढ़ाते थे. एक बार वे सेनेगल (Senegal) की जंगल सफारी पर निकले मगर वहां किसी अंजान चीज ने उन्हें काट लिया.

उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया मगर वहां डॉक्टर ये अंदाजा लगाने में नाकमयाब रहे कि उन्हें सांप, मकड़ी, मच्छर में से किसने काटा है. उन्हें कुछ दवाएं और एंटीबायोटिक्स देकर भेज दिया गया. जब वो इंग्लैंड पहुंचीं तो उनका पैर सूज (Woman legs swollen with blers) गया था और पैर पर फफोले पड़ गए थे. तब उन्हें 7 हफ्तों तक अस्पताल में एडमिट करवा दिया गया. उन्हें लगा था कि उनके पैर को काटना पड़ेगा मगर ऐसा नहीं हुआ. तब से उनके पैर में रह-रहकर फोड़े हो जाते हैं और घाव इतना गंभीर हो जाता है कि दर्द से उनकी जान निकल जाती है. उन्होंने बताया कि दर्द ऐसा मेहसूस होता है जैसे किसी ने खुले घाव पर एसिड डाल दिया हो.

महिला अब सर्जरी का इंतजार कर रही है
उन्होंने बताया कि अब लिपोसक्शन से ही उन्हें सहारा है. इस सर्जरी के जरिए उनके पैर से पानी निकाला जाएगा जिससे उनकी जान बच सकती है. क्योंकि फिलहाल उनकी जान पर भी खतरा बना हुआ है. उनका चेहरा भी सूज गया है. इतने सालों से वो इसी घाव के साथ रह रही हैं. उनके पास लिपोसक्शन के लिए पैसे नहीं हैं तो अब वो क्राउड फंडिंग के जरिए पैसे जुटाने में लगी हुई हैं. उन्होंने कहा कि उनके पैर में अल्सर हो जाते हैं. पैर इतने सूज गए हैं कि उन्हें पहले 7 नंबर की चप्पल अटती थी, अब 11 नंबर की अटती है.

अमृतसर से आए गोताखोरों ने की तलाश, युवक का नहीं चला पता     |     नवंबर माह में औसतन हर रोज मिले 5 मरीज, संख्या पहुंची 207, एक भी एडमिट नहीं     |     शाम को खेलते-खलते दो नाबालिग सगे भाई हुए थे लापता, पीआरवी ने दुर्गापुर रोड टहलते हुए मिले     |     पार्टी हाईकमान जेल से निकलने पर सौंप सकती है बड़ी जिम्मेदारी     |     तापसी पन्नू की मर्डर मिस्ट्री थ्रिलर  फिल्म ‘ब्लर’ का टीजर हुआ रिलीज     |     लंबा मार्च इस्लामाबाद नहीं जाएगा     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     रिश्तेदारों को छोड़ने के बाद खाना खाते वक्त लूटी, 4 लुटेरों ने की वारदात     |     कोई दीवाना कहता है…कविता से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया, पूर्व मंत्री अरविंद सिंह गोप ने किया था कवि सम्मेलन का आयोजन     |     झटका ! 29 दिसंबर से Amazon की फूड डिलीवरी सर्विस भारत में होने वाली है बंद     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201