सेप्टिक टैंक में गिरे तीन सफाई कर्मचारियों की दम घुटने से मौत

मुंबई । मुंबई के कांदिवली पश्चिम के एकता नगर में सार्वजनिक शौचालय की सफाई करने गए तीन सफाई कर्मचारियों की सेप्टिक टैंक में गिरने से दम घुटकर मौत हो गई। बृहन्मुंबई नगर निगम के अनुसार मौके पर पहुंचे अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों ने सफाई कर्मचारियों को शताब्‍दी अस्‍पताल पहुंचा जहां डाक्‍टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया।

पूर्व स्थानीय नगरसेवक कमलेश यादव से मिली जानकारी के अनुसार ये शौचालय मलिन बस्तियों से घिरा हुआ है और लोग शिकायत कर रहे थे कि सेप्टिक टैंक से बदबू आ रही है। समुदाय-आधारित संगठन के किसी व्यक्ति ने इस मुद्दे का निरीक्षण करने के लिए एक एजेंसी को बुलाया। एजेंसी ने तीन मजदूरों को भेजा, जिन्होंने ढक्कन खोला और एक कर्मचारी चेक करने के लिए नीचे झुक गया। एक प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार, वह टैंक में फिसल गया और अन्य मजदूर उसकी मदद करते हुए नीचे गिर गए।

गौरतलब है कि बीती 2 मार्च को महाराष्ट्र के पुणे के कालभोर गांव में एक सेप्टिक टैंक की सफाई के दौरान दम घुटने से चार लोगों की मौत हो गई थी । यह घटना सुबह के समय हुई थी। दमकल कर्मियों ने मौके पर पहुंचकर मदद की। वहीं ठाणे के भिवंडी इलाके में 25 फरवरी को एक सार्वजनिक शौचालय के सेप्टिक टैंक में विस्फोट हो गया था। जिससे एक 60 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए। यह हादसा सुबह हुआ। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने मलबे में फंसे घायलों को बाहर निकाला और इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया। दमकलकर्मियों ने बताया कि अत्यधिक दबाव और गैस के कारण सेप्टिक टैंक में विस्फोट हो गया था।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201