Breaking
573 मीटर ऊंची पहाड़ी पर रोकी पेड़ों की कटाई, अब इस पहाड़ी पर हरे-भरे हैं डेढ़ लाख से ज्यादा पेड़ नाराज मुख्यमंत्री की लगातार 6 पोस्ट, ईडी-आईटी वाले अफसरों को मुर्गा बनाकर पीट रहे हैं, अब शिकायत मिल... रिफ्लेक्टर जैकेट, एल्कोमीटर होने के बाद भी रात में ट्रैफिक पुलिस सड़कों से हो जाती है गायब दिन का तापमान जहां 28 डिग्री, न्यूनतम 8.1 डिग्री पर पहुंचा, सर्द उत्तरी हवाओं से दिन में भी बढ़ी ठिठु... अलीगढ़ में जिला बॉडी बिल्डिंग एसोसिएशन ने कराई प्रतियोगिता, प्रदेश के 200 से ज्यादा युवा हुए शामिल मध्यप्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों से गुजर रही यात्रा, भिलाई नगर विधायक निभा रहे अहम भूमिका 14.5 करोड़ की हेरोइन बरामद, आरोपियों से 20 हजार ड्रग मनी और 2 स्कूटर भी मिले  भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगने पर कांग्रेस नेताओं पर केस दर्ज  ट्रक से टकराए बाइक सवार बुजुर्ग; सिंगोडी बाइपास पर युवक की भी मौत स्टूडेंट्स के उज्ज्वल भविष्य के लिए लिंग्याज की टीम करियर काउंसलिंग कर दिखा रही राह

पीएचडी थी सफाई कर्मचारी, खबर में आने के बाद मिली नौकरी

एक निजी यूट्यूब चैनल की तरफ से तेलंगाना में सफाई के तौर पर कार्यरत एक पीएचडी सफाई कर्मचारी की खबर को प्रमुखता से दिखाया था। इसके बाद तेलंगाना सरकार हरकत में आई और उन्होंने पी. रजनी को अनुबंध के आधार पर सहायक एंटोंमोलॉजिस्ट( किटविज्ञानी) नियुक्त किया है। और प्रदेश के चीफ एंटीमोलॉजिस्ट कार्यालय में रजनी काम करेंगे।इस बारे में सरकार ने रजनी को पीएफ, ईएसआई जैसी सुविधाएं भी तुरंत प्रभाव से जारी करने के निर्देश जारी किए हैं।स्कूली शिक्षा के दौरान रजनी देवी बहुत ही इंटेलिजेंट थी। 12वीं की परीक्षा में केमिस्ट्री विषय में उन्हें 60 में से 60 अंक मिले थे। उन्होंने ऑर्गेनिक केमिस्ट्री में एमएससी की है जिसमें पेरासिटामोल जैसी दवाई बनाई जाती।

रजनी का कहना है कि वह अपने बच्चों परिवार की जिंदगी के लिए पिछले 4 महीनों से सफाई का काम कर रही थी और अपने परिवार के लिए इस काम को करने में उन्हें कोई शर्म महसूस नहीं होती। हालांकि काम के शुरुआत में उन्हें कुछ दिक्कतें हुई थी। लेकिन अब सब कुछ सामान्य हो गया है।रजनी का कहना है कि उनके सास एक बार बीमार हो गई थी। जो बाद में कोमा में चली गई थी। इस कारण उनकी जिंदगी अस्त-व्यस्त होकर रह गई।यही नहीं 30 साल की उम्र तक उनके पति को 3 स्टंट डले थे। वही बच्चों बच्चे पैदा होने के चलते भी उनकी पढ़ाई पर असर पड़ा।रजनी ने हैदराबाद के सेंट्रल यूनिवर्सिटी से ऑर्गेनिक केमिस्ट्री में मास्टर ऑफ साइंस की पढ़ाई की थी।कोरोना काल के दौरान भी रजनी को मकान मालिक की तरफ से परेशानियों का सामना करना पड़ता था। जब वह अस्पताल से घर आती तो मकान मालिक उन्हें सैनिटाइजेशन करने को कहता था और कई बार तंग भी करता

573 मीटर ऊंची पहाड़ी पर रोकी पेड़ों की कटाई, अब इस पहाड़ी पर हरे-भरे हैं डेढ़ लाख से ज्यादा पेड़     |     नाराज मुख्यमंत्री की लगातार 6 पोस्ट, ईडी-आईटी वाले अफसरों को मुर्गा बनाकर पीट रहे हैं, अब शिकायत मिली तो कार्रवाई     |     रिफ्लेक्टर जैकेट, एल्कोमीटर होने के बाद भी रात में ट्रैफिक पुलिस सड़कों से हो जाती है गायब     |     दिन का तापमान जहां 28 डिग्री, न्यूनतम 8.1 डिग्री पर पहुंचा, सर्द उत्तरी हवाओं से दिन में भी बढ़ी ठिठुरन, रात का तापमान स्थिर     |     अलीगढ़ में जिला बॉडी बिल्डिंग एसोसिएशन ने कराई प्रतियोगिता, प्रदेश के 200 से ज्यादा युवा हुए शामिल     |     मध्यप्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों से गुजर रही यात्रा, भिलाई नगर विधायक निभा रहे अहम भूमिका     |     14.5 करोड़ की हेरोइन बरामद, आरोपियों से 20 हजार ड्रग मनी और 2 स्कूटर भी मिले     |      भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगने पर कांग्रेस नेताओं पर केस दर्ज      |     ट्रक से टकराए बाइक सवार बुजुर्ग; सिंगोडी बाइपास पर युवक की भी मौत     |     स्टूडेंट्स के उज्ज्वल भविष्य के लिए लिंग्याज की टीम करियर काउंसलिंग कर दिखा रही राह     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201