Breaking
दोपहर में सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठंड दिन का पारा सामान्य से 2 डिग्री कम ​​​​पेटीएम वॉलेट बैंक एक्टिवेटेड थे सिम, गिरोह के सदस्यों की तलाश पानी भरने गई पीड़िता से की थी अभद्रता , 8 साल पहले दर्ज हुआ था मामला दिसंबर में बुध, शुक्र, सूर्य का गोचर, जानें कब है गीता जयंती, एकादशी, क्रिसमस वर्ष 2023 में संतान की रक्षा, सेहत, आयु और खुशी के लिए आ रहे हैं 6 व्रत न प्रिंसिपल आए और न शिक्षक; पढ़िए पूरा मामला अनुसूचित जाति के लिए 13% आरक्षण का विरोध,16 फीसदी नहीं करने पर आंदोलन की चेतावनी शीतकालीन सत्र पर फैसला; विधायी कार्यों की भी मिलेगी मंजूरी, ग्रीन टैक्स पर लगेगी मुहर मोहाली के विकास भवन में की जाएगी कार्यक्रम की शुरूआत हिमाचल में सभी सीटों पर होगी 'आप' की जमानत जब्त, केजरीवाल को बताया देश का झूठा इंसान

ब्रिटेन में धीमी हुई तीसरी लहर की रफ्तार! वर्क फ्राम होम खत्म, मास्क से भी हटी पाबंदी

लंदन। दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस और उसके वैरिएंट ओमिक्रोन ने लोगों की मुश्किलें बढ़ाई हुई हैं। इसी बीच, ब्रिटेन में कई पाबंदियों को हटाने का एलान किया गया है। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने बुधवार को मास्क की अनिवार्यता को खत्म करने की घोषणा की है। इसके अलावा ब्रिटेन में वर्क फ्राम होम खत्म कर दिया गया है। ब्रिटिश पीएम ने कहा, ‘हमारे वैज्ञानिकों का मानना है कि देश में ओमिक्रोन अपने पीक पर पहुंच चुका है और अब इसकी रफ्तार थमती दिख रही है। इसीलिए, अब से सरकार लोगों को घर से काम करने के लिए नहीं कह रही है।’

ब्रिटिश पीएम ने आगे कहा कि ब्रिटेन दुनिया का पहला देश था जिसने सबसे पहले वैक्सीनेशन की शुरुआत की थी। ब्रिटेन टीकाकरण को यूरोप में शुरू करने वाले सबसे तेज देशों में से एक है। ऐसा इसलिए क्योंकि हमने यूरोपियन मेडिसिन एजेंसी (ईएमए) के बाहर अपनी खुद की वैक्सीन खरीद को आगे बढ़ाने का फैसला किया था।’ पीएम जानसन ने ये भी कहा कि ओमिक्रोन की लहर से उबरने वाला ब्रिटेन पहले देश है, क्योंकि हमने यूरोप में सबसे तेज बूस्टर डोज अभियान पर जोर दिया था।

बता दें कि प्लान बी के तहत मास्क की अनिवार्यता, कोविड पास, वर्क फ्राम होम जैसे कई फैसले लिए गए थे। अब सरकार ने 24 मार्च से कोविड संक्रमित होने के बाद सेल्‍फ आइसोलेट होने की अनिवार्यता वाले कानून को भी हटाने का फैसला किया है।

18 जनवरी को आए 94 हजार से ज्यादा मामले

बता दें कि ब्रिटेन में 18 जनवरी को 94,432 नए मामले सामने आए थे। इसके अलावा 28 दिनों में 438 लोगों की मौत हो चुकी है। अब तक 52,133,611 लोग टीके की पहले खुराक ले चुके हैं। जबकि 47,989,635 लोगों को टीके की दूसरी खुराक दी जा चुकी है। वहीं, 36,546,583 लोगों को बूस्टर डोज लग चुका है।

दोपहर में सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठंड दिन का पारा सामान्य से 2 डिग्री कम     |     ​​​​पेटीएम वॉलेट बैंक एक्टिवेटेड थे सिम, गिरोह के सदस्यों की तलाश     |     पानी भरने गई पीड़िता से की थी अभद्रता , 8 साल पहले दर्ज हुआ था मामला     |     दिसंबर में बुध, शुक्र, सूर्य का गोचर, जानें कब है गीता जयंती, एकादशी, क्रिसमस     |     वर्ष 2023 में संतान की रक्षा, सेहत, आयु और खुशी के लिए आ रहे हैं 6 व्रत     |     न प्रिंसिपल आए और न शिक्षक; पढ़िए पूरा मामला     |     अनुसूचित जाति के लिए 13% आरक्षण का विरोध,16 फीसदी नहीं करने पर आंदोलन की चेतावनी     |     शीतकालीन सत्र पर फैसला; विधायी कार्यों की भी मिलेगी मंजूरी, ग्रीन टैक्स पर लगेगी मुहर     |     मोहाली के विकास भवन में की जाएगी कार्यक्रम की शुरूआत     |     हिमाचल में सभी सीटों पर होगी ‘आप’ की जमानत जब्त, केजरीवाल को बताया देश का झूठा इंसान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201