Breaking
“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता... विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने भारतीय मूल की उपराष्‍ट्रपति कमला हैरिस को लेकर कही बड़ी बात

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बुधवार को कहा कि अगर 2024 के चुनाव में वो दोबारा मैदान में उतरते हैं तो मौजूदा उपराष्ट्रपति कमला हैरिस फिर से उनकी साथी होंगी। उन्‍होंने बिना हिचकिचाहट के कहा कि कमला बेहद अच्‍छा काम कर रही हैंऔर वो आगे भी मेरा साथ देने वाली बनेंगी। बता दें कि बाइडन और कमला हैरिस के राष्‍ट्रपति और उपराष्‍ट्रपति के कार्यकाल को एक वर्ष पूरा हो चुका है। इस अवसर पर हुई प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बाइडन ने बड़ी बेबाकी से अपनी बातें रखीं।

इस दौरान जब उनसे पूछा गया कि क्‍या वो हैरिस के काम से और वोट के अधिकार को लेकर किए गए काम से खुश हैं और क्‍या वो दोबारा उनके साथ चुनावी मैदान में दिखाई देंगी। तो बाइडन ने कहा कि हां, क्‍यों नहीं। मैं उनके काम से बेहद खुश हूं। बाइडन ने ये भी कहा कि उन्‍होंने कमला को नंबर दो की भूमिका में रखा है और अपना काम वो बेहद जिम्‍मेदारी के साथ कर रही हैं। आपको बता दें कि पिछले वर्ष दिसंबर में एक संवाददाताओं के सवालों का जवाब देते हुए कमला हैरिस ने कहा था कि उन्‍होंने इस बारे में बाइडन के साथ फिलहाल कोई बातचीत नहीं की है।

आपको बता दें कि अमेरिकी इतिहास कमला हैरिस एक पहली महिला और पहली अश्वेत और एशियाई अमेरिकी महिला हैं जो उपराष्ट्रपति पद पर काबिज हैं। शुरूआत से ही कमला को बाइडन का उत्तराधिकारी भी माना जाता रहा है।

कमला हैरिस का जन्‍म आकलैंड में हुआ है और बार्क्ले में वो पली-बढ़ी हैं। उनकी मां भारत से और पिता जमैका से हैं। वर्ष 2017 में कमला कैलीफार्निया से सीनेटर चुनी गई थीं। वो पहली दक्षिण एशियाई अमेरिकी सीनेटर थीं और साथ ही दूसरी अफ्रीकी अमेरिकी महिला सीनेटर भी थीं। उन्‍होंने होमलैंड सिक्‍योरिटी और गर्वनमेंटल अफेयर्स कमेटी में भी अहम भूमिका निभाई है। इसके अलावा सिलेक्‍ट कमेटी आन इंटेलिजेंस, कमेटी आन बजट और कमेटी आन द ज्‍यूडिशरी में भी वो अहम भूमिका में रही हैं। वर्ष 2019 के राष्‍ट्रपति उपराष्‍ट्रपति चुनाव में वो बाइडन की सहयोगी थीं।

“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा     |     जन-जन को जोड़ें “महाकाल लोक” के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान     |     Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस     |     राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ     |     विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला     |     मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों ‘झूठ दिआं पंडां     |     कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा     |     करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा     |     स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित     |     दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201