Breaking
आगामी रविदास जयंती को लेकर बौद्ध बिहार पर लगने वाले मेले को लेकर थाना प्रभारी संजय कुमार ने किया निर... बिजली उपभोक्ताओं को इस वर्ष दी जायेगी 22 हजार करोड़ रूपये की सब्सिडी साउथ कोरियाई अदालत ने जापान से चुराई गई बौद्ध मूर्ति के खिलाफ सुनाया फैसला जम्मू-कश्मीर के राजौरी में प्रधानमंत्री आवास योजना से 65 हजार लोग लाभान्वित फ्लाइट टिकट रिफंड के बहाने लोगों को ठगने के आरोप में 2 गिरफ्तार मजदूरों से भरी पिकअप को ट्रक ने मारी टक्कर, छह की मौत, नौ घायल महाशिवरात्रि पर बन रहा है अद्भुत संयोग, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि आंवला के पौधों में रोग एवं कीट प्रबंधन, जानें कैसे पौधों को रखें सुरक्षित ट्यूनीशिया ने आपात स्थिति को साल के अंत तक बढ़ाया भारतीय व अमेरिकी अंतरिक्ष अधिकारियों ने मानव अंतरिक्ष अन्वेषण पर की चर्चा

हाउती ने संघर्ष बढ़ने पर विदेशी कंपनियों से UAE छोड़ने को कहा, जानें क्‍या है पूरा मामला

यमन। बीते दिनों संयुक्त अरब अमीरात में यमन के हाउती विद्रोहियों द्वारा अबूधाबी हवाईअड्डे के पास बड़ा हमला किया गया, जिसमें दो भारतीय और एक पाकिस्तानी नागरिक के मारे गए, जबकि हमले में छह लोग घायल हुए। इस हमले से हालात और भी ज्यादा गंभीर होते जा रहे हैं। ‌यमन के हाउती आंदोलन ने यमन के खिलाफ अमेरिका-सऊदी-यूएई गठबंधन और याह्या द्वारा लगातार हो रहे हवाई हमलों के बाद, संयुक्त अरब अमीरात से बाहर निकलने के लिए विदेशी कंपनियों से UAE छोड़ने का आह्वान किया है।

हाउती सशस्त्र बलों के प्रवक्ता याह्या सारे ने कहा

हाउती सशस्त्र बलों के प्रवक्ता याह्या सारे ने शुक्रवार अपने टि्वटर हैंडल पर ट्वीट कर कहा, ‘यमन के लोगों के खिलाफ आज यूएस-सऊदी-यूएई का आक्रामकता द्वारा किए गए अपराधों के बाद, हम अमीरात में विदेशी कंपनियों को छोड़ने की सलाह देते हैं क्योंकि वे एक असुरक्षित देश में निवेश करते हैं और इस देश के शासक यमन के खिलाफ अपनी आक्रामकता जारी रखें हुए हैं।’

बीते सोमवार को हुआ था बड़ा हमला

बीते सोमवार को, कई हाउती ड्रोन ने संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी पर एक बड़ा हमला किया था, जिसमें अबू धाबी के मुख्य एयरपोर्ट पर आग लग गई और तीन ईंधन टैकरों में भीषण विस्फोट हुआ। इस हादसे में दो भारतीय नागरिकों सहित तीन लोगों की मौत हो गई और छह अन्य घायल हुए। इस पूरी घटना को ड्रोन की मदद से अंजाम दिया गया।

जिसके जवाब में, सऊदी के नेतृत्व वाले गठबंधन ने हाउती के खिलाफ एक अभियान शुरू किया, इस अभियान के तहत हाउतीयों के गोदामों और अन्य बुनियादी ढांचे को निशाना बनाया जा रहा है। आपको बता दें कि आंदोलन ने सहयोगियों पर यमन की राजधानी सना में आवासीय क्षेत्रों पर बमबारी करने, घरों को नष्ट करने और 20 से अधिक लोगों की हत्या करने का आरोप लगाया

मारे जा रहे हैं बेकसूर

अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन सेव द चिल्ड्रन ने शुक्रवार को यमन पर लगातार हो रहे हवाई हमलों में अब तक 3 बच्चों सहित कम से कम 63 लोगों के मारे जाने और 100 के घायल होने की सूचना दी है।

यमन‌ के बीच संघर्ष

यमन का यह संघर्ष आज का नहीं है बल्कि यह 2014 में सरकारी बलों और हाउती विद्रोहियों के बीच शुरू हुआ था। सऊदी अरब के नेतृत्व वाले सैन्य गठबंधन के 2015 में यमन सरकार के पक्ष में संघर्ष में शामिल होने और हाथीयों के खिलाफ हवाई, जमीन और समुद्री अभियान शुरू करने के बाद स्थिति और खराब हो गई थी।

आगामी रविदास जयंती को लेकर बौद्ध बिहार पर लगने वाले मेले को लेकर थाना प्रभारी संजय कुमार ने किया निरीक्षण     |     बिजली उपभोक्ताओं को इस वर्ष दी जायेगी 22 हजार करोड़ रूपये की सब्सिडी     |     साउथ कोरियाई अदालत ने जापान से चुराई गई बौद्ध मूर्ति के खिलाफ सुनाया फैसला     |     जम्मू-कश्मीर के राजौरी में प्रधानमंत्री आवास योजना से 65 हजार लोग लाभान्वित     |     फ्लाइट टिकट रिफंड के बहाने लोगों को ठगने के आरोप में 2 गिरफ्तार     |     मजदूरों से भरी पिकअप को ट्रक ने मारी टक्कर, छह की मौत, नौ घायल     |     महाशिवरात्रि पर बन रहा है अद्भुत संयोग, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि     |     आंवला के पौधों में रोग एवं कीट प्रबंधन, जानें कैसे पौधों को रखें सुरक्षित     |     ट्यूनीशिया ने आपात स्थिति को साल के अंत तक बढ़ाया     |     भारतीय व अमेरिकी अंतरिक्ष अधिकारियों ने मानव अंतरिक्ष अन्वेषण पर की चर्चा     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201