Breaking
चंबल नदी में नहाने गए सात दोस्तों में से दो डूबे एक का शव मिला 30 से ज्यादा तत्वों से बना है आपका मोबाइल 3 धातुएं तो बेहद दुर्लभ जानें कैसे है धरती को खतरा साहित्य रचना को अविरल बहने प्रेरित करती हैं मेरी मां कुरुक्षेत्र में किसानों पर लाठीचार्ज का मुद्दा गरमाया धरना प्रदर्शन जारी राष्ट्रपति ने दी अनुमति हुक्का बार के संचालन पर प्रतिबंध के लिए अधिनियम में होगा संशोधन तीन बच्चों की मां ने कीटनाशक पी लिया उपचार के दौरान हुई मौत काली पट्टी बांधकर उतरी भारत-ऑस्ट्रेलिया की टीम उड़ीसा ट्रेन हादसे पर जताया शोक इस पौधे को करियर के लिए माना जाता है लकी तनाव मुक्त होता है जीवन जमीन विवाद में मारपीट और गोलीकांड के आरोपित के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो कर पेड़ से टकराईएक की मौत

छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र की सीमा पर नक्‍सलियों का उत्‍पात, 12 वाहनों को किया आग के हवाले

कांकेर। छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र की सीमा पर नक्सलियों ने एक बार फिर से उत्पात मचाया है। गढ़चिरौली में नक्सलियों ने निर्माण कार्य में लगे 12 वाहनों को आग के हवाले कर दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद नक्सली भाग निकले। जिले की सीमा पर इरपानार से पेंडूंगा मार्ग पर सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है।

इरपानार कांकेर जिले में आता है और पेंडूंगा गढ़चिरौली में है। शुक्रवार को मजदूर निर्माण कार्य में लगे थे। इसी दौरान दोपहर लगभग तीन बजे बड़ी संख्या में नक्सली वहां पहुंचे और उन्होंने मजदूरों को वहां से हटने के लिए कहा। मजदूरों को निर्माण स्थल से हटाए जाने के बाद नक्सलियों ने नौ ट्रैक्टर, दो जेसीबी और एक ग्रेडर वाहन में आग लगा दी।

वाहनों को आग लगाने के बाद नक्सली जंगल की ओर भाग निकले। घटना के बाद मजदूरों ने ठेकेदार और पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और इलाके में सर्च आपरेशन भी चलाया, लेकिन नक्सली तब तक मौके से निकल चुके थे।

पहले भी की है आगजनी

छत्तीसगढ़ व महाराष्ट्र क सीमा पर नक्सली इससे पहले भी आगजनी की घटना को अंजाम दे चुके हैं। इस बार भी निर्माण कार्य में लगे वाहनों को आग के हवाले कर नक्सली भाग निकले। सीमा पर नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण यहां नक्सलियों की सक्रियता बनी रहती है और कई बार सुरक्षा बलों व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ भी इसी इलाके में होती है। देखा गया है कि सड़क निर्माण कार्य में नक्सली बाधा डालते हैं, जिससे इन क्षेत्रों में आवगमन की सुविधा का विकास न हो सके और नक्सली जंगल की आड़ लेकर दहशत फैलाते रहें।

चंबल नदी में नहाने गए सात दोस्तों में से दो डूबे एक का शव मिला     |     30 से ज्यादा तत्वों से बना है आपका मोबाइल 3 धातुएं तो बेहद दुर्लभ जानें कैसे है धरती को खतरा     |     साहित्य रचना को अविरल बहने प्रेरित करती हैं मेरी मां     |     कुरुक्षेत्र में किसानों पर लाठीचार्ज का मुद्दा गरमाया धरना प्रदर्शन जारी     |     राष्ट्रपति ने दी अनुमति हुक्का बार के संचालन पर प्रतिबंध के लिए अधिनियम में होगा संशोधन     |     तीन बच्चों की मां ने कीटनाशक पी लिया उपचार के दौरान हुई मौत     |     काली पट्टी बांधकर उतरी भारत-ऑस्ट्रेलिया की टीम उड़ीसा ट्रेन हादसे पर जताया शोक     |     इस पौधे को करियर के लिए माना जाता है लकी तनाव मुक्त होता है जीवन     |     जमीन विवाद में मारपीट और गोलीकांड के आरोपित के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर     |     तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो कर पेड़ से टकराईएक की मौत     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201