Breaking
“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता... विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

14 करोड़ की लूट मामले में पीड़ित व्यवसाई से मिले चिराग, की बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

पटनाः लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के जमुई से सांसद चिराग पासवान ने राज्य में लगातार गिरती हुई विधि-व्यवस्था को देखते हुए राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है।

चिराग पासवान ने रविवार को यहां के बाकरगंज में दो दिन पूर्व दिनदहाड़े एक स्वर्ण आभूषण की दुकान में लगभग 14 करोड़ रुपए की हुई लूट को लेकर पीड़ित व्यवसाई के साथ ही उनके परिजनों से भेंट की। व्यवसायी से मिलने के बाद उन्होंने कहा कि बिहार में हर हाल में राष्ट्रपति शासन लागू होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिनके घर लूटपाट हुई है, वह राज्य को सबसे ज्यादा टैक्स (कर) देने वालों में से एक हैं। ऐसे में यदि यही लोग असुरक्षित हैं तो फिर प्रदेश में कारोबारी माहौल खराब होगा।

सांसद ने राजधानी पटना में हुई लूटपाट पर कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा कि वह इस मामले को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी बात करेंगे। वहीं, उन्होंने बिहार में जहरीली शराब से हुई मौत को लेकर भी नीतीश सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘इतना बड़ा कांड हो जाने के बाद भी हमारे मुख्यमंत्री पीड़ित के परिजन के पास नहीं जाते हैं। वह हमारे भी मुख्यमंत्री है, जो वोट नहीं दिया है, उनके भी मुख्यमंत्री है, उन्हें कम से कम पीड़ित के परिजनों के घर जाना चाहिए, जिससे लोगों में एक बेहतर संदेश जाएगा।”

चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा कि मौजूदा स्थिति में बिहार में जंगलराज नहीं बल्कि महा जंगलराज है। उन्होंने कहा कि 15 साल पहले क्या था आज के युवा नहीं जानते लेकिन 16 साल आपके (नीतीश) हाथों में प्रदेश के युवाओं और लोगों ने दिया तो आपने क्या किया। उन्होंने कहा कि स्वर्ण व्यवसाई लूटकांड मामले को लेकर वह पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को कई बार फोन लगा चुके हैं लेकिन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने फोन नहीं उठाया। उनके लैंडलाइन नंबर पर भी फोन किया लेकिन किसी ने फोन का जवाब नहीं दिया।

“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा     |     जन-जन को जोड़ें “महाकाल लोक” के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान     |     Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस     |     राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ     |     विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला     |     मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों ‘झूठ दिआं पंडां     |     कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा     |     करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा     |     स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित     |     दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201