Breaking
कानपुर में बड़ा हादसा जनपद में हुए दर्जनों कार्यक्रम, सांसद रह चुके हैं नरेश अग्रवाल समाज में उल्लेखनीय योगदान के लिए ’पद्मश्री मदन चौहान और पद्मश्री शमशाद बेगम सहित 16 वरिष्ठ नागरिक हु... मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पंडरिया में 68 करोड़ 87 लाख रूपए के 81 कार्यो का किया लोकार्पण और भूमिपूजन 85 मामलों में जब्त की थी हेरोइन, चरस, गांजा और नशीली गोलियां, वीडियो-फोटोग्राफी हुई अशोक गहलोत फिर दिखाएंगे जादू या सचिन पायलट बनेंगे मुख्यमंत्री, क्या होगा सोनिया गांधी का फैसला? कबाड़ी दुकान में चोरी के बाद बदमाशों ने लगाई आग ट्यूशन टीचर ने बच्ची को गर्म चिमटे से जलाया धरती से निकली हैं धमतरी की मां विंध्यवासिनी, देश विदेश से दर्शन करने आते हैं श्रद्धालु दिसंबर 2023 तक हर भारतीय के लिए 5जी लाएगी जियो : मुकेश अंबानी

लॉकडाउन को मजाक मत बनाओ

एम रितेश की रिपोर्ट / मध्य प्रदेश में लॉकडाउन तोड़ने वालों को अब पुलिस अनोखे तरीके से सजा दे रही है,कोरोना को रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन लागू है, महामारी कोरोना को अभी भी कुछ गंभीरता से नहीं ले रहे हैं… पुलिस और प्रशासन लगातार लोगों से अपील कर रहा है कि वो घरों में रहें… जरूरी होने पर बाहर निकलने के लिए भी कुछ गाइडलाइन बनाई गई हैं… जो लोग इनका पालन नहीं कर रहे हैं उनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई भी कर रही है… बैतूल में पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को अनोखी सजा दी… बैतूल में गंज रेलवे अंडर ब्रिज के पास पुलिस चेकिंग कर रही थी.. कई लोग मोटरसाइकलों पर आते दिखाई दिए… जबकि लॉकडाउन के कारण बाइक पर केवल चलाने वाला ही सफर कर सकता है… फिर क्या था… पुलिस ने सभी मोटरसाइकलों को रस्सी से बांध दिया और उनके मालिकों से कहा कि वो इनको पैदल ही ले जाएं.. ,लगभग 1 किलोमीटर तक बाइक सवार मोटरसाइकिलो को पैदल ले कर गए। पुलिस का कहना है कि लॉकडाउन के कारण बाइक पर दो लोगों के बैठने पर रोक लगी है, ऐसे लोगों के खिलाफ चालान काटा जा रहा है जिनके पास पैसे नहीं है, उनसे पैदल ही बाइक खिंचवाई जा रही है। इसका मकसद ये है कि लोग लॉकडाउन का उल्लंघन ना करें। कोरोना को रोकने के लिए प्रशासन पूरी कोशिश कर रहा है, लोगों से घरों में रहने को कहा जा रहा है,ज्यादातर लोग कोरोना के खिलाफ सरकार की लड़ाई में सहयोग भी दे रहे हैं, लेकिन कुछ लोग अभी भी हालात की गंभीरता को नहीं समझ रहे हैं।

इंदौर में कोरोना महामारी का प्रकोप सबसे ज्यादा है,लोग घर से बाहर ना निकलें, इसके लिए जरूरी सामानों की होम डिलिवरी की जा रही है, लेकिन कुछ लोग ऑनलाइन ऑर्डर सुविधा का ही मजाक बना रहे हैं। सिर्फ चेक करने के लिए एक शख्स ने एक साबुन का ऑर्डर दिया तो दूसरे शख्स ने ब्लैंक ऑर्डर दिया
इंदौर में कोरोना से बचने के लिए लोगों को घरों से ना निकलने की हिदायत दी गई है, जरूरी सामान पहुंचाने के लिए निगम ने ऑनलाइन ऑर्डर की सुविधा शुरू की है, जिस से लोगों को घर बैठे ही सभी जरूरी सामान मिल सकें, लेकिन इंदौर के कुछ लोगों ने इस सुविधा का ही मजाक बना दिया। जोन नंबर 19 में एक शख्स के ऑर्डर की कॉपी निकाली गई तो पता चला कि उसने केवल 1 साबुन का ऑर्डर दिया है, बस इसके बाद क्या था जोनल अधिकारी वैभव देवालसे ने ऑर्डर देने वाले का एड्रेस निकाला और पहुंच गए उनके घर, वहां पर साबुन का ऑर्डर देने वाले को लगड़ा सबक सिखाया, जोनल अधिकारी वैभव देवालसे ने कहा कि
“कितना क्लियरकट सिस्टम है, शिकायत आती है उसका प्रिंट निकालते है, प्रिंट निकाल कर किराना वाले के पास जाते हैं, अगर आपको वो सर्विस नहीं मिलती है तो हम लोगों को तब तक उस पर अटेंड रहना पड़ता है, जब तक आपको सर्विस नहीं मिल जाती, आप घर पर बैठे हो सुरक्षित, जितने लोग इस पर लगे हं वो अपनी जान रिस्क में डाल कर काम कर रहे हैं कि आप लोगों को सेवा घर पर मिल जाए और घर से बाहर ना निकलें, आप बैठे बैठे कितने अच्छे से टाइम पास कर रहे हैं, सरकारी कर्मचारियों और सरकारी संपत्तियों का कितने अच्छे तरीके से यूज कर रहे हैं, मतलब आप के लिए ये हो गया कि देखूं तो सही कि क्या हो रहा है”
इसके बाद वैभव देवालसे ने कहा कि
“आपको इस ऑफेंस के अंदर में गाड़ी में बिठाकर थाने में बंद करा सकता हूं, आपको इतना बढ़िया टच करूंगा कि आप जीवन में ये तो इतना दिखा रहे हो, ये आप सब भूल जाओगे श्रीमानजी
आप पारिवारिक लोग दिख रहे हैं बाकी ये जो मजाक लगा रखा है ये आपकी सही में समस्या होती है तो आप लोग शिकायत करते हैं, पर आपने ये जो खिलवाड़ लगा रखा है ना, मैं आपको अभी गाड़ी में वास्तव में ले जा सकता हूं, और आपको थाने में वो टच कराऊंगा, जो आपने अपने जीवन में कभी टच नहीं देखा होगा कि कैसे टच होती हैं उंगलियां, इतनी बढ़िया उंगलियां टच कराऊंगा”
जिसके बाद ऑर्डर देने वाले शख्स ने माफी मांगी
वहीं शहर के ही एक और युवक ने निगम की ऑनलाइन सुविधा चेक करने के लिए ब्लैंक ऑर्डर ही दे दिया.. इस लड़के को भी जोनल अधिकारी वैभव देवालसे ने सबक सिखाया, अधिकारी ने उस लड़के से उठक बैठक लगवाई और कायदे से समझाया कि फिर से ऐसा ना करे। ऐसे लोग कोरोना के खिलाफ लड़ रहे लोगों की परेशानी बढ़ा रहे हैं, प्रशासन लगातार लोगों से अपील कर रहा है कि जरूरत होने पर ही कोई ऑर्डर दें, केवल मजा लेने के लिए या फिर टाइमपास करने के लिए इन सुविधाओं का दुरुपयोग ना करें।

कानपुर में बड़ा हादसा     |     जनपद में हुए दर्जनों कार्यक्रम, सांसद रह चुके हैं नरेश अग्रवाल     |     समाज में उल्लेखनीय योगदान के लिए ’पद्मश्री मदन चौहान और पद्मश्री शमशाद बेगम सहित 16 वरिष्ठ नागरिक हुए सम्मानित     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पंडरिया में 68 करोड़ 87 लाख रूपए के 81 कार्यो का किया लोकार्पण और भूमिपूजन     |     85 मामलों में जब्त की थी हेरोइन, चरस, गांजा और नशीली गोलियां, वीडियो-फोटोग्राफी हुई     |     अशोक गहलोत फिर दिखाएंगे जादू या सचिन पायलट बनेंगे मुख्यमंत्री, क्या होगा सोनिया गांधी का फैसला?     |     कबाड़ी दुकान में चोरी के बाद बदमाशों ने लगाई आग     |     ट्यूशन टीचर ने बच्ची को गर्म चिमटे से जलाया     |     धरती से निकली हैं धमतरी की मां विंध्यवासिनी, देश विदेश से दर्शन करने आते हैं श्रद्धालु     |     दिसंबर 2023 तक हर भारतीय के लिए 5जी लाएगी जियो : मुकेश अंबानी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201