स्कूलों में नल कनेक्शन की शत प्रतिशत उपलब्धता सुनिश्चित करें: कलेक्टर

बिलासपुर । कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने मंथन सभाकक्ष में समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक ली। बैठक में उन्होंने जिले में विकास और निर्माण कार्यों की प्रगति के साथ ही राज्य शासन की फ्लैगशीप योजनाओं की विस्तार से समीक्षा की और संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के अंतर्गत स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों में नल कनेक्शन की उपलब्धता के संबंध में जानकारी संबंधित अधिकारियों से ली। कलेक्टर ने सभी आंगनबाड़ी केंद्रों और स्कूलों में नल कनेक्शन की शत प्रतिशत उपलब्धता समय-सीमा में सुनिश्चित कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।
बैठक में कलेक्टर ने स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूलों की समीक्षा की। कलेक्टर ने चकरभाठा, मस्तूरी, कोटा तथा तखतपुर के अंग्रेजी माध्यम स्कूलों के निर्माण कार्य तय समय में पूरा करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। कलेक्टर डॉ. मित्तर ने इन स्कूलों को विजिट कर रिपोर्ट देने के निर्देश भी जिला शिक्षा अधिकारी को दिए। कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने स्वामी आत्मांनद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल को शासन की महत्वाकांक्षी योजना बताते हुए स्कूलों के निर्माण एवं अन्य आवश्यक सुविधाएं तय समय सीमा में उपलब्ध कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।
नामांतरण, बंटवारे और सीमांकन तथा डिजिटल हस्ताक्षरितकृत खसरों के संबंध में ली जानकारी, -
कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने राजस्व मामलों की समीक्षा करते हुए डिजिटल हस्ताक्षरित खसरों की जानकारी ली। सभी तहसील एवं एसडीएम कार्यालयों में डिजिटल हस्ताक्षर से सत्यापित अभिलेखों का प्रतिशत बढ़ाने के निर्देश दिए। गौरतलब है कि जिले के सभी तहसीलों में डिजिटल हस्ताक्षर से सत्यापित अभिलेखों का प्रतिशत 97 प्रतिशत से अधिक है। डिजिटल हस्ताक्षर से सत्यापित अभिलेखों के संबंध में जिले का, प्रतिशत आधार पर प्रदेश में दूसरा स्थान है। समीक्षा करते हुए कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने विवादित नामांतरणों की संख्या कम करने तथा लंबित राजस्व प्रकरणों को तय समय-सीमा में निपटारा करने के निर्देश उपस्थित राजस्व अधिकारियों को दिए। कलेक्टर डॉ. मित्तर ने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए गोबर खरीदी, गौठानों की स्थिति तथा वर्मी कम्पोस्ट आदि के संबंध में भी जानकारी संबंधित अधिकारियों से ली। कलेक्टर ने वर्मी कम्पोस्ट की नियमित एंट्री करने तथा कंवर्जन रेट बढ़ाने के निर्देश भी संबंधित अधिकारियों को दिए।
कलेक्टर ने मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की समीक्षा करते हुए गंभीर कुपोषित बच्चों को कुपोषण से दूर करने के लिए कार्ययोजना बनाकर इसका क्रियान्वयन करने के लिए कहा। शिशुवती माताओं के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों में गर्म भोजन की योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए ताकि अधिक से अधिक शिशुवती माताओं को लाभान्वित किया जा सके। इसके अलावा बैठक में धान खरीदी, बच्चों के टीकाकरण, जिले में चल रहे विकास कार्यों की प्रगति, धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर के संचालन सहित अन्य योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री हरिश एस. सहित सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।
 

राज्य सरकार ने सबका साथ सबका विकास पर काम किया : वित्त मंत्री देवड़ा     |     मुख्यमंत्री चौहान ने बॉटल ब्रश, आम और कचनार के पौधे लगाए     |     चमकाने के बहाने जालसाज फिर जेवर लेकर हुए फरार     |     मुख्यमंत्री चौहान ने संत रविदास की जयंती पर नमन किया     |     जनता की जिन्दगी बदलने का अभियान है विकास यात्रा : मुख्यमंत्री चौहान     |     परवेज मुशर्रफ का 79 वर्ष की उम्र में हुआ निधन     |     अब 15 मिनट में खुलेंगे किसानों के खाते     |     कराची में अहमदी समुदाय की मस्जिद में उपद्रवियों ने की तोड़फोड़     |     भाषा और धर्म के आधार पर देश को बांटा जा रहा : कमलनाथ     |     कर्नाटक में कांग्रेस ने ‘प्रजा ध्वनि यात्रा’ शुरू की     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201