Breaking
आपके पास पर्याप्त समय है, इसका सही उपयोग करे, कट एंड पेस्ट कर रिसर्च कार्य न करें IED ब्लास्ट की चपेट में आकर CRPF जवान शहीद डायबिटीज़ के मरीज़ ये फल ज़रूर खाए 46 करोड़ है मकान की लागत, 7 सितंबर को हुई थी कार्रवाई भगवान राम ने तोड़ा शिव धनुष, लक्ष्मण और परशुराम संवाद पर भाव-विभोर हुए लोग चायपत्ती के बैग बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | How to Start Tea Bag Making Business Plan In Hindi कटनी "पिपरहटा" का मां विंध्यवासिनी देवीधाम बिहार की महिला अधिकारी ने सैनिटरी पैड के सवाल पर स्कूली छात्रा को दिया बेतूका जवाब अमेरिका ने अपने नागरिकों से तुरंत रूस छोड़ने का किया आग्रह जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में रहस्यमय विस्फोट, दो घायल

मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के ताप विद्युत गृहों द्वारा 97.31 प्रतिशत पीएलएफ अर्जित

भोपाल : ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने जानकारी दी कि मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के चार ताप विद्युत गृहों द्वारा आज 4 फरवरी को दोपहर 12.08 बजे 97.31 प्रतिशत प्लांट लोड फैक्टर (पीएलएफ) अर्जित किया गया। यह प्रदेश में ताप विद्युत उत्पादन का अभी तक का सर्वाधिक पीएलएफ है। जिस समय यह पीएलएफ अर्जित किया गया, उस समय प्रदेश के चारों ताप विद्युत उत्पादन गृह द्वारा 4447 मेगावाट विद्युत उत्पादन किया गया। वर्तमान में प्रदेश में ताप विद्युत उत्पादन की उपलब्ध क्षमता 4570 मेगावाट है। मध्यप्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर एवं प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय दुबे ने मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी द्वारा यह उपलब्ध‍ि अर्जित करने पर हर्ष व्यक्त करते हुए अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई, सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी, संजय गांधी ताप विद्युत गृह बिरसिंगपुर एवं श्री सिंगाजी ताप विद्युत गृह खंडवा के सभी अभियंताओं तथा कार्मिकों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि विद्युत अभियंता और कार्मिक इसी प्रकार कर्त्तव्य तथा समर्पण की भावना से कार्य करते हुए प्रदेश में रोशनी के लिए 24 घंटे एवं कृषि‍कार्य के लिये 10 घंटे बिजली प्रदान करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहेंगे।

श्री सिंगाजी ताप विद्युत गृह का नया रिकार्ड

पावर जनरेटिंग कंपनी के डायरेक्टर कॉमर्श‍ियल श्री प्रतीश कुमार दुबे ने बताया कि 2520 मेगावाट स्थापित क्षमता के श्री सिंगाजी ताप विद्युत गृह दोंगलिया-खंडवा द्वारा आज उस समय नया रिकार्ड कायम किया गया, जब इस ताप विद्युत गृह के द्वारा अपनी स्थापित क्षमता से अधिक 2550 मेगावाट विद्युत उत्पादन किया गया। विद्युत गृह द्वारा 101 प्रतिशत पीएलएफ हासिल किया गया।

सारनी की 250-250 मेगावाट की यूनिटों ने भी किया क्षमता से अधिक उत्पादन

श्री प्रतीश कुमार दुबे ने जानकारी दी है कि सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी के विद्युत गृह क्रमांक चार की 250-250 मेगावाट की दोनों इकाइयों ने अपनी स्थापित क्षमता के मुकाबले 502 मेगावाट उत्पादन किया।

चचाई और बिरसिंगपुर का बेहतर प्रदर्शन

अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई की 210 मेगावाट क्षमता की इकाई ने आज 206 मेगावाट और संजय गांधी ताप विद्युत गृह (क्षमता 1340 मेगावाट) ने 1189 मेगावाट विद्युत उत्पादन किया।

आपके पास पर्याप्त समय है, इसका सही उपयोग करे, कट एंड पेस्ट कर रिसर्च कार्य न करें     |     IED ब्लास्ट की चपेट में आकर CRPF जवान शहीद     |     डायबिटीज़ के मरीज़ ये फल ज़रूर खाए     |     46 करोड़ है मकान की लागत, 7 सितंबर को हुई थी कार्रवाई     |     भगवान राम ने तोड़ा शिव धनुष, लक्ष्मण और परशुराम संवाद पर भाव-विभोर हुए लोग     |     चायपत्ती के बैग बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | How to Start Tea Bag Making Business Plan In Hindi     |     कटनी “पिपरहटा” का मां विंध्यवासिनी देवीधाम     |     बिहार की महिला अधिकारी ने सैनिटरी पैड के सवाल पर स्कूली छात्रा को दिया बेतूका जवाब     |     अमेरिका ने अपने नागरिकों से तुरंत रूस छोड़ने का किया आग्रह     |     जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में रहस्यमय विस्फोट, दो घायल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201