Breaking
आइएएस नियाज खान ने मुस्लिमों को दी गोरक्षक बनने और शाकाहार अपनाने की सलाह देवशयनी एकादशी के दिन करें इन मंत्रों का जाप भगवान विष्णु होंगे प्रसन्न देंगे मनोवांछित वरदान चंबल नदी में नहाने गए सात दोस्तों में से दो डूबे एक का शव मिला 30 से ज्यादा तत्वों से बना है आपका मोबाइल 3 धातुएं तो बेहद दुर्लभ जानें कैसे है धरती को खतरा साहित्य रचना को अविरल बहने प्रेरित करती हैं मेरी मां कुरुक्षेत्र में किसानों पर लाठीचार्ज का मुद्दा गरमाया धरना प्रदर्शन जारी राष्ट्रपति ने दी अनुमति हुक्का बार के संचालन पर प्रतिबंध के लिए अधिनियम में होगा संशोधन तीन बच्चों की मां ने कीटनाशक पी लिया उपचार के दौरान हुई मौत काली पट्टी बांधकर उतरी भारत-ऑस्ट्रेलिया की टीम उड़ीसा ट्रेन हादसे पर जताया शोक इस पौधे को करियर के लिए माना जाता है लकी तनाव मुक्त होता है जीवन

 तुलार पहाड़ पर सड़क बनाने का विरोध में नक्सलियों ने दी धमकी 

छत्तीसगढ़ के बस्तर में सक्रिय माओवादी इन दिनों लगातार प्रेस नोट जारी कर सरकार व पुलिस प्रशासन की चुनौती दे रहे हैं। नक्सलियों ने अब तक बीजापुर जन अदालत, नारायणपुर मुठभेड़, तेलंगाना में नक्सली हिड़मा के समर्पण, पत्रकारों पर वसूली, सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने सहित कई मुद्दों पर प्रेस नोट जारी किया है। बस्तर में नक्सलियों की माड़ डिवीजन कमेटी ने शुक्रवार को प्रेस नोट जारी कर सरकार के चमचों को सजा देने की खुली चेतावनी दी है।

माओवादियों की माड़ डिवीजन कमेटी द्वारा जारी प्रेस नोट में बस्तर के मंगनार से तुलार तक बनने वाली सड़क को लेकर नक्सलियों में आक्रोश जताया है। नक्सलियों ने कहा है कांग्रेस सरकार के दलाल तुलार पहाड़ को बेच रहे हैं। जो कतई बर्दाश्त नहीं होगा, तुलार पहाड़ बेचने वालों को जन अदालत लगाकर कड़ी सजा दी जाएगी। तुलार पहाड़ को लोग तुलार धाम के नाम से भी जानते हैं। नक्सलियों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि विकास के नाम पर सरकार सड़क बना रही है, जिससे लाखों पेड़-पौधों की बलि चढ़ा दी जाएगी। नक्सलियों ने यह भी कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद इनके चमचे जल, जंगल, जमीन को खत्म करने में लगे हैं, जिन्हें सजा दी जाएगी।

नक्सलियों ने तुलार पहाड़ बेचने व सड़क बनाकर पेड़ पौधों को नुकसान पहुंचाने वाले ठेकेदार व मंगनार के पूर्व सरपंच मानकू राम, बारसूर के गद्दार जगत पुजारी व कांग्रेस सरकार के चमचे नेताओं को सबक सिखाने की बात लिखी है। नक्सलियों का आरोप है कि यह सभी अपने निजी स्वार्थ के लिए तुलार पहाड़ को पूंजीपतियों के हाथों सौंपना चाहते हैं। नक्सलियों ने यह भी कहा है कि जल, जंगल, जमीन आदिवासियों की है। सड़क बनने के बाद पुलिस यहां प्रवेश करेगी और मासूम आदिवासियों को नक्सली बताकर एनकाउंटर कर देगी।

आइएएस नियाज खान ने मुस्लिमों को दी गोरक्षक बनने और शाकाहार अपनाने की सलाह     |     देवशयनी एकादशी के दिन करें इन मंत्रों का जाप भगवान विष्णु होंगे प्रसन्न देंगे मनोवांछित वरदान     |     चंबल नदी में नहाने गए सात दोस्तों में से दो डूबे एक का शव मिला     |     30 से ज्यादा तत्वों से बना है आपका मोबाइल 3 धातुएं तो बेहद दुर्लभ जानें कैसे है धरती को खतरा     |     साहित्य रचना को अविरल बहने प्रेरित करती हैं मेरी मां     |     कुरुक्षेत्र में किसानों पर लाठीचार्ज का मुद्दा गरमाया धरना प्रदर्शन जारी     |     राष्ट्रपति ने दी अनुमति हुक्का बार के संचालन पर प्रतिबंध के लिए अधिनियम में होगा संशोधन     |     तीन बच्चों की मां ने कीटनाशक पी लिया उपचार के दौरान हुई मौत     |     काली पट्टी बांधकर उतरी भारत-ऑस्ट्रेलिया की टीम उड़ीसा ट्रेन हादसे पर जताया शोक     |     इस पौधे को करियर के लिए माना जाता है लकी तनाव मुक्त होता है जीवन     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201