Breaking
बकरी चोरी के शक में युवक की पीट-पीटकर हत्या सफल बनने के लिए रखें इन मंत्रों का ध्यान गुरुकुल स्कूल मडरिया रही विजेता, डीएफओ ने पुरस्कार देकर किया सम्मानित Business for College Students : कॉलेज स्टूडेंट्स पढ़ाई के साथ–साथ ये शानदान बिज़नेस करें, होगी तगड़ी कम... खुशखबरी: टाटानगर से पटना तक चलेगी तेजस एक्सप्रेस मां-बेटी-बेटे पर एसिड अटैक, 5 दिन बाद भी दर्ज नहीं हुई FIR आतंकी योग को 2 AK56, 1 पिस्टल और 1 टिफिन बम के साथ किया गिरफ्तार सरकार को दी चेतावनी, कहा- जल्द मांगें पूरी नहीं की तो करेंगे बड़ा आंदोलन जबलपुर होकर जाएगी पटना-सिकंदराबाद स्पेशल ट्रेन 27 अक्टूबर से 1070 एकड़ प्रोजेक्ट में राइट्स बढ़ाने की रखी डिमांड, IFSC-यूनिवर्सिटी का दिया प्रपोजल

अगले 2 दिन कड़ाके की ठंड ढाएगी सितम, छाएगा घना कोहरा; IMD ने किया अलर्ट

Weather Update: भारत मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ की वजह से भारत के कई राज्यों में बारिश हो सकती है. इसके अलावा सर्दी भी बढ़ेगी.

नई दिल्ली: सर्दी (Winter) के बीच अब कोहरा (Fog) लोगों की परेशानी बढ़ाने वाला है. पंजाब (Punjab), हरियाणा (Haryana), चंडीगढ़ (Chandigarh), दिल्ली (Delhi) और पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) सहित उत्तर पश्चिमी भारत में अगले चार दिनों तक कोहरा छाया रहेगा.

करना पड़ेगा भीषण ठंड का सामना

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, कोहरे के अलावा, अगले दो दिनों तक जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा-चंडीगढ़ और उत्तर प्रदेश में ठंड से लेकर भीषण ठंड की स्थिति बने रहने की संभावना है. हालांकि मौसम एजेंसी ने ये भी कहा कि अगले 4 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिमी भारत के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 3-5 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने और उसके बाद गिरने की संभावना है.

किन राज्यों में होगी बारिश?

मौसम विभाग ने आगे बताया कि एक और पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में, 8-9 फरवरी के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में मध्यम बारिश या बर्फबारी होने की संभावना है और इसी दौरान पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के उत्तरी हिस्सों में अलग-अलग जगहों पर हल्की बारिश होने की भी संभावना है.

प्रदूषण का स्तर हुआ कम

इस बीच प्रदूषण का स्तर थोड़ा कम हो गया है क्योंकि दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) पीएम-10 के स्तर पर 150 और पीएम-2.5 के स्तर पर 89 दर्ज किया गया है.

चूंकि पीएम-10 उच्च स्तर पर है, इसलिए सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) ने एकस्वास्थ्य सलाह जारी की है, जिसमें कहा गया है कि संवेदनशील लोगों को भारी मेहनत और आउटडोर लंबे समय तक मेहनत वाले काम से बचें.

वहीं पीएम 2.5 का स्तर भी मध्यम श्रेणी में दर्ज किया गया है. आमतौर पर जब एक्यूआई 0 से 50 के बीच होता है तो वायु गुणवत्ता को अच्छा माना जाता है. इसके अलावा 51-100 के बीच इसे ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘मध्यम’, 201-300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘बहुत खराब’, 401-500 के बीच ‘गंभीर’ और 500 से अधिक पर ‘खतरनाक’ माना जाता है.

बकरी चोरी के शक में युवक की पीट-पीटकर हत्या     |     सफल बनने के लिए रखें इन मंत्रों का ध्यान     |     गुरुकुल स्कूल मडरिया रही विजेता, डीएफओ ने पुरस्कार देकर किया सम्मानित     |     Business for College Students : कॉलेज स्टूडेंट्स पढ़ाई के साथ–साथ ये शानदान बिज़नेस करें, होगी तगड़ी कमाई     |     खुशखबरी: टाटानगर से पटना तक चलेगी तेजस एक्सप्रेस     |     मां-बेटी-बेटे पर एसिड अटैक, 5 दिन बाद भी दर्ज नहीं हुई FIR     |     आतंकी योग को 2 AK56, 1 पिस्टल और 1 टिफिन बम के साथ किया गिरफ्तार     |     सरकार को दी चेतावनी, कहा- जल्द मांगें पूरी नहीं की तो करेंगे बड़ा आंदोलन     |     जबलपुर होकर जाएगी पटना-सिकंदराबाद स्पेशल ट्रेन 27 अक्टूबर से     |     1070 एकड़ प्रोजेक्ट में राइट्स बढ़ाने की रखी डिमांड, IFSC-यूनिवर्सिटी का दिया प्रपोजल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201