Breaking
जिले में 25 जनवरी को मनाया जाएगा 13वां ’राष्ट्रीय मतदाता दिवस’-जिलाधिकारी चावलों की कालाबाजारी ! चेकिंग में पकड़ा गया गरीबों को बंटने वाला चावलों से भरा ट्रक चलती ट्रेन से कूदी जिला पंचायत अध्यक्ष और नगर पालिका अध्यक्ष, बड़ा हादसा टला अन्नपूर्णा माता मंदिर में सुबह होगी मूर्तियों की स्थापना, शाम को दर्शन कर सकेंगे भक्त गेहूं में रेत-मिट्टी के मिलावट मामले में छह के विरुद्ध मामला दर्ज, वायरल हुआ था वीडियो ऑपरेशन धरपकड़ में 62 वांछित गिरफ्तार रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों का कुपोषण दूर करने के लिए मिलेगा शहद-च्यवनप्राश इसरो के अंतरिक्ष यात्रियों को ट्रेनिंग देगा नासा मुंबई के 27 प्रतिशत नागरिक मधुमेह से पीड़ित

जेफ बेजोस की नाव को समद्र तक ले जाने के लिए तोड़ना पड़ेगा ऐतिहासिक पुल, बेजोस देंगे पूरा खर्चा 

रॉटर्डम । दुनिया के सबसे अमीर अरबपतियों में शामिल जेफ बेजोस की विश्‍व की सबसे विशालकाय नौका वाई721 नीदरलैंड में बड़े विवाद में फंस गई है। यह नौका इतनी बड़ी है कि उसको रास्‍ता देने के लिए रॉटर्डम शहर में स्थित ऐतिहासिक पुल के एक हिस्‍से को तोड़ना पड़ा है। इससे रॉटर्डम के स्‍थानीय लोग बुरी तरह से भड़के हुए हैं। रॉटर्डम शहर के प्रशासन ने जहां इस तोड़फोड़ को मंजूरी दे दी है, वहीं अब शहरवासियों ने बेजोस की नाव पर हजारों की तादाद में अंडे बरसाने का फैसला किया है। जेफ बेजोस की यह आलीशान नौका 417 फुट ऊंची है और इसे बनाने में करीब 43.65 अरब रुपए का खर्च आया है। अब यह नौका तैयार है और पहली बार समुद्र की लहरों पर सैर के लिए निकलने वाली है।
रॉटर्डम शहर के करीब 4 हजार लोगों ने फेसबुक पर इस नौका पर अंडे बरसाने में रुचि दिखाई है। इस नौका को ओसेना शिपयार्ड में बनाया गया हैस, लेकिन उसे समुद्र तक पहुंचने के लिए कोनिंगशेवेन ब्रिज से गुजरना होगा। इस ब्रिज के नीचे से 130 फुट तक के जहाजों को ही निकलने की अनुमति है। जेफ बेजोस की अरबों की यह नाव 417 फुट ऊंची है और उसको समुद्र तक ले जाने के लिए ऐतिहासिक पुल को तोड़ना होगा जिसका खर्चा बेजोस दे रहे हैं।
144 साल पुराने कोनिंगशेवेन ब्रिज को 1878 में बनाया गया था। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान नाजी सेना ने इस पुल पर बमबारी की थी और इसे दोबारा बनाया गया था। वर्ष 2017 में इस ब्रिज की मरम्मत की गई थी और तब लोकल काउंसिल ने वादा किया था कि वह कभी भी इस ब्रिज के साथ छेड़छाड़ नहीं करेगा। स्थानीय सरकार अब इसके फायदे बताने में लगी है। सरकार का कहना है कि बेजोस की आलीशान नौका से बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिला है। साथ ही सरकार ने कहा कि बेजोस की नौका गुजरने के बाद ब्रिज को फिर से बनाया जाएगा। वाई721 के बारे में हाल ही में जेफ बेजोस से जुड़ी एक किताब में भी जिक्र किया गया है। इसमें कहा गया है कि यह सुपरयाट वर्तमान समय में मौजूद सबसे ज्‍यादा अच्‍छे से चलने वाले जहाजों में से एक है।
बताया जा रहा है कि जेफ बेजोस का यह महाविशालकाय याट अंतरिक्ष से भी देखा जा सकेगा। इसका अपना एक अन्‍य सपोर्ट याट भी होगा। इसमें हेल‍िपैड भी बना होगा। जेफ बेजोस अपना समय बचाने के लिए दुनिया के सबसे तेज विमान गल्‍फस्‍ट्रीम जी-650ईआर प्राइवेट जेट का इस्‍तेमाल करते हैं। इसकी कीमत करीब 6.5 करोड़ डॉलर है। वर्ष 2017 में जेफ बेजोस ने फूड ग्रोसरी चेन को 13.7 अरब डॉलर में खरीदा था। दुनिया की सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनी चलाने वाले बेजोस अब अंतरिक्ष की यात्रा पर रवाना होने जा रहे हैं। बेजोस ने साल 2000 में ब्लू ओरिजिन की स्थापना की थी।

जिले में 25 जनवरी को मनाया जाएगा 13वां ’राष्ट्रीय मतदाता दिवस’-जिलाधिकारी     |     चावलों की कालाबाजारी ! चेकिंग में पकड़ा गया गरीबों को बंटने वाला चावलों से भरा ट्रक     |     चलती ट्रेन से कूदी जिला पंचायत अध्यक्ष और नगर पालिका अध्यक्ष, बड़ा हादसा टला     |     अन्नपूर्णा माता मंदिर में सुबह होगी मूर्तियों की स्थापना, शाम को दर्शन कर सकेंगे भक्त     |     गेहूं में रेत-मिट्टी के मिलावट मामले में छह के विरुद्ध मामला दर्ज, वायरल हुआ था वीडियो     |     ऑपरेशन धरपकड़ में 62 वांछित गिरफ्तार     |     रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया     |     तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों का कुपोषण दूर करने के लिए मिलेगा शहद-च्यवनप्राश     |     इसरो के अंतरिक्ष यात्रियों को ट्रेनिंग देगा नासा     |     मुंबई के 27 प्रतिशत नागरिक मधुमेह से पीड़ित     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201