Breaking
RBI ने रेपो रेट में बढ़ोतरी का किया एलान, होम लोन की EMI में होगा इजाफा.. सिवनी में कार को ट्रक ने टक्कर मारी, 4 की मौत वरुण ग्रोवर द्वारा निर्देशित 'ऑल इंडिया रैंक' का हुआ इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ रॉटरडैम में वर्ल्ड ... LIC का पैसा अडानी की कंपनी में क्यों डाला गया? PM के साथ क्या रिश्ता है? : लोकसभा में प्रधानमंत्री म... कुछ पार्टियां बाल विवाह के नाम पर साम्प्रदायिकता फैलाने की कोशिश कर रही हैं : एनसीपीसीआर चीफ दिल्ली हाईकोर्ट ने महिला कैदी के वर्जिनिटी टेस्ट को माना असंवैधानिक, जानें क्या कहा? संसद में अचानक सोनिया गांधी की बिगड़ी तबीयत, मां को बेचैन होते देख राहुल गांधी ने पिलाया पानी बाबा भोलेनाथ के दर्शन का बना रहे हैं मन तो इन शिव मंदिरों में जरूर जाएं कर्नाटक देश की लगभग 50 फीसदी नवीकरणीय ऊर्जा उत्पन्न करता है : बोम्मई केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में चार फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है सरकार

कोरोना संक्रमित छात्र भी दे सकेंगे एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षा, किए जाएंगे खास इंतजाम

MP Board Exam मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (एमपी बोर्ड) की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में अब कोरोना संक्रमित छात्र भी शामिल हो सकेंगे। मध्य प्रदेश में 17 फरवरी से बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो रही हैं। 12वीं की परीक्षा 17 फरवरी से शुरू होकर 12 मार्च तक चलेगी।

भोपाल। अब कोरोना संक्रमित छात्र मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (एमपी बोर्ड) की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में भी शामिल हो सकेंगे। ऐसे छात्रों के लिए परीक्षा केंद्र में अलग से आइसोलेशन रूम बनाया जाएगा, जहां छात्र बैठकर परीक्षा दे सकेंगे। छात्र को अपनी बीमारी के बारे में एमपी बोर्ड को पहले से सूचित करना होगा। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की मंगलवार को हुई बोर्ड बैठक में यह फैसला लिया गया। बता दें कि मध्य प्रदेश में 17 फरवरी से बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो रही हैं। 12वीं की परीक्षा 17 फरवरी से शुरू होकर 12 मार्च तक चलेगी। वहीं 10वीं का पेपर 18 फरवरी से शुरू होकर 10 मार्च तक चलेगा। इसमें करीब 18 लाख छात्र हिस्सा लेंगे। परीक्षार्थियों को सुबह 8.30 बजे परीक्षा देनी होगी। छात्रों को सुबह 8.45 बजे तक ही केंद्र में प्रवेश की अनुमति होगी।

नेत्रहीन, मानसिक रूप से विक्षिप्त छात्रों को भी मिलेगी राहत

बोर्ड ने परीक्षा के दौरान दिव्‍यांग या घायल छात्रों को कई तरह से राहत देने का भी फैसला किया है। जो छात्र दृष्टिबाधित, मानसिक रूप से विकलांग और हाथ टूटने या हाथ की खराबी के कारण लिखने में असमर्थ हैं, वे लिखने के लिए किसी की मदद ले सकते हैं। उन्हें विषय चयन, अतिरिक्त समय, परीक्षा शुल्क से छूट, कंप्यूटर या टाइपराइटर चयन की सुविधा दी जाएगी। पहले कोरोना के चलते परीक्षाएं आगे बढ़ाने की बात कही जा रही थी, लेकिन स्कूल शिक्षा मंत्री ने साफ किया कि अब मध्य प्रदेश में कोरोना के मामले कम हो रहे हैं, ऐसे में बोर्ड की परीक्षाएं तय टाइम टेबल पर ही ली जाएंगी।

RBI ने रेपो रेट में बढ़ोतरी का किया एलान, होम लोन की EMI में होगा इजाफा..     |     सिवनी में कार को ट्रक ने टक्कर मारी, 4 की मौत     |     वरुण ग्रोवर द्वारा निर्देशित ‘ऑल इंडिया रैंक’ का हुआ इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ रॉटरडैम में वर्ल्ड प्रीमियर     |     LIC का पैसा अडानी की कंपनी में क्यों डाला गया? PM के साथ क्या रिश्ता है? : लोकसभा में प्रधानमंत्री मोदी पर गरजे राहुल गांधी     |     कुछ पार्टियां बाल विवाह के नाम पर साम्प्रदायिकता फैलाने की कोशिश कर रही हैं : एनसीपीसीआर चीफ     |     दिल्ली हाईकोर्ट ने महिला कैदी के वर्जिनिटी टेस्ट को माना असंवैधानिक, जानें क्या कहा?     |     संसद में अचानक सोनिया गांधी की बिगड़ी तबीयत, मां को बेचैन होते देख राहुल गांधी ने पिलाया पानी     |     बाबा भोलेनाथ के दर्शन का बना रहे हैं मन तो इन शिव मंदिरों में जरूर जाएं     |     कर्नाटक देश की लगभग 50 फीसदी नवीकरणीय ऊर्जा उत्पन्न करता है : बोम्मई     |     केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में चार फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है सरकार     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201