Breaking
“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता... विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

आधुनिक पद्धति की खेती से कम लागत में ज्यादा मुनाफा ले रहे हैं सुनील

भोपाल : प्रदेश केकिसान अब परम्परागत खेती को छोड़कर नई तकनीक अपनाकर आधुनिक और अंतरवर्तीय खेती कर रहे हैं। इन्हीं में से एक है मंदसौर जिले के गाँव अमलावद के किसान श्री सुनील पाटीदार। श्री पाटीदार को आधुनिक पद्धति से खेती की जानकारी नहीं थी। कृषि विभाग से संपर्क करने पर वहाँ से उन्हें बताया गया कि आधुनिक पद्धति से कैसे कम लागत तथा कम पानी के साथ अधिक पैदावार ले सकते हैं।

इसके बाद श्री सुनील को कृषि विभाग से आधुनिक पद्धति से खेती करने के लिए फव्वारे प्राप्त हुए। फव्वारे के लिए किसान कल्याण योजना से सब्सिडी भी मिली। उन्होंने वर्तमान में कुल 4 बीघे में लहसुन की फसल में फव्वारे लगाये हैं। वे कहते हैं कि लहसुन की पैदावार अधिक होती है एवं लहसुन भी बड़ी निकलती है। पानी कम लगता है। साथ ही लहसुन में कीट भी कम लगते हैं, जिससे दवाइयों का छिड़काव भी नहीं करना पड़ता है। इस तरह खेती करने से उन्हें दो लाभ हुए, पहला उत्पादन बढ़ा एवं दूसरा लागत कम हुई।

सुनील ड्रिप सिंचाई से भी खेती करते हैं। ड्रिप सिंचाई का लाभ भी उन्हें किसान कल्याण योजना से ही मिला है। उन्होंने कुल 2 बीघा में तरबूज लगा रखे हैं। ड्रिप सिंचाई में भी कम पानी में बहुत अच्छी खेती की जा सकती है। शासन की योजनाओं का लाभ मिलने से सुनील बहुत खुश हैं तथा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को हृदय से धन्यवाद दे रहे हैं।

“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा     |     जन-जन को जोड़ें “महाकाल लोक” के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान     |     Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस     |     राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ     |     विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला     |     मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों ‘झूठ दिआं पंडां     |     कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा     |     करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा     |     स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित     |     दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201