बुंदेलखंड विकास सेना ने जताया आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी

ललितपुर: ललितपुर में बुंदेलखंड विकास सेना ने बदहाल सड़कों पर आक्रोश जताया है।ललितपुर जिले में कई जगह की सड़कें बदहाल हालत में हैं। इसको लेकर बुंदेलखंड विकास सेना ने आक्रोश जताते हुए प्रशासन से सड़कों को ठीक कराए जाने की मांग की है। बुविसे प्रमुख हरीश कपूर टीटू की अध्यक्षता में कम्पनी बाग में एक बैठक सम्पन्न हुई।बैठक में ललितपुर शहर को जोड़ने वाले ज्यादातर पुलों के अलावा सदनशाह से सिद्धन पुल तक की सड़क, सदरकांटे से घंटाघर सावरकर चौक से होते हुए मवेशी बाजार जाने वाली तथा पनारी पंचमुखी हनुमान जी वाली सड़क की दुर्दशा पर गहरी चिन्ता व्यक्त की गई।धूल से लोग हो रहे बीमारहरीश कपूर टीटू ने कहा कि ललितपुर की वीआईपी कही जाने वाली सदरकांटें से घंटाघर सावरकर चौक होते हुए मवेशी बाजार जाने वाली सड़कों पर गढ्डों के कारण कमर दर्द के रोगियों की संख्या में भारी इजाफा हो रहा है। इसके अलावा लोग दुर्घटनाओं के शिकार भी हो रहे हैं। इसके साथ ही उड़ने वाली धूल का गुबार लोगों को बीमार कर रहा है ।रोड पर पड़ रहा लोडउन्होंने यह भी कहा कि देवगढ़ क्रॉसिंग पर बनने वाले ओवरब्रिज के कारण धौर्रा, जाखलोन और देवगढ़ से आने वाले भारी वाहनों को इसी सिद्धन रोड पर डायवर्ट करके निकाला जा रहा है। इस कारण से इस रोड पर बहुत लोड पड़ रहा है। इसी वजह से यह और अधिक क्षतिग्रस्त होता जा रहा है। इसी सड़क पर रानी लक्ष्मीबाई महाविद्यालय, केन्द्रीय विद्यालय, एसडीएस कांनवेंट, आईटीआई समेत दर्जन भर शिक्षण संस्थाएं हैं ।जर्जर हालत में है पुलरोड के क्षतिग्रस्त होने से धूल का गुबार लगातार उड़ रहा है। इसके कारण लोग दमा, ब्रोंकाईटिस, एलर्जी आंखों की बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं । इन सब परेशानियों के कारण यहां रहने वाले नागरिकों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा सुरई घाट मुक्तिधाम से पंचमुखी हनुमान मंदिर से होकर पनारी जाने वाली सड़क भी बेहद क्षतिग्रस्त हालत में हैं। इस सड़क पर शहजाद नदी पर बना पुल भी जर्जर हालत में है।समाधान कराने की मांगपुल और सड़क पर बड़े-बड़े गढ्ढे हो चुके हैं और यहां के जनप्रतिनिधि कुम्भकर्णी गहरी नींद में सोये हुए हैं। उन्हें जनता की समस्याओं से कोई भी सरोकार नहीं हैं, जबकि प्रदेश सरकार सड़कों के गढ्ढा मुक्ति के पहले भी बड़े-बड़े वादे कर चुकी है । उन्होंने जिला प्रशासन से मांग की कि अविलम्ब उक्त सड़कों को दुरुस्त किया जाये। मांगे नहीं माने जाने की दशा में आंदोलन छेड़ने को बाध्य होना पड़ेगा।यह लोग रहे मौजूदबैठक में सुधेश नायक, कदीर खां, विनोद साहू, मथुरा प्रसाद मिश्रा, राजकुमार कुशवाहा, मुन्ना महाराज त्यागी, अमरसिंह, प्रदीप पंडित, रिंकू सोनी, रामकुमार मिर्चवारा, संजय, नंदराम कुशवाहा, प्रदीप साहू, अखिलेश साहू, विक्की सोनी, रोहित पटेल, काशीराम अहिरवार, गफूर खां, मनोज कुमार, कामता प्रसाद शर्मा, अमित जैन, प्रदीप प्रजापति आदि मौजूद रहे।

राज्य सरकार ने सबका साथ सबका विकास पर काम किया : वित्त मंत्री देवड़ा     |     मुख्यमंत्री चौहान ने बॉटल ब्रश, आम और कचनार के पौधे लगाए     |     चमकाने के बहाने जालसाज फिर जेवर लेकर हुए फरार     |     मुख्यमंत्री चौहान ने संत रविदास की जयंती पर नमन किया     |     जनता की जिन्दगी बदलने का अभियान है विकास यात्रा : मुख्यमंत्री चौहान     |     परवेज मुशर्रफ का 79 वर्ष की उम्र में हुआ निधन     |     अब 15 मिनट में खुलेंगे किसानों के खाते     |     कराची में अहमदी समुदाय की मस्जिद में उपद्रवियों ने की तोड़फोड़     |     भाषा और धर्म के आधार पर देश को बांटा जा रहा : कमलनाथ     |     कर्नाटक में कांग्रेस ने ‘प्रजा ध्वनि यात्रा’ शुरू की     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201