Breaking
“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता... विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

विजय सिन्हा ने याद दिलाई विधानसभा अध्यक्ष की पावर

नई दिल्ली । बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने लखीसराय की घटना पर शनिवार को खुलकर आक्रोश जाहिर किया। उन्होंने कहा कि विधानसभा के अधिकार और पावर की जानकारी सभी माननीय विधायकों को है। आसन इसका दुरुपयोग नहीं करना चाहता। हम सिर्फ इस मर्यादा का पालन कर रहे हैं। लेकिन, लोग इसे हल्के में लेंगे तो यह उचित नहीं होगा। जानकारी के मुताबिक कई विधायकों ने मामले को लेकर विशेषाधिकार हनन का मामला चलाने का भी आवेदन विधानसभा सचिवालय को दिया है, हालांकि इस बाबत पूछे जाने पर विस अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। शनिवार को अपने कार्यालय कक्ष में मीडिया से बातचीत में विस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार के संज्ञान में यह मामला दिया गया है। पदाधिकारियों को बिहार में सुशासन कायम करने के लिए काम करना होगा। सही में जो अपराधी हैं, उनपर कार्रवाई करनी चाहिए। सिर्फ खानापूर्ती नहीं होनी चाहिए। कार्रवाई के नाम पर कुशासन लाने और दु:शासन के मनोबल को बढ़ावा देने का खेल अब बंद होना चाहिए। इस खेल में जो संलिप्त हैं, उनकी पहचान कर सरकार कार्रवाई करे। क्या लखीसराय की घटना को लेकर सरकार से जवाब मांगेंगे? यह पूछने पर सिन्हा ने कहा कि राज्य सरकार सजग है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद बैठक की है। सुशासन स्थापित करने के लिए बार-बार निर्देशित कर रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी जो कमजोर कड़ी है, उसे चिह्नित कर कार्रवाई हो रही है। जनप्रतिनिधियों का भी अपना फर्ज और धर्म है।

“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा     |     जन-जन को जोड़ें “महाकाल लोक” के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान     |     Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस     |     राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ     |     विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला     |     मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों ‘झूठ दिआं पंडां     |     कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा     |     करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा     |     स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित     |     दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201