Breaking
ईडी के समन पर बिफरे नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह, सुप्रीम कोर्ट में लगाएंगे केस  जो राम के अस्तित्व को नकारते थे वे अब राम नाम जप रहे हैं बसंत पर्व से हुआ 40 दिवसीय फाग महोत्सव का शुभारंभ अखिलेश यादव पर बरसे केशव प्रसाद मौर्य....कहा- बिना कुर्सी के उसी तरह तड़प रहे हैं, जिस तरह बिना पानी... बागेश्वर महाराज धीरेंद्र शास्त्री के समर्थन में उतरीं रूबी आसिफ खान, बोलीं- भारत को घोषित किया जाए ‘... मण्डलायुक्त ने दिया 3 शैक्षणिक संस्थाओं के मान्यता प्रपत्रों की जॉच कर रिपोर्ट देने का निर्देश भारत में जल्द लॉन्च होगा 'Coca-Cola' स्मार्टफोन, जानें शानदार फीचर्स… फिल्म 'पठान' बॉक्स ऑफिस पर 300 करोड़ पार छिंदवाड़ा में एक रुपये किलो में बिक रहा टमाटर टोल नाका कर्मचारियों पर भड़के सौंसर विधायक, अंदर कराने की दी धमकी

विकास के लिए आवश्यक है पानी का प्रबंधन: मंत्री रविन्द्र चौबे

रायपुर :  छत्तीसगढ़ के जल संसाधन मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने सोमवार को जल संसाधन विभाग में नव नियुक्त सहायक अभियंताओं को बेहतर काम के लिए प्रेरित किया और उन्हें शुभकामनाएं दीं। जल संसाधन मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, जल संसाधन विभाग के रायपुर ट्रेनिंग सेंटर में नवनियुक्त सहायक अभियंताओं के आधारभूत प्रशिक्षण के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने नव नियुक्त अभियंताओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आने वाले समय में जल संसाधन विभाग की जिम्मेदारी आप के कंधों पर हैं और आप सभी कुछ ऐसा काम करें की आने वाली पीढियां आपको याद करे।

विकास के लिए आवश्यक है पानी का प्रबंधन:
जल संसाधन मंत्री श्री चौबे ने कहा कि पानी विकास की आधारभूत आवश्यकता है इस विकास की जिम्मेदारी आप जैसे अभियंताओं के कंधों पर है। नवनियुक्त सहायक अभियंताओं को संबोधित करते हुए श्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि आपको बदलती हुयी तकनीक के अनुसार खुद को भी हर दिन अपडेट करते रहना होगा ताकि आपकी क्षमताओं में विस्तार होता रहे। इस प्रशिक्षण सत्र में नवनियुक्त 44 सहायक अभियंताओं एवं 6 सहायक भू-जलविदों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 15 दिनों तक चलने वाला आधारभूत प्रशिक्षण सत्र 14 फरवरी से प्रारंभ होकर 4 मार्च 2022 तक चलेगा। इस प्रशिक्षण में कार्यालयीन व्यवस्था, स्थापना, लेखा, प्रशासनिक सेटअप, प्रशासनिक एवं वित्तीय अधिकारों एवं तकनीकी विषयों यथा डिजाइन, ड्राइंग, प्राक्कलन, सीएसआर, स्पेसिफिकेशन, गुणवत्ता परीक्षण आदि विषयों पर प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा तथा कार्यस्थल का भ्रमण कराने का कार्यक्रम भी निर्धारित है।
कार्यक्रम की अध्यक्षता जल संसाधन विभाग के सचिव श्री अन्बलगन पी. ने की। उन्होंने प्रशिक्षण सत्र को संबोधित करते हुए कहा है कि अभियंताओं को खुद में समय के साथ बदलाव करते रहना होगा ताकि वो आगे जाकर बड़ी जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार रहें।इस मौके पर विभाग के मुख्य अभियंता श्री इंद्र कुमार उइके, महानदी परियोजना के प्रमुख अभियंता श्री आरके नगरिया समेत वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

ईडी के समन पर बिफरे नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह, सुप्रीम कोर्ट में लगाएंगे केस     |      जो राम के अस्तित्व को नकारते थे वे अब राम नाम जप रहे हैं     |     बसंत पर्व से हुआ 40 दिवसीय फाग महोत्सव का शुभारंभ     |     अखिलेश यादव पर बरसे केशव प्रसाद मौर्य….कहा- बिना कुर्सी के उसी तरह तड़प रहे हैं, जिस तरह बिना पानी के मछली     |     बागेश्वर महाराज धीरेंद्र शास्त्री के समर्थन में उतरीं रूबी आसिफ खान, बोलीं- भारत को घोषित किया जाए ‘हिंदू राष्ट्र’     |     मण्डलायुक्त ने दिया 3 शैक्षणिक संस्थाओं के मान्यता प्रपत्रों की जॉच कर रिपोर्ट देने का निर्देश     |     भारत में जल्द लॉन्च होगा ‘Coca-Cola’ स्मार्टफोन, जानें शानदार फीचर्स…     |     फिल्म ‘पठान’ बॉक्स ऑफिस पर 300 करोड़ पार     |     छिंदवाड़ा में एक रुपये किलो में बिक रहा टमाटर     |     टोल नाका कर्मचारियों पर भड़के सौंसर विधायक, अंदर कराने की दी धमकी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201