Breaking
ऑपरेशन धरपकड़ में 62 वांछित गिरफ्तार रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों का कुपोषण दूर करने के लिए मिलेगा शहद-च्यवनप्राश इसरो के अंतरिक्ष यात्रियों को ट्रेनिंग देगा नासा मुंबई के 27 प्रतिशत नागरिक मधुमेह से पीड़ित चीन में घना कोहरा बना आफत, येलो अलर्ट जारी अडानी ग्रुप को लेकर केंद्र पर हमलावर ममता, बोलीं- अपने करीबियों को बचाने के लिए LIC के पैसे का हो रह... रबर कंपनी में लगी आग बुझाते समय फटा फायर एक्सटिंग्विशर सिलेंडर, 3 घायल CM योगी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में की बजट की तारीफ, कहा- इससे UP के विकास को मिलेगी गति आज भारत में एक निर्णायक सरकार है : राष्ट्रपति मुर्मू

LIC से जुड़ी 4 बड़ी बातें, कंपनी के IPO में इन्वेस्ट करने का है इरादा तो पहले इन्हें जान लें


LIC IPO भारत सरकार ने भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) के इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) को बाजार में लाने के लिए रविवार को पूंजी बाजार नियामक सेबी के समक्ष दस्तावेजों का मसौदा (डीआरएचपी) दाखिल किया। कंपनी की एंबेडेड वैल्यू 5.39 लाख करोड़ रुपये (72 बिलियन डॉलर) आंकी गई है।

नई दिल्ली, रॉयटर्स। भारत सरकार ने भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) के इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) को बाजार में लाने के लिए रविवार को पूंजी बाजार नियामक सेबी के समक्ष दस्तावेजों का मसौदा (डीआरएचपी) दाखिल किया। कंपनी की एंबेडेड वैल्यू 5.39 लाख करोड़ रुपये (72 बिलियन डॉलर) आंकी गई है। एंबेडेड वैल्यू जीवन बीमा कंपनियों में भविष्य के नकदी प्रवाह का एक प्रमुख पैमाना है। ऐसे में चलिए, कंपनी के आईपीओ के बाजार में आने से पहले इसके बारे में कुछ प्रमुख बातें जान लेते हैं।

ये भी पढ़ें: पॉप्युलर गेम Garena Free Fire समेत 53 चीनी ऐप हुए बैन, यहां देखें पूरी लिस्ट

परिसंपत्तियां

30 सितंबर, 2021 तक एलआईसी की प्रबंधन के तहत संपत्ति (एयूएम) 39.56 ट्रिलियन रुपये थी। यह एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था में सभी निजी जीवन बीमा कंपनियों के कुल एयूएम के तीन गुना से भी अधिक थी। सबसे बड़े घरेलू संस्थागत निवेशक एलआईसी ने अपने एयूएम का 25% इक्विटी में निवेश किया है।

मुकाबला

ये भी पढ़ें: Mutual Funds और Equity में निवेश को लेकर कैसी हो आपकी योजना, जानें एक्सपर्ट की राय

निजी कंपनियों के साथ प्रतिस्पर्धा के बीच भी LIC अपनी बाजार हिस्सेदारी 66% पर बनाए रखने में सक्षम है। हालांकि, कुछ अन्य कंपनियों की तुलना में नया कारोबार धीमी गति से बढ़ रहा है। मार्च 2021 को समाप्त वर्ष में एलआईसी के सकल लिखित प्रीमियम में 6.30% की वृद्धि हुई, जबकि एसबीआई लाइफ के 24% और एचडीएफसी लाइफ के 18% बढ़े। एसबीआई लाइफ के 20% और एचडीएफसी लाइफ के 26.10% की तुलना में एलआईसी का नया व्यापार मार्जिन 9.90% था।

पॉलिसीधारक और एजेंट

एलआईसी के पास 283 मिलियन पॉलिसीधारक हैं और 1.35 मिलियन पंजीकृत एजेंटों के साथ देश में सबसे बड़ा एजेंट नेटवर्क है। आईपीओ में, फर्म पॉलिसीधारकों के लिए शेयरों का एक निश्चित प्रतिशत भी निर्धारित करेगी, जो ऑफर साइज के 10% से अधिक नहीं होगा जबकि कर्मचारियों के लिए आरक्षित हिस्सा इक्विटी शेयर पूंजी के 5% से अधिक नहीं होगा। मार्च 2021 के अंत तक एलआईसी ने 114,498 लोगों को रोजगार दिया।

जोखिम

ड्राफ्ट प्रॉस्पेक्टस में बीमा दिग्गज ने कुछ जोखिमों को चिह्नित किया है, जैसे कि भविष्य में इसे अतिरिक्त पूंजी की आवश्यकता हो सकती है और यह गारंटी नहीं दे सकता है कि यह उस पूंजी को “स्वीकार्य शर्तों पर या बिल्कुल भी” जमा करने में सक्षम होगा। फाइलिंग के अनुसार, एलआईसी को आईडीबीआई बैंक में अतिरिक्त पूंजी लगाने की भी आवश्यकता हो सकती है, जिससे इसकी बैलेंस शीट पर और दबाव पड़ सकता है।

ऑपरेशन धरपकड़ में 62 वांछित गिरफ्तार     |     रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया     |     तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों का कुपोषण दूर करने के लिए मिलेगा शहद-च्यवनप्राश     |     इसरो के अंतरिक्ष यात्रियों को ट्रेनिंग देगा नासा     |     मुंबई के 27 प्रतिशत नागरिक मधुमेह से पीड़ित     |     चीन में घना कोहरा बना आफत, येलो अलर्ट जारी     |     अडानी ग्रुप को लेकर केंद्र पर हमलावर ममता, बोलीं- अपने करीबियों को बचाने के लिए LIC के पैसे का हो रहा इस्तेमाल     |     रबर कंपनी में लगी आग बुझाते समय फटा फायर एक्सटिंग्विशर सिलेंडर, 3 घायल     |     CM योगी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में की बजट की तारीफ, कहा- इससे UP के विकास को मिलेगी गति     |     आज भारत में एक निर्णायक सरकार है : राष्ट्रपति मुर्मू     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201