Breaking
फैक्ट्री में काम करते टूटा था हाथ, लगते ही मां दुर्गा को दोनों हाथों से भेंट किया नारियल प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को दिया गया प्रमाण पत्र, युवाओं के उज्जवल भविष्य दी गाई शुभकामना डिटेक्टिव स्टाफ ने बसंत विहार के पास पकड़े, पिस्तौल और कारतूस बरामद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना यूएस वेकेशन से वापस लौटे आमिर खान अवैध संबंधों के शक में गड़ासे से काटकर की हत्या छत्तीसगढ़ :  बर्थडे पार्टी के नाम पर होटल में चल रहा था देह व्यापार बलरामपुर में हुई खेलकूद प्रतियोगिता, खिलाड़ियों ने दिखाई प्रतिभा इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 284 पदों पर निकली भर्ती गाजियाबाद के गुलधर स्टेशन पर पूरा हुआ काम, 7 पॉइंट में पढ़िए एक्सकेलेटर की खूबियां

मेस के खराब खाने पर नाराज हुए झारखंड के 176 छात्र, खुद को 6 घंटे तक कमरे में कर लिया बंद

Viral: खराब भोजन की शिकायत को लेकर झारखंड के सिमडेगा स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय के 176 छात्रों ने खुद को करीब 6 घंटे तक कमरे में बंद रखा.

Viral: झारखंड के सिमडेगा स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय से एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है. यहां खराब भोजन के खाने की शिकायत को लेकर 176 छात्रों ने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया. छात्र इस बात पर अड़े रहे कि जब तक जिले के उपायुक्त खुद आकर उनकी बातें नहीं सुनते और उनकी समस्याएं दूर करने के लिए ठोस कदम नहीं उठाते, वे हॉल के बाहर नहीं आयेंगे. लगभग छह घंटे के बाद छात्रों ने तभी अपनी हठ वापस ली, जब उपायुक्त सुशांत गौरव वहां पहुंचकर उनकी परेशानियों से अवगत हुए और उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया.

शिकायत पर नहीं हुई सुनवाई तो उठाया यह कदम

बताया गया कि सुबह नाश्ते के बाद स्कूल के कक्षा 9 से 12 तक के सभी छात्र एक हॉल में इकट्ठा हुए. वह स्कूल प्रबंधन पर खराब भोजन देने का आरोप लगा रहे थे. उनकी शिकायत थी कि स्कूल में अन्य कई अव्यवस्थाएं हैं, लेकिन बार-बार कंप्लेन दर्ज कराये जाने के बावजूद कोई उनकी सुन नहीं रहा. उन्होंने दरवाजा बंद कर लिया. स्कूल प्रबंधन ने इसकी जानकारी अनुमंडल पदाधिकारी को दी. स्कूल प्रबंधन के अधिकारियों ने बच्चों को मनाने की कोशिश की, लेकिन वे उपायुक्त को बुलाने की मांग पर अड़े रहे. अंतत: लगभग चार घंटे के बाद उपायुक्त सुशांत गौरव स्कूल पहुंचे. बच्चे जब आश्वस्त हुए कि हॉल के बाहर उपायुक्त खड़े हैं, तभी उन्होंने दरवाजा खोला. बच्चों ने शिकायत की कि उन्हें मेस में दिया जाने वाला खाना बेहद खराब है. विद्यालय में पठन-पाठन और छात्रावास को लेकर कई तरह की समस्याएं हैं, लेकिन विद्यालय प्रबंधन इनपर कोई ध्यान नहीं देता.

उपायुक्त ने दिया आश्वासन

छात्रों से बातचीत के बाद उपायुक्त ने कहा कि उनकी समस्याएं दूर करने के लिए आवश्यक कदम उठाये जायेंगे और जो लोग जिम्मेदार होंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी. बाद में उपायुक्त ने कहा कि छात्रों की समस्याएं हो सकती हैं, लेकिन उन्हें जिस तरह बहकाकर इस तरह के आंदोलन के लिए उद्वेलित किया गया, वह बेहद आपत्तिजनक है. छात्रों को बहकाने वालों को भी चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने कहा कि इस पूरे मसले पर छात्रों के साथ-साथ उनके अभिभावकों और सभी पक्षों से बात की जायेगी.

फैक्ट्री में काम करते टूटा था हाथ, लगते ही मां दुर्गा को दोनों हाथों से भेंट किया नारियल     |     प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को दिया गया प्रमाण पत्र, युवाओं के उज्जवल भविष्य दी गाई शुभकामना     |     डिटेक्टिव स्टाफ ने बसंत विहार के पास पकड़े, पिस्तौल और कारतूस बरामद     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना     |     यूएस वेकेशन से वापस लौटे आमिर खान     |     अवैध संबंधों के शक में गड़ासे से काटकर की हत्या     |     छत्तीसगढ़ :  बर्थडे पार्टी के नाम पर होटल में चल रहा था देह व्यापार     |     बलरामपुर में हुई खेलकूद प्रतियोगिता, खिलाड़ियों ने दिखाई प्रतिभा     |     इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 284 पदों पर निकली भर्ती     |     गाजियाबाद के गुलधर स्टेशन पर पूरा हुआ काम, 7 पॉइंट में पढ़िए एक्सकेलेटर की खूबियां     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201