Breaking
“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता... विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

विश्वविद्यालय में ऑफलाइन एग्जाम पर मचा बवाल एनएसयूआई ने किया विरोध प्रदर्शन

बिलासपुर ।  बिलासपुर में लॉ के स्टूडेंट्स की ऑफलाइन परीक्षा का विरोध करते हुए हृस्ढ्ढ ने हंगामा कर दिया। बुधवार दोपहर को हृस्ढ्ढ ने अटल बिहारी वाजपेयी यूनिवर्सिटी का घेराव कर जमकर नारेबाजी भी की। इस दौरान छात्र नेताओं ने कहा कि यूनवर्सिटी की लेटलतीफी के चलते छात्रों का एक सेमेस्टर पहले से लेट हो गया है। ऐसे में जल्दी परीक्षाएं लेने अगला सेमेस्टर शुरू करने की आवश्यकता है। छात्रों ने कुलपति को ज्ञापन सौंपकर ऑनलाइन परीक्षाएं लेने की मांग की। यूनिवर्सिटी के कुलपति आचार्य एडीएन वाजपेयी ने दूसरे यूनिवर्सिटी की तरह छात्र हित में निर्णय लेते हुए परीक्षाएँ आनलाइन लेने का निर्णय लिया ।
हृस्ढ्ढ के जिलाध्यक्ष तनमीत छाबड़ा ने कहा कि प्रदेश के दूसरे यूनिवर्सिटी रविशंकर और नंदकुमार पटेल यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन परीक्षाएं लेने के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। ऐसे में यहां भी ऑनलाइन परीक्षाएं मार्च में कराई जाएगी। ऑफलाइन परीक्षा की तैयारी में यूनिवर्सिटी लेट कर रहा है, जिसके कारण छात्रों का सेमेस्टर पिछड़ गया है। हृस्ढ्ढ के पदाधकारियों ने बताया कि अटल बिहारी वाजपेयी यूनिवर्सिटी के अधीन छह लॉ कॉलेज संचालित हैं, जहां तकरीबन 2000 हजार छात्र-छात्राएं अध्ययनरत है। पिछले दो साल से कोरोना के चलते कॉलेजों में ठीक से क्लासेस नहीं हुई है। इधर, यूनिवर्सिटी की लेट लतीफी और परीक्षा की तैयारी नहीं हो पाने के कारण उनका एक सेमेस्टर पिछड़ गया है। ऐसे में जल्दी परीक्षा कार्यक्रम जारी कर सेमेस्टर को शेड्यूल करने की आवश्यकता है।
उन्होंने कुलपति को ज्ञापन सौंपकर ऑफलाइन के बजाए ऑनलाइन परीक्षाएं लेने की मांग की है तथा यूनिवर्सिटी ने माँगों को मानते हुए परीक्षाएँ ऑनलाइन लेने का निर्णय लिया। घेराव करने वालों में हृस्ढ्ढ के जिलाध्यक्ष तनमीत छाबड़ा, प्रदेश सचिव लक्की मिश्रा,प्रदेश सचिव अभिलाष रजक एवं युवा नेता जितेंद्र सिंह,जिला सचिव अमितेष शुक्ला,बिल्हा विधानसभा अध्यक्ष विकास तिवारी,नाज़िम हुसैन,सिद्धांत बत्रा,विवेक साहू,कामरान मेमन,ऋषि पटेल,शुभम सोनी,रोस्टिन मसीह,हनी मगर,प्रशांत पाण्डेय,रिशिता शर्मा,वेदांश,सामंजस्य,पंकज,आदर्श,मिहिर,महेंद्र,अवनीश,मानसी,उमा सहित छात्र-छात्राएं शामिल थे।

“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा     |     जन-जन को जोड़ें “महाकाल लोक” के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान     |     Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस     |     राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ     |     विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला     |     मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों ‘झूठ दिआं पंडां     |     कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा     |     करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा     |     स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित     |     दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201