Breaking
जिले में 25 जनवरी को मनाया जाएगा 13वां ’राष्ट्रीय मतदाता दिवस’-जिलाधिकारी चावलों की कालाबाजारी ! चेकिंग में पकड़ा गया गरीबों को बंटने वाला चावलों से भरा ट्रक चलती ट्रेन से कूदी जिला पंचायत अध्यक्ष और नगर पालिका अध्यक्ष, बड़ा हादसा टला अन्नपूर्णा माता मंदिर में सुबह होगी मूर्तियों की स्थापना, शाम को दर्शन कर सकेंगे भक्त गेहूं में रेत-मिट्टी के मिलावट मामले में छह के विरुद्ध मामला दर्ज, वायरल हुआ था वीडियो ऑपरेशन धरपकड़ में 62 वांछित गिरफ्तार रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों का कुपोषण दूर करने के लिए मिलेगा शहद-च्यवनप्राश इसरो के अंतरिक्ष यात्रियों को ट्रेनिंग देगा नासा मुंबई के 27 प्रतिशत नागरिक मधुमेह से पीड़ित

टॉयलेट में मोबाइल का इस्तेमाल हो सकता है खतरनाक

मोबाइल फोन इन दिनों एक बीमारी बन चुकी है। सुबह से लेकर रात तक लोग मोबाइल से चिपके रहते हैं। कई तो वॉशरूम में भी मोबइल लेकर जाते हैं। अगर आप भी इन्हीं में से एक हैं तो इसके गंभीर परिणामों के बारे में जान लें।

अपने मनोरंजन के लिए वॉशरूम में मोबाइल का इस्तेमाल करना आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। वॉशरूम में फोन का इस्तेमाल करने से आपको न सिर्फ गंभीर समस्याएं हो सकती हैं, बल्कि आप कई जानलेवा बीमारियों के शिकार भी हो सकते हैं।

पाइल्स की हो सकती है समस्या

अक्सर पाचन संबंधी दिक्कतों की वजह से लोग पाइल्स का शिकार हो जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि वॉशरूम में मोबाइल फोन का इस्तेमाल भी पाइल्स की वजह सकता है। हैरान करने वाली यह बात सच है, क्योंकि मोबाइल चलाने की वजह से टॉयलेट सीट पर ज्यादा देर तक बैठे रहने से प्रेशर पड़ता है। इसके चलते पाइल्स और फिशर के होने की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं।

UTI का बढ़ सकता है खतरा

आप अक्सर सोचते होंगे कि अगर आप अपने वॉशरूम को साफ रख रहे हैं, तो इसमें कीटाणु कैसे रह सकते हैं। लेकिन आपकी यह धारणा पूरी तरह गलत है। दरअसल, टॉयलेट में कई कीटाणु और बैक्टीरिया का राज होता है। ऐसे में जब लोग मोबाइल चलाते हुए यहां काफी देर पर बैठे सकते हैं तो यह बैक्टीरिया फोन पर चिपक जाते हैं, जिससे पेट दर्द और यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI) जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

टॉयलेट से पूरे घर में फैल जाते हैं कीटाणु

आप जब भी वॉशरूम में अपना मोबाइल फोन लेकर जाते हैं, तो उसके साथ वापस कई सारे कीटाणु और खतरनाक बैक्टीरिया लेकर लौटते हैं। दरअसल, टॉयलेट से आने के बाद आप अपने हाथ तो धो लेते हैं, लेकिन मोबाइल में चिपके कीटाणु आपके मोबाइल के जरिए हर जगह फैल जाते हैं, जो आपके पूरे घर के लिए खतरनाक हो सकता है।

डायरिया का बढ़ सकता है खतरा

टॉयलेट में मौजूद अलग-अलग चीजों पर ई-कोली नामक बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो सेहत को कई तरीके नुकसान पहुंचा सकते हैं। यह बैक्टीरिया न सिर्फ आंतों से संबंधित गंभीर समास्याओं की वजह बन सकता है, बल्कि इससे डायरिया आदि भी हो सकता है।

जिले में 25 जनवरी को मनाया जाएगा 13वां ’राष्ट्रीय मतदाता दिवस’-जिलाधिकारी     |     चावलों की कालाबाजारी ! चेकिंग में पकड़ा गया गरीबों को बंटने वाला चावलों से भरा ट्रक     |     चलती ट्रेन से कूदी जिला पंचायत अध्यक्ष और नगर पालिका अध्यक्ष, बड़ा हादसा टला     |     अन्नपूर्णा माता मंदिर में सुबह होगी मूर्तियों की स्थापना, शाम को दर्शन कर सकेंगे भक्त     |     गेहूं में रेत-मिट्टी के मिलावट मामले में छह के विरुद्ध मामला दर्ज, वायरल हुआ था वीडियो     |     ऑपरेशन धरपकड़ में 62 वांछित गिरफ्तार     |     रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया     |     तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों का कुपोषण दूर करने के लिए मिलेगा शहद-च्यवनप्राश     |     इसरो के अंतरिक्ष यात्रियों को ट्रेनिंग देगा नासा     |     मुंबई के 27 प्रतिशत नागरिक मधुमेह से पीड़ित     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201