Breaking
कानपुर में बड़ा हादसा जनपद में हुए दर्जनों कार्यक्रम, सांसद रह चुके हैं नरेश अग्रवाल समाज में उल्लेखनीय योगदान के लिए ’पद्मश्री मदन चौहान और पद्मश्री शमशाद बेगम सहित 16 वरिष्ठ नागरिक हु... मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पंडरिया में 68 करोड़ 87 लाख रूपए के 81 कार्यो का किया लोकार्पण और भूमिपूजन 85 मामलों में जब्त की थी हेरोइन, चरस, गांजा और नशीली गोलियां, वीडियो-फोटोग्राफी हुई अशोक गहलोत फिर दिखाएंगे जादू या सचिन पायलट बनेंगे मुख्यमंत्री, क्या होगा सोनिया गांधी का फैसला? कबाड़ी दुकान में चोरी के बाद बदमाशों ने लगाई आग ट्यूशन टीचर ने बच्ची को गर्म चिमटे से जलाया धरती से निकली हैं धमतरी की मां विंध्यवासिनी, देश विदेश से दर्शन करने आते हैं श्रद्धालु दिसंबर 2023 तक हर भारतीय के लिए 5जी लाएगी जियो : मुकेश अंबानी

अब आंध्र प्रदेश के कॉलेज तक पहुंचा हिजाब विवाद

विजयवाड़ा| हिजाब विवाद की गूंज अब आंध्र प्रदेश तक पहुंच गई है। यहां के विजयवाड़ा में एक निजी कॉलेज ने गुरुवार को बुर्का पहने दो छात्राओं को प्रवेश से वंचित कर दिया, लेकिन बाद में सरकारी अधिकारियों के निर्देश पर नरम पड़ गए। आंध्र लोयोला कॉलेज के स्टाफ द्वारा दो लड़कियों को रोकने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। जबकि बीएससी अंतिम वर्ष के छात्रों ने दावा किया कि वे बुर्का पहनकर कॉलेज आ रही हैं, लेकिन उन्हें कभी कोई समस्या नहीं हुई, वहीं कॉलेज प्रबंधन ने इससे इनकार किया है।

छात्रों को कक्षाओं में शामिल नहीं होने के बाद उनके माता-पिता और समुदाय के बुजुर्ग वहां पहुंच गए। पुलिस भी कॉलेज पहुंची और कॉलेज के प्राचार्य, अभिभावकों और समुदाय के बुजुर्गों से बातचीत की। छात्रों ने बुर्का के साथ अपना पहचान पत्र दिखाया और सवाल किया कि अब समस्या क्यों पैदा की जा रही है।

मामला कृष्णा जिला कलेक्टर तक पहुंचा, तो उन्होंने कॉलेज प्रबंधन से कक्षाओं में आने को कहा। प्राचार्य किशोर ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने कलेक्टर के निर्देश पर छात्रों को अनुमति दी। उन्होंने कहा कि प्रवेश के समय छात्र ड्रेस कोड के बारे में स्कूल के नियमों से सहमत थे।

हालांकि, दोनों छात्रों ने तर्क दिया कि वे निर्धारित वर्दी में कॉलेज आ रहे हैं, उस पर बुर्का पहन कर आ रहे हैं, लेकिन किसी ने कभी आपत्ति नहीं की। वीडियो में एक छात्रा को बोलेते हुए सुना जा सकता है, “हर किसी की अपनी संस्कृति होती है और इसका सम्मान किया जाना चाहिए। हम जो पहनते हैं उस पर हमें गर्व है।”

प्राचार्य ने कहा कि शुक्रवार से छात्रों को हिजाब पहनने की अनुमति देने पर कोई फैसला नहीं लिया गया है।

कर्नाटक में हिजाब विवाद के बाद आंध्र प्रदेश में यह पहली ऐसी घटना है, जहां अधिकारियों ने मुस्लिम हेडस्कार्फ पर प्रतिबंध लगा दिया था।

कानपुर में बड़ा हादसा     |     जनपद में हुए दर्जनों कार्यक्रम, सांसद रह चुके हैं नरेश अग्रवाल     |     समाज में उल्लेखनीय योगदान के लिए ’पद्मश्री मदन चौहान और पद्मश्री शमशाद बेगम सहित 16 वरिष्ठ नागरिक हुए सम्मानित     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पंडरिया में 68 करोड़ 87 लाख रूपए के 81 कार्यो का किया लोकार्पण और भूमिपूजन     |     85 मामलों में जब्त की थी हेरोइन, चरस, गांजा और नशीली गोलियां, वीडियो-फोटोग्राफी हुई     |     अशोक गहलोत फिर दिखाएंगे जादू या सचिन पायलट बनेंगे मुख्यमंत्री, क्या होगा सोनिया गांधी का फैसला?     |     कबाड़ी दुकान में चोरी के बाद बदमाशों ने लगाई आग     |     ट्यूशन टीचर ने बच्ची को गर्म चिमटे से जलाया     |     धरती से निकली हैं धमतरी की मां विंध्यवासिनी, देश विदेश से दर्शन करने आते हैं श्रद्धालु     |     दिसंबर 2023 तक हर भारतीय के लिए 5जी लाएगी जियो : मुकेश अंबानी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201