Breaking
फैक्ट्री में काम करते टूटा था हाथ, लगते ही मां दुर्गा को दोनों हाथों से भेंट किया नारियल प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को दिया गया प्रमाण पत्र, युवाओं के उज्जवल भविष्य दी गाई शुभकामना डिटेक्टिव स्टाफ ने बसंत विहार के पास पकड़े, पिस्तौल और कारतूस बरामद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना यूएस वेकेशन से वापस लौटे आमिर खान अवैध संबंधों के शक में गड़ासे से काटकर की हत्या छत्तीसगढ़ :  बर्थडे पार्टी के नाम पर होटल में चल रहा था देह व्यापार बलरामपुर में हुई खेलकूद प्रतियोगिता, खिलाड़ियों ने दिखाई प्रतिभा इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 284 पदों पर निकली भर्ती गाजियाबाद के गुलधर स्टेशन पर पूरा हुआ काम, 7 पॉइंट में पढ़िए एक्सकेलेटर की खूबियां

अखिलेश का भाजपा पर निशाना, बोले, ‘परिवारवाला ही परिवारों का दर्द समझ सकता है’

जालौन| समाजवादी पार्टी (सपा) मुखिया अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि परिवारवाला ही परिवारों का दर्द समझ सकता है।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव शुक्रवार को प्रचार के अंतिम दिन जालौन के माधौगढ़ की एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार और मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधा। परिवारवाद का आरोप लगा रहे भाजपा नेताओं पर अखिलेश ने पलटवार किया और कहा है कि परिवारवाला ही परिवारों का दर्द समझ सकता है। उन्होंने महंगाई, विकास और नोटबंदी पर भाजपा को घेरा और कहा कि पहले और दूसरे चरण के मतदान के रुझान के बाद गर्मी निकालने की बात कहने वाले ठंडे पड़ गए हैं।

उन्होंने कहा, बाबा का पसंदीदा जानवर कितनों की जान ले रहा है। गोशाला के नाम पर करोड़ों रुपये जाने कहां चले गए। चुनाव के पहले बीजेपी के लोग घर घर प्रचार कर रहे थे और थूक लगाकर पर्चा बांट रहे थे। जब भाजपा वाले वोट मांगने गरीबों के घर पहुंचे तो गरीबों ने लाल रंग के खाली सिलिंडर दिखा दिए।

अखिलेश यादव ने कहा कि पहले चरण और दूसरे चरण के मतदान के बाद जो लोग गर्मी निकालने की बात कह रहे थे, वे ठंडे पड़ गए हैं। कहा, पांच साल में क्या मिला, बुंदेलखंड के लोगों के साथ धोखा हुआ है। बाबा मुख्यमंत्री ने न जाने क्या क्या कहा, पर आप बताओ बुंदेलखंड के साथियों क्या मिला। ये सरकार एमएसपी भी लागू नहीं कर पाई, जब किसान खाद लेने गए तो उसमें 5 किलो की चोरी हो गई। नोदबंदी में गरीबों का पैसा बैंक में जमा कर लिया गया, उसमें भी चोरी हो गई। उद्योगपति पैसा लेकर भाग गए, जो उद्योगपति पैसा लेकर भागे बताओ वे कहां के हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में यह पार्टी गरीबों को न दवा दे पाई और न ऑक्सीजन। याद कीजिए जब लाकडाउन में लोग पैदल चल रहे थे और जबकि इस पार्टी ने किसी परिवार की मदद नहीं की। परिवारवाद का आरोप लगाने वाली पार्टी को बताओ, एक परिवार वाला ही परिवार का दर्द समझ सकता है।

फैक्ट्री में काम करते टूटा था हाथ, लगते ही मां दुर्गा को दोनों हाथों से भेंट किया नारियल     |     प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को दिया गया प्रमाण पत्र, युवाओं के उज्जवल भविष्य दी गाई शुभकामना     |     डिटेक्टिव स्टाफ ने बसंत विहार के पास पकड़े, पिस्तौल और कारतूस बरामद     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना     |     यूएस वेकेशन से वापस लौटे आमिर खान     |     अवैध संबंधों के शक में गड़ासे से काटकर की हत्या     |     छत्तीसगढ़ :  बर्थडे पार्टी के नाम पर होटल में चल रहा था देह व्यापार     |     बलरामपुर में हुई खेलकूद प्रतियोगिता, खिलाड़ियों ने दिखाई प्रतिभा     |     इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 284 पदों पर निकली भर्ती     |     गाजियाबाद के गुलधर स्टेशन पर पूरा हुआ काम, 7 पॉइंट में पढ़िए एक्सकेलेटर की खूबियां     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201