इस FMCG स्टॉक में आ सकती है गिरावट, ब्रोकरेज ने दी Sell और Neutral रेटिंग

मटेरियल कास्ट के चलते Nestle India के मार्जिन पर दबाव रहा है. ब्रोकरेज हाउस भी मान रहे हैं कि ​लॉन्ग टर्म के लिए आउटलुक बेहतर है, लेकिन नियर टर्म में मार्जिन पर दबाव बना रहेगा.

Nestle India Stock Price: दिसंबर तिमाही के नतीजों के बाद आज Nestle के शेयरों में फ्लैट ट्रेडिंग देखने को मिल रही है. आज के कारोबार में शेयर में उतार चढ़ाव देखने को मिला है. यह आज 17811 का लेा बनाने के बाद 18150 रुपये के भाव पर ट्रेड कर रहा है. जबकि गुरूवार को शेयर 18126 रुपये पर बंद हुआ था. मैगी बनाने वाली इस कंपनी का मुनाफा दिसंबर तिमाही में घटा है. मटेरियल कास्ट के चलते मार्जिन पर दबाव रहा है. मिल्क और न्यूट्रिशन बिजनेस दूसरे सेग्मेंट के मुकाबले कमजोर रहा है. ब्रोकरेज हाउस भी मान रहे हैं कि ​लॉन्ग टर्म के लिए आउटलुक बेहतर है, लेकिन नियर टर्म में मार्जिन पर दबाव बना रहेगा. वहीं शेयर का वैल्युएशन हाई होने से इसमें ज्यादा अपसाइड की गुंजाइश फिलहाल तो नहीं दिख रही है.

 

शेयर बेचने की सलाह

ग्लोबल ब्रोकरेज हाउस CLSA ने स्टॉक पर Sell रेटिंग दी है 17370 रुपये का टारगेट दिया है. यह करंट प्राइस 18126 रुपये से कम है. ब्रोकरेज का कहना है कि आगे कंपनी के मार्जिन पर दबाव बरकरार रह सकता है. ग्रॉस मार्जिन में 2.26 फीसदी की कमी संभव है. जबकि ब्रोकरेज हाउस क्रेडिट सुईस ने स्टॉक न्यूट्रल रेटिंग देते हुए टारगेट 20000 रुपये का दिया है. मार्जिन पर दबाव को ब्रोकरेज निगेटिव मान रहे हैं.

शेयर का वैल्युएशन ज्यादा

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने भी शेयर पर न्यूट्रल रेटिंग दी है और टारगेट 19400 रुपये का दिया है. करंट प्राइस से शेयर में 7 फीसदी ग्रोथ आ सकती है. ब्रोकरेज का कहना है कि कंपनी की सेल्स अनुमान के मुताबिक रही है, वहीं वॉल्यूम ग्रोथ CY21 में 9.6 फीसदी है जो इंप्रेसिव है. लेकिन सेग्मेंटल परफॉर्मेंस मिला जुला रहा है. मिल्क और न्यूट्रिशन में ग्रोथ कमजोर रही है. तिमाही आधार पर ग्रॉस मार्जिन में सुधार है. लेकिन मटेरियल कासट का दबाव नियर टर्म में मार्जिन पर असर डाल सकता है. ब्रोकीरेज का कहना है कि लॉन्ग टर्म आउटलुक बेहतर है लेकिन अभी शेयर के हाई वैल्युएशन के चलते नियर टर्म में ग्रोथ लिमिटेड रह सकती है.

लॉन्ग टर्म व्यू पॉजिटिव

ब्रोकरेज हाउस ICICI सिक्योरिटीज का कहना है कि Nestle का डोमेस्टिक रेवेन्यू ग्रोथ सालाना आधार पर 9 फीसदी रहा है. कंपनी के ज्यादातर बिजनेस में रिकवरी है, लेकिन इनफैंट न्यूट्रिशन बिजनेस कमजोर रहा है. हालांकि प्रोडक्ट की उपलब्धता और छोटे शहरों व गांवों में एक्सपेंशन का फायदा कंपनी को मिल रहा है. वहीं इनफ्लेशनरी RM के चलते नियर टर्म में कुछ चुनौतियां रहेंगी.

हालांकि ब्रोकरेज हाउस ने कंपनी में लॉन्ग टर्म व्यू पॉजिटिव रखा है. पैकेज्ड फूड को लेकर कंज्यूमर का बढ़ रहा रुझान, ब्रॉन्ड में लगातार निवेश, डिस्ट्रीब्यूशन एक्सपेंशन पर फोकस करने और कैपेक्स बढ़ने का फायदा कंपनी को मिलेगा. ब्रोकरेज ने शेयर में होल्ड की सलाह दी है और टारगेट 20,000 रुपये का दिया है.

नतीजे एक नजर में

Nestle India का दिसंबर तिमाही में मुनाफा सालाना आधार पर 20 फीसदी गिरकर 386.6 करोड़ रुपये रहा है, जबकि एक साल पहले की समान तिमाही में 483 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था. तिमाही आधार पर इसमें 37.7 फीसदी की गिरावट रही. कंपनी की आय सालाना आधार पर 8.9 फीसदी बढ़कर 3,739 करोड़ रुपये पर रही है. कंपनी के बोर्ड ने 10 रुपये फेस वैल्यू के प्रति शेयर पर 65 रुपये फाइनल डिविडेंड का भी एलान किया है.

जर्मनी 2023 में मंदी में प्रवेश करने के लिए तैयार: आर्थिक पूर्वानुमान     |     Saturday Ka Rashifal: आज जीवनसाथी से मिलेगा सुख, व्यापार में होगा फायदा, पढ़ें अपना राशिफलSaturday Ka Rashifal: आज जीवनसाथी से मिलेगा सुख, व्यापार में होगा फायदा, पढ़ें अपना राशिफल     |     तुलसी की खेती का व्यापार कैसे शुरू करें | How To Start Tulsi Farming Business in Hindi     |     पीएम मोदी ने तीसरी वंदे भारत ट्रेन को दिखाई हरी झंडी     |     नवरात्रि में फलाहार का है वैज्ञानिक आधार     |     जिलों में एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल गठित किए जाएँ – मुख्यमंत्री चौहान     |     40 साल की मॉडल ने की आत्महत्या     |     सीडीएस जनरल अनिल चौहान ने संभाला पदभार     |     मध्य प्रदेश के कांग्रेस नेताओं का दिल्ली में जमावड़ा     |     PM मोदी के गुजरात दौरे का दूसरा दिन     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201