Breaking
भोपाल में लॉयल बुक डिपो में बुक्स, एसी और फर्नीचर जला आमिर खान ने अपने नए प्रोडक्शन ऑफिस में की कलश पूजा ईरान का प्रेस टीवी नेटवर्क बंद करने से पश्चिम के पाखंड का पता चलता है : ईरानी अधिकारी टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका 4 हजार औद्योगिक समूहों को न्योता... जी 20 की भी तैयारी अब भाजपा का फोकस युवाओं पर विधानसभा में होंगे खिलते कमल कार्यक्रम गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री  भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे जया किशोरी : श्रीमद् भागवत कथा में भक्ति रस की प्रधानता न हो तो कथा का आनंद ही नहीं सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात

यूक्रेन पर रूसी हमले के बीच सिर उठा रहा मंदी का खतरा, जरूरी सामान खरीदने में जुटे लोग, लंबी योजनाओं पर काम बंद

यूक्रेन पर रूसी हमले की आशंका के बीच आर्थिक मंदी का खतरा भी तेजी से सिर उठा रहा है। लोगों की प्राथमिकता जरूरी सामान खरीदना और तात्कालिक कार्यों को पूरा करना है। लंबी योजनाओं पर फिलहाल काम बंद है।

कीव [द न्यूयार्क टाइम्स]। रूसी हमले की आशंका के बावजूद यूक्रेन की बड़ी आबादी का जीवन सामान्य तरीके से चल रहा है। बाजार खुल रहे हैं, लोगों की भीड़ उनमें जा रही है। स्कूल-कालेज और कार्यालय भी सामान्य रूप से खुल रहे हैं। जनमानस में रूस का हमला होने की चर्चा है तो उससे मुकाबला करने का जज्बा भी महसूस किया जा सकता है। लेकिन आर्थिक मंदी का खतरा भी तेजी से सिर उठा रहा है। लोगों की प्राथमिकता जरूरी सामान खरीदना और तात्कालिक कार्यो को पूरा करना है। लंबी योजनाओं पर फिलहाल काम बंद है।

नई दिल्ली। आधार कार्ड (Aadhaar Card) हर व्यक्ति के लिए बहुत जरूरी डॉक्यूमेंट है। इसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) द्वारा जारी किया जाता है। आधार कार्ड में 12 अंकों की पहचान संख्या होती है, जिसे आधार नंबर कहा जाता है। यह हर व्यक्ति के लिए अलग होता है। इसके अलावा आधार कार्ड में व्यक्ति का नाम, फोटो, पता आदि जैसी व्यक्तिगत जानकारियां होती हैं। मोबाइल नंबर भी इससे लिंक कराना जरूरी है। ऐसे में अगर आपको अपने आधार कार्ड में अपना नाम, फोटो, पता या मोबाइल नंबर अपडेट कराना है तो इस लेख में आगे आप इसकी प्रक्रिया के बारे में जानेंगे।

कामकाज पर असर

यूक्रेन की राजधानी कीव में पाव्लो कालियुक विदेशियों को रहने और काम करने के लिए स्थान मुहैया कराते हैं। बदले में उन्हें कमीशन के रूप में अच्छी धनराशि मिल जाती है। उनकी सेवा लेने वालों में ज्यादातर लोग अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी और इजरायल के हैं। अब धंधा मंद पड़ने से वह चिंता में हैं।

अनहोनी की आशंका में डूबे लोग

चूंकि तनाव बढ़ने से विदेशी लोग यूक्रेन छोड़कर जा रहे हैं, इसलिए पाव्लो का धंधा मंदा पड़ गया है। उन्होंने बताया कि उनके कुछ सौदे इसलिए अधर में लटक गए हैं क्योंकि लोगों को अब यह नहीं पता कि कल क्या होने वाला है। इसके चलते लक्जरी अपार्टमेंट की कीमत और किराया कम हो गया है।

विद्रोहियों के लड़ाई शुरू

नई दिल्ली। आधार कार्ड (Aadhaar Card) हर व्यक्ति के लिए बहुत जरूरी डॉक्यूमेंट है। इसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) द्वारा जारी किया जाता है। आधार कार्ड में 12 अंकों की पहचान संख्या होती है, जिसे आधार नंबर कहा जाता है। यह हर व्यक्ति के लिए अलग होता है। इसके अलावा आधार कार्ड में व्यक्ति का नाम, फोटो, पता आदि जैसी व्यक्तिगत जानकारियां होती हैं। मोबाइल नंबर भी इससे लिंक कराना जरूरी है। ऐसे में अगर आपको अपने आधार कार्ड में अपना नाम, फोटो, पता या मोबाइल नंबर अपडेट कराना है तो इस लेख में आगे आप इसकी प्रक्रिया के बारे में जानेंगे।

आधार कार्ड में नाम और पता कैसे अपडेट करें?

सीमा पर रूस समर्थित विद्रोहियों के लड़ाई शुरू हो चुकी है और रूस के हमले का अंदेशा है। ऐसे आशंका वाले माहौल में तात्कालिक जरूरतों को ही पूरा किया जा रहा है, लंबे समय की योजना से लोग कोई काम नहीं कर रहे। कीव स्कूल आफ इकोनोमिक्स के प्रमुख तिमोफी माइलोवानोव कहते हैं कि यह स्थिति करीब छह हफ्ते से बनी हुई है। इससे पहले कोरोना संक्रमण से मुश्किलें बढ़ी हुई थीं।

तो मंदी में डूब जाएगा यूक्रेन

अगर आशंका वाला माहौल आगे भी बना रहता है तो यूक्रेन के मंदी के भंवर में फंसने का खतरा है। क्योंकि इस माहौल में यूक्रेन अरबों डालर खो चुका है। कारोबार और नौकरियों को बड़ा नुकसान हो चुका है। आशंकाएं कायम रहने से विदेशी कारोबार, पर्यटन, होटल, निवेश सब-कुछ प्रभावित होना तय है।

यूक्रेन में कारोबार पर असर

उल्लेखनीय है कि देश-विदेश की कई एयरलाइन कंपनियां इस माहौल में अपनी सेवाएं बंद कर चुकी हैं या उन्हें बहुत कम कर चुकी हैं। सरकार ने भी उन्हें सावधानी बरतने के लिए कहा है। बीते दिनों में यूक्रेन के सरकारी और गैर सरकारी संस्थानों पर बड़े साइबर हमले हुए हैं। इससे भी सरकारी कामकाज और कारोबार पर असर पड़ा है।

भोपाल में लॉयल बुक डिपो में बुक्स, एसी और फर्नीचर जला     |     आमिर खान ने अपने नए प्रोडक्शन ऑफिस में की कलश पूजा     |     ईरान का प्रेस टीवी नेटवर्क बंद करने से पश्चिम के पाखंड का पता चलता है : ईरानी अधिकारी     |     टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका     |     4 हजार औद्योगिक समूहों को न्योता… जी 20 की भी तैयारी     |     अब भाजपा का फोकस युवाओं पर विधानसभा में होंगे खिलते कमल कार्यक्रम     |     गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री      |     भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे     |     जया किशोरी : श्रीमद् भागवत कथा में भक्ति रस की प्रधानता न हो तो कथा का आनंद ही नहीं     |     सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201