Breaking
“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता... विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

रायपुर में मंत्री का खास बताकर नौकरी लगाने के नाम पर 10 लाख रुपये की ठगी

प्रदेश के एक मंत्री का करीब बताकर लोकनिर्माण विभाग, पुलिस विभाग और वन विभाग में नौकरी लगाने के नाम पर 40 से अधिक युवकों से करीब 10 लाख रुपये की ठगी करने का मामला सामने आया है। पांच युवकों ने आरोपित हुसैन रिजवी ऊर्फ हसन खान के खिलाफ देवेंद्र नगर थाने में अपराध दर्ज कराया है। धमतरी जिले के सुपेला निवासी अनिल देवांगन ने बताया कि भिलाई चरोदा निवासी हुसैन रिजवी उर्फ हसन खान ने स्वंय को मंत्री का करीबी बताकर पुलिस, वन और लोकनिर्माण विभाग में नौकरी लगाने के नाम पर अलग-अलग लोगों से अलग-अलग राशि वसूल किया है। पीड़ितों को फरवरी और अप्रैल-2021 में ट्रेनिंग के नाम पर जगदलपुर और सारंगढ़ ले जाया गया था। आरोपित हुसैन रिजवी ऊर्फ हसन खान स्वंय को कांग्रेस पार्टी का अहिवारा विधानसभा का उपाध्यक्ष बताता था।

अनिल देवांगन से आरक्षक के नाम पर 2 लाख रुपये, अहिवारी दुर्ग निवासी लवकुश देवांगन को लोक निर्माण विभाग में भृत्य के लिए एक लाख 25 हजार, सेमरा धमतरी निवासी रवि सिन्हा से लोक निर्माण विभाग में सहायक ग्रेड के लिए तीन लाख 70 हजार, भटगांव रूद्री निवासी उमेश ध्रुव से आरक्षक के लिए दो लाख 50 हजार और भखारा निवासी टेमन लाल साहू को विधानसभा में सहायक ग्रेड तीन के लिए तीन लाख 50 हजार रुपये वसूला गया है। पुलिस के अनुसार पीड़ितों की संख्या बढ़ सकती है।आरोपित रायपुर के देवेंद्र नगर स्थित करसन चैंबर में दफ्तर खोला था। इसी दफ्तर में बैठकर वह बेरोजगार युवकों को ठगी का शिकार बनाकर लाखों रुपये की लेन-देन करता था। कई महीने बीत जाने के बाद जब नौकरी नहीं लगी तो पीड़ित आरोपित से रुपयों वापस मांगने लगे तो वह टालमटोल करने लगा। कई महीने बीत जाने के बाद भी जब उसने पैसा नहीं लौटाया तो पीड़ितों ने देवेन्द्र नगर पुलिस में अपराध दर्ज कराया है।

“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा     |     जन-जन को जोड़ें “महाकाल लोक” के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान     |     Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस     |     राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ     |     विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला     |     मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों ‘झूठ दिआं पंडां     |     कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा     |     करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा     |     स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित     |     दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201