Breaking
“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता... विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

Zomato पर कम हुआ ब्रोकरेज फर्मों का भरोसा, घटाया टारगेट प्राइस

अगर यदि आपके पास जोमैटो के शेयर हैं तो आपके लिए काम की खबर है। दिसंबर तिमाही के लिए जोमैटो के कमजोर नतीजों की रिपोर्ट के बाद कुछ ब्रोकरेज ने फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म के शेयरों पर अपने प्राइस टारगेट में कटौती की है। इस वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में जोमैटो के नुकसान में कमी आई है और रेस्तरां भोजन की बढ़ती मांग के कारण राजस्व में उछाल भी आया। फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म ने तिमाही के दौरान 67 करोड़ रुपए के कंसोलिडेटेड शुद्ध नुकसान की सूचना दी है। कंपनी के शेयरों में निवेशकों का भरोसा कम हो रहा है और शेयरों में गिरावट जारी है। शुक्रवार को कंपनी के शेयर बीएसई पर 6 फीसदी से ज्यादा गिरकर 88.75 रुपये पर बंद हुए थे।

जेफरीज, क्रेडिट सुइस, जेएम फाइनेंशियल जैसे ब्रोकरेज फर्म ने जोमैटो के शेयर प्राइस घटा दिए हैं। जेफरीज ने Buy रेटिंग बनाये रखने के साथ जोमैटो के शेयरों का टारगेट प्राइस घटाकर 120 रुपये कर दिया है। इससे पहले, इस ब्रोकरेज फर्म ने जोमैटो के शेयरों के लिए 175 रुपये का टारगेट प्राइस दिया था। वहीं, क्रेडिट सुइस ने आउटपरफॉर्म रेटिंग बरकरार रखते हुए टारगेट प्राइस 185 रुपये से घटाकर 120 रुपये कर दिया है। जेएम फाइनेंशियल ने खरीदारी का रुख बनाए रखते हुए टारगेट प्राइस को 180 रुपये से घटाकर 155 रुपये कर दिया है। Goldman Sachs ने जोमैटो पर खरीदारी की राय बरकरार रखी है। वहीं टारगेट प्राइस 185 रुपए से घटाकर 160 रुपए कर दिया है।जहां एक तरह जेफरीज, क्रेडिट सुइस और जेएम फाइनेंशियल ने जोमैटो के शेयर प्राइस को घटा दिए वहीं CLSA, बैंक ऑफ़ अमेरिका और मॉर्गन स्टेनली जैसे कुछ बड़े ब्रोकरेज हाउस ने अपने फंडामेंटल व्यू में कोई बदलाव नहीं किए और टारगेट प्राइस को स्थिर रखा है।

“भाषा” महज एक शब्द नहीं, संस्कृति का पर्याय है। यदि संस्कृति को बचाना है तो भाषा को बचाना होगा     |     जन-जन को जोड़ें “महाकाल लोक” के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान     |     Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस     |     राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ     |     विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला     |     मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों ‘झूठ दिआं पंडां     |     कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा     |     करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा     |     स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित     |     दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201