Breaking
दोपहर में सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठंड दिन का पारा सामान्य से 2 डिग्री कम ​​​​पेटीएम वॉलेट बैंक एक्टिवेटेड थे सिम, गिरोह के सदस्यों की तलाश पानी भरने गई पीड़िता से की थी अभद्रता , 8 साल पहले दर्ज हुआ था मामला दिसंबर में बुध, शुक्र, सूर्य का गोचर, जानें कब है गीता जयंती, एकादशी, क्रिसमस वर्ष 2023 में संतान की रक्षा, सेहत, आयु और खुशी के लिए आ रहे हैं 6 व्रत न प्रिंसिपल आए और न शिक्षक; पढ़िए पूरा मामला अनुसूचित जाति के लिए 13% आरक्षण का विरोध,16 फीसदी नहीं करने पर आंदोलन की चेतावनी शीतकालीन सत्र पर फैसला; विधायी कार्यों की भी मिलेगी मंजूरी, ग्रीन टैक्स पर लगेगी मुहर मोहाली के विकास भवन में की जाएगी कार्यक्रम की शुरूआत हिमाचल में सभी सीटों पर होगी 'आप' की जमानत जब्त, केजरीवाल को बताया देश का झूठा इंसान

53 दिन तक दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में नहीं होगी शादी, जानिये- दिसंबर तक के सभी शुभ मुहूर्त

Vivah Muhurat 2021 बुधवार से गुरु ग्रह के अस्त होने से 14 मार्च तक खरमास लगेगा। इस दीन से मीन राशि में सूर्य ग्रह प्रवेश कर जाएंगे और फिर 14 अप्रैल तक इसी राशि में रहने के कारण खरमास लगा ही रहेगा। इससे विवाह जैसे मांगलिक कार्य नहीं हो सकेंगे।

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। 23 फरवरी (बुधवार) से गुरु ग्रह अस्त हो रहे हैं, जिससे दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में विवाह के शुभ मुहूर्त आगामी 53 दिन तक नहीं होंगे, इसके अलावा मांगलिक कार्य भी वर्जित रहेंगे।ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक, बृहस्पति गृह 23 फरवरी से अगले महीने 20 मार्च तक गुरु अस्त रहेंगे, इसके चलते शादी-समारोह समेत सभी मांगलिक कार्यों पर विराम लग जाएगा। दरअसल, 23 फरवरी से गुरु ग्रह अस्त होंगे और इनके उदय होने से पूर्व यानी 14 मार्च को सूर्य ग्रह मीन राशि में  चला जाएगा। इसके बाद 14 अप्रैल तक सूर्य ग्रह के मीन राशि में रहने के कारण खरमास लगा रहेगा।  इस दौरान मुंडन और शादी विवाह समेत सभी तरह के शुभ कार्यों पर आगामी 53 दिनों तक विराम रहेगा। कुल मिलाकर 23 फरवरी से लेकर 16 अप्रैल तक कोई भी शुभ कार्य नहीं होगा। इसके बाद अप्रैल में कुल 6 दिन, मई में 13 और  जून में 10 और जुलाई में चार दिन शुभ मुहूर्त होगा।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, सौरमंडल में जब कोई ग्रह सूर्य से एक निश्चित दूरी पर आकर प्रभावहीन हो जाता है और अपनी आभा और शक्ति खोने लगता है। वह ऐसा ग्रह सौरमंडल में दिखाई भी नहीं देता है, यह स्थिति ग्रह का अस्त होना है।

इस बाबत गाजियाबाद के चर्चित ज्योतिषाचार्य पंडित राकेश शास्त्री का कहना है कि बुधवार से गुरु ग्रह अस्त हो जाएंगे और फिर 14 मार्च को मीन राशि में सूर्य ग्रह प्रवेश कर जाएंगे। ऐसी स्थिति में यानी 14 अप्रैल तक इसी राशि में रहने के कारण खरमास लग जाएगा। ऐसे में शादी-समारोह समेत सभी मांगलिक कार्य नहीं हो सकेंगे।

इन तिथियों में विवाह मुहूर्त

अप्रैल

——————–

मई

जून

जुलाई

बता दें कि अगस्त, सितंबर और अक्टूबर के बाद नवंबर में फिर शादी के कई मुहूर्त होंगे।

दिसंबर

गौरतलब है कि अप्रैल में कुल 6 दिन, मई में 13 और जून में 10 और जुलाई में चार दिन शुभ मुहूर्त होगा। दरअसल, अप्रैल से जुलाई तक यानी चार महीने के दौरान 40 दिन विवाह के शुभ मुहूर्त हैं, क्योंकि अप्रैल में कुल 8  और मई में 14 दिन शुभ मुहूर्त हैं। वहीं जून महीने में 11 और जुलाई में सिर्फ 7 दिन लग्न के शुभ मुहूर्त हैं। इसके बाद 10 जुलाई को देवशयनी एकादशी के साथ ही चार महीने के लिए विवाह संस्कार सहित अन्य  मांगलिक कार्यों पर रोक लगा जाएगी। फिर नवंबर में देवउठनी एकादशी के साथ फिर शुभ कार्य  शुरू हो जाएंगे।

दोपहर में सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठंड दिन का पारा सामान्य से 2 डिग्री कम     |     ​​​​पेटीएम वॉलेट बैंक एक्टिवेटेड थे सिम, गिरोह के सदस्यों की तलाश     |     पानी भरने गई पीड़िता से की थी अभद्रता , 8 साल पहले दर्ज हुआ था मामला     |     दिसंबर में बुध, शुक्र, सूर्य का गोचर, जानें कब है गीता जयंती, एकादशी, क्रिसमस     |     वर्ष 2023 में संतान की रक्षा, सेहत, आयु और खुशी के लिए आ रहे हैं 6 व्रत     |     न प्रिंसिपल आए और न शिक्षक; पढ़िए पूरा मामला     |     अनुसूचित जाति के लिए 13% आरक्षण का विरोध,16 फीसदी नहीं करने पर आंदोलन की चेतावनी     |     शीतकालीन सत्र पर फैसला; विधायी कार्यों की भी मिलेगी मंजूरी, ग्रीन टैक्स पर लगेगी मुहर     |     मोहाली के विकास भवन में की जाएगी कार्यक्रम की शुरूआत     |     हिमाचल में सभी सीटों पर होगी ‘आप’ की जमानत जब्त, केजरीवाल को बताया देश का झूठा इंसान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201