बेटे को टिकट दिलाने के लिए रीता बहुगुणा जोशी ने सांसदी से दिया इस्तीफे का प्रस्ताव- नड्डा को लिखा पत्र

 बीजेपी सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने सांसद पद से इस्तीफे की पेशकश की है। दरअसल, रीता बहुगुणा जोशी ने  अपने बेटे मयंक जोशी को लखनऊ कैंट से टिकट दिलाने के लिए सांसद पद से इस्तीफा दिया है।  उन्होंने इस बारे में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर कहा कि एक परिवार से एक ही व्यक्ति को टिकट के पार्टी के फैसले के बारे में जब पता चला तो मैंने इस बारे में पत्र लिखा है। रीता का कहना है कि अगर कोई चुनावी राजनीति में आना चाहता है और लंबे समय से समाजसेवा कर रहा है तो उसे टिकट में हर्ज नहीं होना चाहिए।

रीता जोशी ने यह भी कहा कि मैंने पहले ही 2024 का चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा कर रखी है। अब मैं सासंदी छोड़कर पार्टी का काम करना चाहती हूं। रीता बहुगुणा का कहना है कि अगर मौजूदा सांसद के बेटे को टिकट देने में दिक्कत है तो वो सांसदी छोड़ने को तैयार हैं। बता दें कि रीता जोशी जिस सीट लखनऊ कैंट से टिकट मांग रही हैं, उस पर बीजेपी में कई दावेदार हो गए हैं।

रीता का कहना है कि उनका बेटा 2009 से राजनीति में एक्टिव है और लोगों के लिए काम कर रहा है। ऐसे में उनके बेटे मयंक जोशी को टिकट मिलना चाहिए। बता दें कि बीजेपी में यूपी विधानसभा चुनाव के लिए टिकटों के बंटवारे को लेकर मंथन जारी है। धर्मेंद्र प्रधान के आवास पर बैठक चल रही है। उम्मीद है कि तीसरे और चौथे चरण के लिए बुधवार को टिकटों का ऐलान होगा।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201