‘मैं सलमान और उनके भाइयों की पीठ पर बंदर नहीं बन सकती’- जरीन खान ने भाईजान को लेकर दिया बड़ा बयान, जानिए क्या है पूरा मामला

नई दिल्ली। जरीन खान बॉलीवुड की उन अभिनेत्रियों में से एक रही हैं जो अपनी संघर्ष और निजी जिंदगी के बारे में खुलकर बोलती रही हैं। उन्होंने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत साल 2010 में सलमान खान की फिल्म वीर से की थी। इस फिल्म में सलमान खान ने ही उन्हें पहला मौका दिया था। हालांकि फिल्म वीर सिनेमाघरों में फ्लॉप साबित हुई थी, लेकिन तब से इस बात को लेकर चर्चा रही है कि जरीन खान का करियर बनाने में सलमान खान हमेशा से साथ देते रहे हैं।

अब इन सभी चर्चाओं पर जरीन खान ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि वह कोई बंदर नहीं बन सकतीं जो हर समय सलमान खान और उनके भाइयों की पीठ पर रहें। जरीन खान ने हाल ही में अंग्रेजी वेबसाइट हिंदु्स्तान टाइम्स को इंटरव्यू दिया है। इस इंटरव्यू में उन्होंने अपनी निजी जिंदगी के अलावा फिल्मी करियर को लेकर ढेर सारी बातें कीं। जरीन खान ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में वह हमेशा अपने स्पेस में बहुत संतुष्ट रही हैं। इसलिए वह कभी किसी दौड़ का हिस्सा नहीं रही हैं, लेकिन उनका मानना है कि वह अभी काफी बदली हैं। वह यह भी मानती हैं कि जब तक आप ए-लिस्टर नहीं होंगे, लोग आपका इंतजार नहीं करेंगे।

सलमान खान के बारे में बात करते हुए जरीन खान ने कहा, ‘बहुत से लोगों की अभी भी यह धारणा है कि सलमान खान मेरी मदद करते रहे हैं। मैं सलमान खान का शुक्रिया अदा करती हूं क्योंकि अगर मैं कभी इंडस्ट्री में नहीं आती अगर यह मेरे लिए नहीं होती तो। उन्होंने (सलमान खान) मुझे इंडस्ट्री में घुसने का मौका दिया, लेकिन मेरा संघर्ष तब शुरू हुआ जब मैं इस इंडस्ट्री का हिस्सा बनी। उस समय मैं कुछ नहीं जानती थी।’

जरीन खान ने आगे कहा, ‘सलमान खान बहुत की शानदार इंसान हैं, लेकिन वह बहुत बिजी रहते हैं। मैं हर छोटी बात के के लिए सलमान और उनके भाइयों की पीठ पर बंदर नहीं बन सकती। आज तक बहुत से लोग सोचते हैं कि मैं जो भी काम करती हूं वह सलमान खान के जरिए होता है, जबकि यह सच नहीं है। सलमान एक दोस्त हैं और बस एक फोन कॉल दूर हैं लेकिन मैं उन्हें परेशान नहीं करती हूं। ऐसा करना मेरे संघर्ष, कड़ी मेहनत को कमजोर करता है।’

इसके अलावा जरीन खान ने मानती हैं कि लोगों ने उनके निडर स्वभाव को अहंकार समझ लिया है। वह कहती हैं, ‘मेरे पिताजी ने हमें छोड़ दिया था, इसलिए मैं ही थी जिसने अपने परिवार की आर्थिक रूप से देखभाल करने की जिम्मेदारी ली। मेरे पास मेरी मदद करने या मेरा मार्गदर्शन करने वाला कोई नहीं था। यह डराने वाला था। मैं डरी हुई थी और कई लोगों ने इसे अहंकार के रूप में लिया। कई बार ऐसा भी हुआ जब मैंने इंडस्ट्री में खुद को खोया हुआ महसूस किया। मैं अच्छा काम करना चाहती थी लेकिन मुझे अपना एक्टिंग टैलेंट दिखाने की अनुमति नहीं थी।’ इसके अलावा जरीन खान ने और भी ढेर सारी बातें कीं।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201