Breaking
रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया मां बनी पंद्रह साल की बालिका ने बच्चे को अपनाने से किया इनकार महाकालेश्वर में 10 फरवरी से बदलेगा पूजा का समय बच्चों को लगी रील बनाने की लत, अभिभावक पूछ रहे कैसे छुड़ाए इसे गूगल में अब बढ़ेगा तनाव तनावमुक्त रखने वाली क्रिस्टिन को किया बाहर   बागेश्वर धाम की शरण में जाएंगे कमलनाथ पेटीएम ने की मुनाफे की घोषणा, टीम के प्रयासों से हुआ संभव बार कोड इन्स्टॉलिंग के बहाने लोगों से ठगी करने के आरोप में दो किशोर गिरफ्तार प्रदेश में पांचवा फ्लाइंग क्लब खजुराहो में कब है गुरु प्रदोष? नोट करें पूजा विधि, मुहूर्त, इस व्रत से शत्रु होते हैं परास्त

भोपाल में निर्माणाधीन इमारत की सातवीं मंजिल से गिरकर मजदूर की मौत

भोपाल। कोलार की मधुवन सिटी में एक निर्माणाधीन बिल्डिंग की सातवीं मंजिल से गिरकर एक मजदूर की मौत हो गई। वह हादसे के समय बांस-बल्ली को मिलाकर ढांचा बांध रहा था। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पीएम कराने के बाद परिजन को सौंप दिया है।

कोलार थाने के एएसआइ प्रीतम सिंह के मुताबिक अशोक पटेल (60) ग्राम हिनौतिया आलम कोलार रोड में रहते थे और मजदूरी करते थे। अशोक का काम इन दिनों मधुवन सिटी कोलार रोड पर काम चल रहा था। गुरुवार को कुछ मजदूर बिल्डिंग की सातवीं मंजिल पर बिना किसी सुरक्षा के काम कर रहे थे। इसी दौरान अशोक 70 फीट की ऊंचाई बांस-बल्ली का भाड़ा बांधते समय नीचे जमीन पर जा गिरा। ऊंचाई से गिरने के कारण उसे गंभीर चोट आई थी। उनके साथी और अन्य लोगों ने उसे इलाज के लिए निजी अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने जांच करने के बाद अशोक को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। मृतक की चार बेटियां और एक बेटा है। मृतक की पत्नी भी मजदूरी करती है

पुलिस को मिली तीन खामियां

मामले के जांच अधिकारी प्रीतम सिंह ने बताया कि मजदूर की मौत की सूचना मिलने के बाद मधुवन सिटी का मौका मुआयना किया है। घटनास्थल पर आसपास से साक्ष्य जुटाए गए। जहां निर्माण के दौरान कई खामियां नजर आई हैं। इसमें तीन मुख्य हैं कि वह सातवीं मंजिल पर काम कर रहा था। ऐसे में उसे ठेकेदार द्वारा हेलमेट उपलब्ध क्यों नहीं कराया गया। इससे उसके सिर में चोट लगी है। दूसरा कारण एक बेल्ट उसे क्यों नहीं बांधा गया था। अगर वह बंधा होता तो वह गिरने बच सकता था। यह प्रक्रिया सर्कस में अपनाई जाती है। तीसरी कमी जो नजर आई, वो यह कि वहां नेट लगाकर काम नहीं किया जा रहा था। उसका इंतजाम ठेकेदार को कराना चाहिए थे। इन खामियों की जिम्मेदारी तय करने के लिए कुछ लोगों के बयान दर्ज किए जाने हैं। उसके बाद मामले में एफआइआर दर्ज की जाएगी।

रॉकेट दागने के जवाब में इजराइल ने गाजा पर हवाई हमला किया     |     मां बनी पंद्रह साल की बालिका ने बच्चे को अपनाने से किया इनकार     |     महाकालेश्वर में 10 फरवरी से बदलेगा पूजा का समय     |     बच्चों को लगी रील बनाने की लत, अभिभावक पूछ रहे कैसे छुड़ाए इसे     |     गूगल में अब बढ़ेगा तनाव तनावमुक्त रखने वाली क्रिस्टिन को किया बाहर      |      बागेश्वर धाम की शरण में जाएंगे कमलनाथ     |     पेटीएम ने की मुनाफे की घोषणा, टीम के प्रयासों से हुआ संभव     |     बार कोड इन्स्टॉलिंग के बहाने लोगों से ठगी करने के आरोप में दो किशोर गिरफ्तार     |     प्रदेश में पांचवा फ्लाइंग क्लब खजुराहो में     |     कब है गुरु प्रदोष? नोट करें पूजा विधि, मुहूर्त, इस व्रत से शत्रु होते हैं परास्त     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201