Breaking
रजिस्ट्री कराने आए लोग परेशान, जरनेटर भी सालों से खराब, कोई वैकल्पिक व्यवस्था भी नहीं टेंट हाउस व्यापार कैसे शुरू करें | How to Start Tent House or Stage Business in Hindi संचालक डॉ. मेहिया और कुलपति डॉ. तिवारी वीसीआई में सदस्य मनोनीत मुख्यमंत्री बघेल का माता चंडी मंदिर से भेंट-मुलाकात कार्यक्रम स्थल तक रोड शो के दौरान ग्रामीणों ने क... मुख्यमंत्री बघेल ने माता चंडी मंदिर में पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख, समृद्धि की कामना की धान और तिलहन की समर्थन मूल्य पर होगी खरीदी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के लिए हर्षित पंडरिया विधानसभा के ग्राम कुकदुर की जनता मथुरा पुलिस के हाथ लगे संदिग्ध के फोटो, चोरों की तलाश में जुटी पुलिस इलेक्शन मोड में काग्रेस, इसलिए 'दागियों' पर अभी नो एक्शन डॉक्टरी-इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ विद्यार्थियों को स्टार्टअप के लिए भी सहयोग की व्यवस्था – मुख्यमं...

भोपाल में निर्माणाधीन इमारत की सातवीं मंजिल से गिरकर मजदूर की मौत

भोपाल। कोलार की मधुवन सिटी में एक निर्माणाधीन बिल्डिंग की सातवीं मंजिल से गिरकर एक मजदूर की मौत हो गई। वह हादसे के समय बांस-बल्ली को मिलाकर ढांचा बांध रहा था। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पीएम कराने के बाद परिजन को सौंप दिया है।

कोलार थाने के एएसआइ प्रीतम सिंह के मुताबिक अशोक पटेल (60) ग्राम हिनौतिया आलम कोलार रोड में रहते थे और मजदूरी करते थे। अशोक का काम इन दिनों मधुवन सिटी कोलार रोड पर काम चल रहा था। गुरुवार को कुछ मजदूर बिल्डिंग की सातवीं मंजिल पर बिना किसी सुरक्षा के काम कर रहे थे। इसी दौरान अशोक 70 फीट की ऊंचाई बांस-बल्ली का भाड़ा बांधते समय नीचे जमीन पर जा गिरा। ऊंचाई से गिरने के कारण उसे गंभीर चोट आई थी। उनके साथी और अन्य लोगों ने उसे इलाज के लिए निजी अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने जांच करने के बाद अशोक को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। मृतक की चार बेटियां और एक बेटा है। मृतक की पत्नी भी मजदूरी करती है

पुलिस को मिली तीन खामियां

मामले के जांच अधिकारी प्रीतम सिंह ने बताया कि मजदूर की मौत की सूचना मिलने के बाद मधुवन सिटी का मौका मुआयना किया है। घटनास्थल पर आसपास से साक्ष्य जुटाए गए। जहां निर्माण के दौरान कई खामियां नजर आई हैं। इसमें तीन मुख्य हैं कि वह सातवीं मंजिल पर काम कर रहा था। ऐसे में उसे ठेकेदार द्वारा हेलमेट उपलब्ध क्यों नहीं कराया गया। इससे उसके सिर में चोट लगी है। दूसरा कारण एक बेल्ट उसे क्यों नहीं बांधा गया था। अगर वह बंधा होता तो वह गिरने बच सकता था। यह प्रक्रिया सर्कस में अपनाई जाती है। तीसरी कमी जो नजर आई, वो यह कि वहां नेट लगाकर काम नहीं किया जा रहा था। उसका इंतजाम ठेकेदार को कराना चाहिए थे। इन खामियों की जिम्मेदारी तय करने के लिए कुछ लोगों के बयान दर्ज किए जाने हैं। उसके बाद मामले में एफआइआर दर्ज की जाएगी।

रजिस्ट्री कराने आए लोग परेशान, जरनेटर भी सालों से खराब, कोई वैकल्पिक व्यवस्था भी नहीं     |     टेंट हाउस व्यापार कैसे शुरू करें | How to Start Tent House or Stage Business in Hindi     |     संचालक डॉ. मेहिया और कुलपति डॉ. तिवारी वीसीआई में सदस्य मनोनीत     |     मुख्यमंत्री बघेल का माता चंडी मंदिर से भेंट-मुलाकात कार्यक्रम स्थल तक रोड शो के दौरान ग्रामीणों ने किया जोरदार स्वागत     |     मुख्यमंत्री बघेल ने माता चंडी मंदिर में पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख, समृद्धि की कामना की     |     धान और तिलहन की समर्थन मूल्य पर होगी खरीदी     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के लिए हर्षित पंडरिया विधानसभा के ग्राम कुकदुर की जनता     |     मथुरा पुलिस के हाथ लगे संदिग्ध के फोटो, चोरों की तलाश में जुटी पुलिस     |     इलेक्शन मोड में काग्रेस, इसलिए ‘दागियों’ पर अभी नो एक्शन     |     डॉक्टरी-इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ विद्यार्थियों को स्टार्टअप के लिए भी सहयोग की व्यवस्था – मुख्यमंत्री चौहान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201