Breaking
कानपुर में बड़ा हादसा जनपद में हुए दर्जनों कार्यक्रम, सांसद रह चुके हैं नरेश अग्रवाल समाज में उल्लेखनीय योगदान के लिए ’पद्मश्री मदन चौहान और पद्मश्री शमशाद बेगम सहित 16 वरिष्ठ नागरिक हु... मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पंडरिया में 68 करोड़ 87 लाख रूपए के 81 कार्यो का किया लोकार्पण और भूमिपूजन 85 मामलों में जब्त की थी हेरोइन, चरस, गांजा और नशीली गोलियां, वीडियो-फोटोग्राफी हुई अशोक गहलोत फिर दिखाएंगे जादू या सचिन पायलट बनेंगे मुख्यमंत्री, क्या होगा सोनिया गांधी का फैसला? कबाड़ी दुकान में चोरी के बाद बदमाशों ने लगाई आग ट्यूशन टीचर ने बच्ची को गर्म चिमटे से जलाया धरती से निकली हैं धमतरी की मां विंध्यवासिनी, देश विदेश से दर्शन करने आते हैं श्रद्धालु दिसंबर 2023 तक हर भारतीय के लिए 5जी लाएगी जियो : मुकेश अंबानी

मुजफ्फरपुर में बड़ी साजिश का पर्दाफाश, भाई को घर समेत बम से उड़ाने की करी साजिश 

मुजफ्फरपुर जिले के कथैया थाना क्षेत्र के रामपुर भेरियाही में छापेमारी कर पुलिस ने डकैत रामनरेश सहनी के घर से नौ केन बम बरामद किया है। रमेश सहनी पूरे गांव को बम से दहलाने व हत्या जैसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में था। कथैया थानेदार राजपत कुमार को इसकी सूचना मिली थी। इसके बाद वरीय अधिकारियों को इसकी जानकारी देते हुए थानेदार ने रामनरेश के घर छापेमारी की। इस दौरान उसके कमरे में जमीन पर रखे नौ केन बम बरामद हुआ। मौके से पुलिस ने रामनरेश को भी दबोच लिया। कथैया पुलिस ने प्रारंभिक पूछताछ के बाद बताया कि राम नरेश सहनी का अपने भाई रमेश सहनी से जमीन विवाद चल रहा था। उसकी हत्या के लिए बम छिपाकर रखा था। थानेदार ने बताया कि बम स्क्वाड की टीम बम को कब्जे में लेकर डिफ्यूज करने की कवायद में जुटी थी। पुलिस की माने तो राम नरेश सहनी हिस्ट्रीशीटर रहा है। अपने समय का कुख्यात डकैत था। उसके घर से वर्षों पहले रायफल आदि बरामद हो चुका है। देवरिया थाने की पुलिस आर्म्स एक्ट में उसे जेल भेज चुकी है।

वर्तमान में उसके नक्सलियों से तार जुड़े हैं। पुलिस पदाधिकारी का कहना है कि इस बिंदु पर पूछताछ की जा रही है। लेकिन, वह इस संबंध में कई तरह की बातें बता रहा है। पुलिस आरोपित से यह जानने के प्रयास में है कि वह बारूद व अन्य विस्फोटक समाग्री कहां से लाया। पुलिस ने उसका मोबाइल जब्त किया है। मोबाइल की वैज्ञानिक जांच कराने की कवायद सर्विलांस सेल शुरू कर दी है। थानेदार ने बताया कि रामनरेश के नक्सलियों से संपर्क होने की बात सामने आ रही जिसका सत्यापन किया जा रहा है।  केन बम सुतली से बांधा गया है। उसके अंदर बारूद व अन्य विस्फोटक समाग्री भरे हुए हैं। इससे उसका वजन करीब 250 ग्राम का है। अगर बम फटता तो इसके धमाके से काफी बर्बादी होती। जान माल की भी भारी क्षति होती। पुलिस सूत्रों की माने तो रामनरेश ने ही बम बनाया है। वह वर्षों तक जेल में भी रहा है।

कानपुर में बड़ा हादसा     |     जनपद में हुए दर्जनों कार्यक्रम, सांसद रह चुके हैं नरेश अग्रवाल     |     समाज में उल्लेखनीय योगदान के लिए ’पद्मश्री मदन चौहान और पद्मश्री शमशाद बेगम सहित 16 वरिष्ठ नागरिक हुए सम्मानित     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पंडरिया में 68 करोड़ 87 लाख रूपए के 81 कार्यो का किया लोकार्पण और भूमिपूजन     |     85 मामलों में जब्त की थी हेरोइन, चरस, गांजा और नशीली गोलियां, वीडियो-फोटोग्राफी हुई     |     अशोक गहलोत फिर दिखाएंगे जादू या सचिन पायलट बनेंगे मुख्यमंत्री, क्या होगा सोनिया गांधी का फैसला?     |     कबाड़ी दुकान में चोरी के बाद बदमाशों ने लगाई आग     |     ट्यूशन टीचर ने बच्ची को गर्म चिमटे से जलाया     |     धरती से निकली हैं धमतरी की मां विंध्यवासिनी, देश विदेश से दर्शन करने आते हैं श्रद्धालु     |     दिसंबर 2023 तक हर भारतीय के लिए 5जी लाएगी जियो : मुकेश अंबानी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201