Breaking
फैक्ट्री में काम करते टूटा था हाथ, लगते ही मां दुर्गा को दोनों हाथों से भेंट किया नारियल प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को दिया गया प्रमाण पत्र, युवाओं के उज्जवल भविष्य दी गाई शुभकामना डिटेक्टिव स्टाफ ने बसंत विहार के पास पकड़े, पिस्तौल और कारतूस बरामद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना यूएस वेकेशन से वापस लौटे आमिर खान अवैध संबंधों के शक में गड़ासे से काटकर की हत्या छत्तीसगढ़ :  बर्थडे पार्टी के नाम पर होटल में चल रहा था देह व्यापार बलरामपुर में हुई खेलकूद प्रतियोगिता, खिलाड़ियों ने दिखाई प्रतिभा इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 284 पदों पर निकली भर्ती गाजियाबाद के गुलधर स्टेशन पर पूरा हुआ काम, 7 पॉइंट में पढ़िए एक्सकेलेटर की खूबियां

गुमनाम ‘बिनसर हिल स्टेशन’ घूमने का प्लान कर रहे हैं, तो इन जगहों पर जरूर जाए 

देश की राजधानी दिल्ली से लगभग 400-500 किलोमीटर के आसपास कुछ ऐसी अद्भुत और गुमनाम जगहें हैं जिनके बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं। इस लेख से पहले हमने आपको डीडीहाट हिल स्टेशन, नौकुचियाताल हिल स्टेशन, मोरनी हिल्स, चोपता हिल और मलाणा हिल आदि कई गुमनाम हिल स्टेशन्स के बारे में बता चुके हैं आज हम आपको एक और अद्भुत और गुमनाम जगह ‘बिनसर हिल स्टेशन’ के बारे में बताने जा रहे हैं।

उत्तराखंड में मौजूद बिनसर हिल स्टेशन एक ऐसी जगह है, जहां आप घूमने के साथ-साथ मस्ती-धमाल का भरपूर आनंद उठा सकते हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में या फिर आप वैलेंटाइन डे के मौके पर पार्टनर या फिर परिवार, दोस्तों के साथ बिनसर हिल स्टेशन में 3 दिन घूमने का ट्रिप प्लान बना रहे हैं, तो कौन सी जगह घूमने जाएं, कहां रुके, कैसे पहुंचे आदि के बारे में आपको जानकारी देने जा रहे हैं

बिनसर में ऐसी कई अद्भुत जगहें हैं जहां आप पहले दिन घूमने के लिए पहुंच सकते हैं। लेकिन, बिनसर में भी प्रकृति के मामले अगर कोई जगह जन्नत की तरह है तो वो है ‘जलना’। ऐसे में अगर आपको पहले दिन ही बिसनर की असीम खूबसूरती से रूबरू होना है तो आपको सबसे पहले जलना घूमने के लिए जाना चाहिए। (चोपता हिल स्टेशन) मुख्य शहर से लगभग 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित जलना एक छोड़ा सा स्थान है, जो पहाड़ियों से घिरा हुआ है। जलना में आप दोस्तों, परिवार या पार्टनर के साथ खूब मस्ती और धमाल भी कर सकते हैं। यहां आप स्वादिष्ट सेब, खुबानी, नाशपाती और आडू जैसे कई बेहतरीन फलों की खेत में भी घूमने के लिए जा सकते हैं। खेत के मालिक से आज्ञा लेकर आप इन फलों का स्वाद भी चख सकते हैं। इसके अलावा यहां आप ट्रेकिंग के साथ विभिन्न प्रकार की वनस्पति और प्रवासी पक्षियों को करीब से देख सकते हैं।

पहला दिन घूमने के बाद दूसरे दिन के लिए आप बिनसर की अन्य कई खूबसूरत जगह घूमने का प्लान बना सकते हैं। जी हां, दूसरे दिन का प्लान आप जीरो पॉइंट से कर सकते हैं। मुख्य शहर से कुछ ही दूरी पर मौजूद जीरो पॉइंट पर्यटकों के लिए बेहद ही आकर्षण का केंद्र है। इस जगह को लेकर स्थानीय लोगों का मानना है कि जब भी किसी को शांत जगह घूमने मन करता है तो इसी जगह पहुंचता है। जीरो पॉइंट घूमने के अलावा आप यहां से केदारनाथ चोटी और नंदादेवी को आसानी से देख सकते हैं। आपको बता दें कि जीरो पॉइंट ट्रेकिंग के मामले में भी बेहद फेमस जगह है।

ट्रिप के तीसरे दिन आप कई अन्य बेहतरीन जगह घूमने का प्लान बना सकते हैं। मुख्य शहर से कुछ ही दूरी पर मौजूद बिनसर वन्यजीव अभयारण्य तीसरे दिन घूमने के लिए एक बेस्ट स्थान हो सकता है। आपको बता दें कि ये स्थान प्रकृति प्रेमियों के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है  कहा जाता है कि यहां लगभग 200 से अधिक प्रजातियों के पेड़ मौजूद है और हजारों किस्म के जानवर। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस जगह की स्थापना साल 1988 के आसपास किया गया था। बिनसर वन्यजीव अभयारण्य घूमने के बाद आप 16 वीं शताब्दी में निर्मित बिनेश्वर मंदिर भी घूमने के लिए जा सकते हैं। इसके अलावा बिसनर की फेमस जगहों में शामिल खाली इस्टेट भी घूमने के लिए जा सकते हैं।

बिनसर घूमने कैसे पहुंचे- बिनसर घूमने जाने के लिए आप हवाई जहाज, ट्रेन या बस से भी जा सकते हैं। यहां का निकटतम हवाई अड्डा पंतनगर में स्थित है। यहां से आप लोकल टैक्सी या कैब लेकर घूमने के लिए जा सकते हैं। ट्रेन से भी आप यहां पहुंच सकते हैं। आपको बता दें कि बिनसर का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन काठगोदाम है। काठगोदाम पहुंचने के बाद लगभग 50-70 रुपये में ऑटो, बस या कैब लेकर बिसनर घूमने के लिए पहुंच सकते हैं। अगर बस के द्वारा बिनसर घूमने जाना चाहते हैं, तो आप दिल्ली, चंडीगढ़, देहरादून, नैनीताल, आदि कई जगहों से बस लेकर यहां घूमने के लिए पहुंच सकते हैं।

बिनसर में रुकने के लिए जगह – अगर आप बिनसर में घूमने का प्लान बना रहे हैं और यहां रुकने के लिए किसी अच्छी जगह की तलाश में है, तो यहां रुकने के लिए एक से एक बेहतरीन जगहें हैं। यहां आप बिनसर एडवेंचर कैंप, खिम्स गेस्ट हाउस, आनंद माई गेस्ट हाउस और सिम्बा कैफे और लॉज जैसी अन्य कई बेहतरीन जगहों पर आसानी से रुक सकते हैं। यहां रुकने के लिए लगभग 800-1000 रुपये में आसानी से रूम मिल जाते हैं।
खाने के लिए स्थान – आप जिस होटल में रुकने वाले हैं उनमें से कई होटलों में खाने के लिए कई तरह के व्यंजन आसानी से मिल सकते हैं। वैसे बिनसर का मिश्रित दाल, भाँग की खटाई, कप्पा, कुमाउनी आलू पकवान और सिसुनक साग का स्वाद चखने के बाद आप अपनी उंगलिया चाटने पर मजबूर हो जाएंगे। बिनसर में आप उत्तर-भारत के साथ-साथ दक्षिण भारतीय भोजन का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं। यहां आप चाइनीज भोजन का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं।

फैक्ट्री में काम करते टूटा था हाथ, लगते ही मां दुर्गा को दोनों हाथों से भेंट किया नारियल     |     प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को दिया गया प्रमाण पत्र, युवाओं के उज्जवल भविष्य दी गाई शुभकामना     |     डिटेक्टिव स्टाफ ने बसंत विहार के पास पकड़े, पिस्तौल और कारतूस बरामद     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना     |     यूएस वेकेशन से वापस लौटे आमिर खान     |     अवैध संबंधों के शक में गड़ासे से काटकर की हत्या     |     छत्तीसगढ़ :  बर्थडे पार्टी के नाम पर होटल में चल रहा था देह व्यापार     |     बलरामपुर में हुई खेलकूद प्रतियोगिता, खिलाड़ियों ने दिखाई प्रतिभा     |     इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 284 पदों पर निकली भर्ती     |     गाजियाबाद के गुलधर स्टेशन पर पूरा हुआ काम, 7 पॉइंट में पढ़िए एक्सकेलेटर की खूबियां     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201