Breaking
RBI ने रेपो रेट में बढ़ोतरी का किया एलान, होम लोन की EMI में होगा इजाफा.. सिवनी में कार को ट्रक ने टक्कर मारी, 4 की मौत वरुण ग्रोवर द्वारा निर्देशित 'ऑल इंडिया रैंक' का हुआ इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ रॉटरडैम में वर्ल्ड ... LIC का पैसा अडानी की कंपनी में क्यों डाला गया? PM के साथ क्या रिश्ता है? : लोकसभा में प्रधानमंत्री म... कुछ पार्टियां बाल विवाह के नाम पर साम्प्रदायिकता फैलाने की कोशिश कर रही हैं : एनसीपीसीआर चीफ दिल्ली हाईकोर्ट ने महिला कैदी के वर्जिनिटी टेस्ट को माना असंवैधानिक, जानें क्या कहा? संसद में अचानक सोनिया गांधी की बिगड़ी तबीयत, मां को बेचैन होते देख राहुल गांधी ने पिलाया पानी बाबा भोलेनाथ के दर्शन का बना रहे हैं मन तो इन शिव मंदिरों में जरूर जाएं कर्नाटक देश की लगभग 50 फीसदी नवीकरणीय ऊर्जा उत्पन्न करता है : बोम्मई केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में चार फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है सरकार

केसीआर की राष्ट्रीय पार्टी के शुभारंभ के लिए 5 अक्टूबर डी-डे है

हैदराबाद| तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस पार्टी को एक राष्ट्रीय पार्टी में बदलने के लिए रविवार को कथित तौर पर रास्ता साफ हो गया है। पार्टी के सूत्रों ने बताया कि, मुख्यमंत्री और टीआरएस सुप्रीमो के. चंद्रशेखर राव बुधवार 5 अक्टूबर को शुभ विजय दशमी त्योहार के मौके पर दोपहर 1.19 बजे अपनी बहुप्रतीक्षित राष्ट्रीय पार्टी की घोषणा करेंगे। इसके अलावा टीआरएस के नाम को बदला जा सकता है। सूत्रों ने कहा कि रविवार दोपहर को केसीआर द्वारा बुलाई गई उच्च स्तरीय पार्टी बैठक के दौरान निर्णय को अंतिम रूप दिया गया।
बैठक में कैबिनेट सहयोगियों के अलावा तेलंगाना में पार्टी की जिला इकाइयों के प्रमुखों ने भाग लिया। 5 अक्टूबर को सुबह 11 बजे पार्टी सभी स्तरों पर विधायकों, सांसदों और पदाधिकारियों की बैठक में इस मामले पर चर्चा करेगी। भारतीय राष्ट्र समिति (बीआरएस) के रूप में पार्टी का नाम बदलने का प्रस्ताव पारित करने की उम्मीद है। पार्टी नेतृत्व को लगता है कि यह प्रक्रिया चुनाव आयोग के साथ किसी भी तकनीकी मुद्दों से बचने में मदद करेगी, जैसे कि पार्टी के प्रतीक या ध्वज जैसी अपनी पहचान बनाए रखने के मामले में।
सूत्रों ने कहा, केसीआर तेलंगाना के मुख्यमंत्री के रूप में लोकप्रिय हैं। जो आधिकारिक तौर पर दोपहर 1.19 बजे राष्ट्रीय पार्टी की घोषणा करेंगे। 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में लगातार दूसरी जीत हासिल करने के तुरंत बाद केसीआर केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा के लिए एक राष्ट्रीय विकल्प पर सक्रिय रूप से विचार कर रहे हैं। राज्य में मुख्य प्रतिद्वंद्वी के रूप में उभरने के बाद भाजपा और टीआरएस के बीच संबंधों में खटास आ गई। शुरू में एक राष्ट्रीय मोर्चे के विचार के साथ वह अंतत: अपने दम पर एक राष्ट्रीय पार्टी की स्थापना करने के लिए तैयार हो गए।

RBI ने रेपो रेट में बढ़ोतरी का किया एलान, होम लोन की EMI में होगा इजाफा..     |     सिवनी में कार को ट्रक ने टक्कर मारी, 4 की मौत     |     वरुण ग्रोवर द्वारा निर्देशित ‘ऑल इंडिया रैंक’ का हुआ इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ रॉटरडैम में वर्ल्ड प्रीमियर     |     LIC का पैसा अडानी की कंपनी में क्यों डाला गया? PM के साथ क्या रिश्ता है? : लोकसभा में प्रधानमंत्री मोदी पर गरजे राहुल गांधी     |     कुछ पार्टियां बाल विवाह के नाम पर साम्प्रदायिकता फैलाने की कोशिश कर रही हैं : एनसीपीसीआर चीफ     |     दिल्ली हाईकोर्ट ने महिला कैदी के वर्जिनिटी टेस्ट को माना असंवैधानिक, जानें क्या कहा?     |     संसद में अचानक सोनिया गांधी की बिगड़ी तबीयत, मां को बेचैन होते देख राहुल गांधी ने पिलाया पानी     |     बाबा भोलेनाथ के दर्शन का बना रहे हैं मन तो इन शिव मंदिरों में जरूर जाएं     |     कर्नाटक देश की लगभग 50 फीसदी नवीकरणीय ऊर्जा उत्पन्न करता है : बोम्मई     |     केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में चार फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है सरकार     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201