भारत पीएम गतिशक्ति मिशन से विनिर्माण का बनेगा केंद्र

चीन को आर्थिक मोर्चे पर चारों खाने चित करने और दुनियाभर की कंपनियों को भारत में विनिर्माण का स्वस्थ माहौल व भरोसेमंद ठिकाना देने की रणनीति तैयार है।13 खरब डॉलर की लागत के पीएम मोदी गतिशक्ति मिशन के जरिये भारत दुनियाभर के निवेशकों के लिए पहली पसंद बनने की ओर बढ़ रहा है।इससे डिजाइन, प्रोडक्शन आदि के मौजूदा गढ़ चीन से यह तमगा हथियाने के लिए भारत तैयार है।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में लॉजिस्टिक्स के विशेष सचिव अमृत लाल मीणा ने हाल ही में दिए एक साक्षात्कार में कहा, सरकार पीएम गतिशक्ति मिशन को बिना देरी और लागत बढ़ाए लागू करने पर काम कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि जल्द ही दुनियाभर की कंपनियां भारत को अपने भरोसेमंद ठिकाने के तौर पर देखें। दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र होने के नाते भारत पर कंपनियों का कहीं ज्यादा विश्वास है।पारदर्शी नीतियां इसे और बढ़ाने का काम करेंगी।

राज्य सरकार ने सबका साथ सबका विकास पर काम किया : वित्त मंत्री देवड़ा     |     मुख्यमंत्री चौहान ने बॉटल ब्रश, आम और कचनार के पौधे लगाए     |     चमकाने के बहाने जालसाज फिर जेवर लेकर हुए फरार     |     मुख्यमंत्री चौहान ने संत रविदास की जयंती पर नमन किया     |     जनता की जिन्दगी बदलने का अभियान है विकास यात्रा : मुख्यमंत्री चौहान     |     परवेज मुशर्रफ का 79 वर्ष की उम्र में हुआ निधन     |     अब 15 मिनट में खुलेंगे किसानों के खाते     |     कराची में अहमदी समुदाय की मस्जिद में उपद्रवियों ने की तोड़फोड़     |     भाषा और धर्म के आधार पर देश को बांटा जा रहा : कमलनाथ     |     कर्नाटक में कांग्रेस ने ‘प्रजा ध्वनि यात्रा’ शुरू की     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201