Breaking
बकरी चोरी के शक में युवक की पीट-पीटकर हत्या सफल बनने के लिए रखें इन मंत्रों का ध्यान गुरुकुल स्कूल मडरिया रही विजेता, डीएफओ ने पुरस्कार देकर किया सम्मानित Business for College Students : कॉलेज स्टूडेंट्स पढ़ाई के साथ–साथ ये शानदान बिज़नेस करें, होगी तगड़ी कम... खुशखबरी: टाटानगर से पटना तक चलेगी तेजस एक्सप्रेस मां-बेटी-बेटे पर एसिड अटैक, 5 दिन बाद भी दर्ज नहीं हुई FIR आतंकी योग को 2 AK56, 1 पिस्टल और 1 टिफिन बम के साथ किया गिरफ्तार सरकार को दी चेतावनी, कहा- जल्द मांगें पूरी नहीं की तो करेंगे बड़ा आंदोलन जबलपुर होकर जाएगी पटना-सिकंदराबाद स्पेशल ट्रेन 27 अक्टूबर से 1070 एकड़ प्रोजेक्ट में राइट्स बढ़ाने की रखी डिमांड, IFSC-यूनिवर्सिटी का दिया प्रपोजल

मनमोहन सिंह को सीतारमण का करारा जवाब

नई दिल्ली । अर्थव्यवस्था को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करने पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर पलटवार करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि उन्हें भारत को सबसे कमजोर बनाने और देश में भीषण महंगाई के लिए याद किया जाता है। सीतारमण ने कहा, ”मैं आपका (मनमोहन) बहुत सम्मान करती हूं। मुझे आपसे यह आशा नहीं थी।” उन्होंने यह जानना चाहा कि वह कहीं पंजाब विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए तो ऐसा नहीं कर रहे हैं। सीतारमण ने कहा, “इससे मुझे दुख होता है।” उन्होंने कहा कि चुनावी राजनीति को ध्यान में रखकर बनाई गई सिंह की टिप्पणियां भारत को नीचे गिराने के समान हैं। केन्द्रीय मंत्री ने पूर्व एनएसई प्रमुख चित्रा रामकृष्ण द्वारा देश के सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज को चलाने के लिए ‘हिमालय में बसने वाले योगी’ की सलाह लेने के बारे में हाल में हुए खुलासों का भी संदर्भ दिया और कहा कि सत्ता में रहते हुए सिंह को लंबे समय तक पता भी नहीं था कि चीजें कैसे चल रही है। सीतारमण ने मनमोहन सिंह और नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में निर्यात और प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के आंकड़ों की भी तुलना की बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह ने गुरुवार को भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना के दौरान केंद्र सरकार की खराब नीतियों के कारण लोग आर्थिकता, बेरोजगारी और बढ़ती महंगाई से परेशान हैं। मनमोहन सिंह ने कहा, “7.5 साल सरकार चलाने के बाद सरकार अपनी गलती मानने और सुधार करने की बजाए पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को जिम्मेदार ठहराने पर लगी है।” पूर्व प्रधानमंत्री सिंह ने कहा, “इस सरकार का नकली राष्ट्रवाद जितना खोखला है, उतना ही खतरनाक है। इनका राष्ट्रवाद अंग्रेजों की बांटों और राज करो की नीति पर टिका है। संवैधानिक संस्थाओं को लगातार कमजोर किया जा रहा है। ये सरकार विदेश नीति के मोर्चे पर भी पूरी तरह फेल साबित हुई है।

बकरी चोरी के शक में युवक की पीट-पीटकर हत्या     |     सफल बनने के लिए रखें इन मंत्रों का ध्यान     |     गुरुकुल स्कूल मडरिया रही विजेता, डीएफओ ने पुरस्कार देकर किया सम्मानित     |     Business for College Students : कॉलेज स्टूडेंट्स पढ़ाई के साथ–साथ ये शानदान बिज़नेस करें, होगी तगड़ी कमाई     |     खुशखबरी: टाटानगर से पटना तक चलेगी तेजस एक्सप्रेस     |     मां-बेटी-बेटे पर एसिड अटैक, 5 दिन बाद भी दर्ज नहीं हुई FIR     |     आतंकी योग को 2 AK56, 1 पिस्टल और 1 टिफिन बम के साथ किया गिरफ्तार     |     सरकार को दी चेतावनी, कहा- जल्द मांगें पूरी नहीं की तो करेंगे बड़ा आंदोलन     |     जबलपुर होकर जाएगी पटना-सिकंदराबाद स्पेशल ट्रेन 27 अक्टूबर से     |     1070 एकड़ प्रोजेक्ट में राइट्स बढ़ाने की रखी डिमांड, IFSC-यूनिवर्सिटी का दिया प्रपोजल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201