Breaking
ईडी के समन पर बिफरे नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह, सुप्रीम कोर्ट में लगाएंगे केस  जो राम के अस्तित्व को नकारते थे वे अब राम नाम जप रहे हैं बसंत पर्व से हुआ 40 दिवसीय फाग महोत्सव का शुभारंभ अखिलेश यादव पर बरसे केशव प्रसाद मौर्य....कहा- बिना कुर्सी के उसी तरह तड़प रहे हैं, जिस तरह बिना पानी... बागेश्वर महाराज धीरेंद्र शास्त्री के समर्थन में उतरीं रूबी आसिफ खान, बोलीं- भारत को घोषित किया जाए ‘... मण्डलायुक्त ने दिया 3 शैक्षणिक संस्थाओं के मान्यता प्रपत्रों की जॉच कर रिपोर्ट देने का निर्देश भारत में जल्द लॉन्च होगा 'Coca-Cola' स्मार्टफोन, जानें शानदार फीचर्स… फिल्म 'पठान' बॉक्स ऑफिस पर 300 करोड़ पार छिंदवाड़ा में एक रुपये किलो में बिक रहा टमाटर टोल नाका कर्मचारियों पर भड़के सौंसर विधायक, अंदर कराने की दी धमकी

कब है सकट चौथ?, जानें महत्व, इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा भगवान गणेश होंगे प्रसन्न

Sakat Chauth 2023: हिंदू धर्म में सकट चौथ का व्रत बेहद ही खास और महत्वपूर्ण माना गया है. इस दिन भगवान गणेश का पूजन किया जाता है और कई लोग उन्हें प्रसन्न करने के लिए व्रत-उपवास भी किया जाता है. सकट चौथ का व्रत बच्चों की लंबी उम्र और उनकी सुख-समृद्धि के लिए रखा जाता है. इसके अलावा यदि कोई महिला लंबे समय से संतान प्राप्ति की कामना रखती है तो उसे सकट चौथ का व्रत अवश्य रखना चाहिए. इस व्रत को रखने से संतान प्राप्ति की कामना पूरी होती है. इस साल सकट चौथ का व्रत कल यानि 10 जनवरी को रखा जाएगा. आइए जानते हैं कि पूजा का शुभ मुहूर्त.

सकट चौथ व्रत 2023 तिथि

पंचांग के अनुसार, माघ माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी ति​थि की शुरूआत 10 जनवरी दिन मंगलवार को दोपहर 12 बजकर 09 मिनट पर होगा और इस तिथि की समाप्ति 11 जनवरी दिन बुधवार को दोपहर 02 बजकर 31 मिनट पर होगी. सकट चौथ व्रत के दिन चतुर्थी तिथि में चंद्रमा की पूजा अनिवार्य है, इसलिए सकट चौथ व्रत 10 जनवरी को रखा जाएगा.

सकट चौथ व्रत 2023 पूजा मुहूर्त

10 जनवरी को सुबह 09 बजकर 52 मिनट से दोपहर 01 बजकर 47 मिनट तक अच्छा समय है. इसमें भी लाभ-उन्नति मुहूर्त सुबह 11:10 बजे से दोपहर 12:29 बजे तक और अमृत-सर्वोत्तम मुहूर्त दोपहर 12:29 बजे से दोपहर 01:47 बजे तक है. इस मुहूर्त में गणेश जी की पूजा करने से आपकी उन्नति होगी.

सकट चौथ का महत्व

हिंदू धर्म में सकट चौथ का विशेष महत्व है और यह दिन भगवान गणेश को समर्पित है. इस दिन महिलाएं अपनी संतान की लंबी आयु और अच्छे स्वास्थ्य के लिए व्रत करती हैं. इसके अलावा निसंतान महिलाएं भी संतान प्राप्ति की कामना से सकट चौथ का व्रत करती है. इस व्रत में भगवान गणेश के साथ ही भगवान शिव, माता पार्वती और चौथ माता का पूजन किया जाता है. कहते हैं कि इस व्रत को रखने भगवान शिव, माता पार्वती, चौथ माता और भगवान गणेश जी प्रसन्न होते हैं और सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं.

ईडी के समन पर बिफरे नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह, सुप्रीम कोर्ट में लगाएंगे केस     |      जो राम के अस्तित्व को नकारते थे वे अब राम नाम जप रहे हैं     |     बसंत पर्व से हुआ 40 दिवसीय फाग महोत्सव का शुभारंभ     |     अखिलेश यादव पर बरसे केशव प्रसाद मौर्य….कहा- बिना कुर्सी के उसी तरह तड़प रहे हैं, जिस तरह बिना पानी के मछली     |     बागेश्वर महाराज धीरेंद्र शास्त्री के समर्थन में उतरीं रूबी आसिफ खान, बोलीं- भारत को घोषित किया जाए ‘हिंदू राष्ट्र’     |     मण्डलायुक्त ने दिया 3 शैक्षणिक संस्थाओं के मान्यता प्रपत्रों की जॉच कर रिपोर्ट देने का निर्देश     |     भारत में जल्द लॉन्च होगा ‘Coca-Cola’ स्मार्टफोन, जानें शानदार फीचर्स…     |     फिल्म ‘पठान’ बॉक्स ऑफिस पर 300 करोड़ पार     |     छिंदवाड़ा में एक रुपये किलो में बिक रहा टमाटर     |     टोल नाका कर्मचारियों पर भड़के सौंसर विधायक, अंदर कराने की दी धमकी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201