UP Election 2022: पीएम नरेंद्र मोदी बोले-पूरा यूपी कह रहा है कि जो कानून का राज लाए हैं, हम उनको लाएंगे

सीतापुर। मिलिट्री ग्रास फार्म में भीड़ से खचाखच भरे मैदान में सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, ऋषियों मुनियों की तपस्थली सीतापुर व यहां की जनता को मेरा प्रणाम। आपका उत्साह बता रहा है, यूपी में शेष चरणों में भाजपा का ही परचम लहराएगा। भाजपा को रिकार्ड मतों से जिताना है। पिछली बार का भी रिकार्ड तोड़ना है। यूपी में भाजपा सरकार का मतलब दंगा, माफिया व गुंडाराज पर नियंत्रण। यूपी में पूजा के दिन, पर्व के दिन मनाने की खुली स्वतंत्रता। बहनों, बेटियों की मनचलों से सुरक्षा। गरीब के कल्याण के लिए निरंतर काम। केंद्र की योजनाओं पर डबल गति से काम। बोले, यूपी में पहले घोर परिवारवादियों की सरकार रही, उन्होंने यूपी का यही हाल बना रखा था। हमारे दुकानदार, व्यापारी, कारोबारी कभी नहीं भूल सकते कि कैसे पहले की सरकार में गुंडागर्दी चरम पर थी। दुकानदार गुंडों की धमकी सुनने को मजबूर था। पहले आए दिन व्यापारियों से लूट हाेती थी। योगी जी गुंडों व माफियों से मुक्ति दिलाने का काम किया है। आज पूरा यूपी कह रहा है कि जो कानून का राज लाए हैं, हम उनको लाएंगे।

कहा, साथियों आज संत रविदास जी की जयंती भी है। उनके अनेक मंदिरों में भक्त जुटे हैं। आज दिल्ली में उनके मंदिर जाने का सौभाग्य मिला। मान्यता है कि जब एक बार गुरु रविदास जी राजस्थान जा रहे थे, दिल्ली में उसी स्थान पर विश्राम किया था। मेरा सौभाग्य है कि उस काशी से सांसद हूं, जहां संत रविदास जी का जन्म हुआ था। बनारस में उनके मंदिर परिसर का पवित्र सौंदर्यीकरण कार्य करा सका। पहले सरकार में लोग लंगर चखकर, फोटो कराकर चले जाते थे।

भाजपा सरकार श्रद्धालुओं के लिए अनेक सुविधाएं विकसित कर रही है। देश के कोने-कोने से श्रद्धालु उनके दर्शन के लिए काशी पहुंच रहे हैं। 2017 से पहले जिन लोगों ने पांच वर्ष सरकार चलाई, उनको संत रविदास जी से चिढ़ रही। हमारी सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मंत्र पर चल रही है। हमारी योजनाओं के केंद्र में गरीब, दलित, शोषित, पिछड़े, वंचितों का कल्याण है। आप सब जानते हैं पूरी दुनिया पिछले दो वर्ष से महामारी की चपेट में है। महामारी में भी भाजपा सरकार ने गरीब का जीवन बचाने को प्राथमिकता दी। संत रविदास जी की प्रेरणा से सरकार काम कर रही है। संत रविदास जी का दोहा सुनाकर कहा वह कहते हैं कि मैं एक ऐसा राज चाहता हूं, सभी को अन्न मिले, समाज समरस होकर रहे, इसी सोच के साथ यूपी के करोड़ों लोगों को दो वर्ष से निश्शुल्क राशन दिया जा रहा है। हर समुदाय लाभान्वित हो रहा है। जब गरीब की तकलीफ का अहसास हाे तो ऐसे ही काम होता है, काम किया जाता है। गरीब का राशन जो पहले माफिया लूट लेता था, उसका एक-एक दाना आज गरीब के घर पहुंच रहा है।

पूरे कोरोना काल में मेरा एक बात पर हमेशा ध्यान केंद्रित रहा, किसी गरीब के घर ऐसा दिन नहीं आना चाहिए, कोई भूखा न सोए, इसके लिए जागते रहे। गरीब किसी वर्ग को हो, वह जानता है कि संकट के समय किसने साथ दिया और कौन संकट के समय लापता हो गया था। साथियों कोरोना के समय में गरीबों को निश्शुल्क वैक्सीन का भी सरकार ने ध्यान रखा। बड़ा अभियान चलाकर वैक्सीन लगाई। पहले की सरकारों का वैक्सीनेशन कार्यक्रम गांवों तक पहुंचता ही नहीं था। वर्षों कार्यक्रम चलते थे, गरीबों को वैक्सीन की एक डोज नहीं लग पाती थी। आज भाजपा सरकार है, देश के कोने-कोने में गरीब को निश्शुल्क वैक्सीन लगवा रही है। भीड़ से सवाल किया, वैक्सीन लगवाई है, घर-घर सरकार ने कर्मचारी भेजे। आपकी जिंदगी बचाने के लिए जान लगा दी। विदेशों में कोरोना का ही टीका बहुत अधिक कीमत पर लग रहा है। आपके लिए तिजाेरी खाली कर देंगे। क्योंकि हमें गरीब की चिंता है। हजारों करोड़ रुपये सरकार खर्च कर रही है। कोरोना में गरीबों को आयुष्मान योजना का भी लाभ मिला।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा मैं गरीबी जीकर आया हूं। गरीब की चिंता कौन करेगा, मां बीमार है, उसका इलाज कौन कराएगा। हमने प्रधानमंत्री योजना लाकर पांच लाख तक की सुविधा दी। ताकि कोई गरीब परिवार इलाज के अभाव में दम न तोड़े। आखिर सरकार होती किसके लिए है। सरकार गरीबों के लिए ही होती है। अमीर बीमार होगा तो दस डाक्टर आ जाएंगे। हवाई जहाज से जाएगा, पर गरीब कहां जाएगा। डबल इंजन की सरकार डबल शक्ति से यूपी को उत्तम प्रदेश बनाने के लिए, गरीब को सशक्त करने के लिए काम कर रही है। हमारे गरीब, पिछ़ड़ों का सपना था कि उनके पास भी पक्का घर हो।

भाजपा सरकार ने अपने पांच वर्ष में केवल यूपी में 34 लाख पक्के घर बनाकर गरीबों को दिए हैं। आज गरीब पक्के घर में रह रहा है। जिनको घर मिला नहीं है, उनको विश्वास दिलाता हूं, काम तेजी से चल रहा है, आने वाले दिनों में आपका नंबर लगेगा। मोदी है, करके रहेगा, देकर रहेगा। मेरे लिए खुशी की बात है, मेरे मंत्रिपरिषद में पंकज चौधरी जैसा वित्त मंत्री है। इस बार के बजट की देश में तारीफ हो रही है। वह आपके दर्द को जानते हैं, इस बजट में घर देने के लिए प्रावधान किया है। खुले में शौच से मुक्ति के लिए बहन, बेटियां अंधेरे का इंतजार करती थीं। यह दर्द गरीब परिवार का बेटा ही जान सकता है।

भाजपा सरकार ने यूपी में दो करोड़ से अधिक इज्जत घरों का निर्माण कर उनके जीवन की बड़ी परेशानी दूर की। इज्जत घर का नाम यूपी की बेटी ने दिया है। दिल्ली में आज तक शासन करने वालों को गरीब की जिंदगी में शौचालय क्या होता है समझ नहीं थी, हमें यह समझ है। रसोई में चूल्हे पर धुएं में खाना पकाना कितना दर्द भरा था। हमने ऐसी करोड़ों बहनों को गैस का कनेक्शन दिया, उनकी परेशानी दूर की। प्रधानमंत्री बदला सोच बदल गई। पानी का दर्द समझता हूं। माता, बहनें पानी के लिए लंबी दूरी तय करनी पड़ती थी। आज हमने ने नल से जल बड़ा अभियान चलाया है। घर-घर पानी की चिंता कर रहे हैं। मैं आपसे पूछना चाहता हूं, जवाब देना दोस्तों, आपके पास घर है, शानदार बंगला है, गाड़ी है, खेत है, सुख है। आपका जवान बेटा, बेटी घर से बाहर गई है, शाम को उसका डेड बाडी घर आए तो घर किस काम का, यह बंगला, पैसा किस काम का। आपको चाहिए सुरक्षा। सुरक्षित जीवन होना चाहिए। जब कानून का राज नहीं होगा तो गरीब को ही पिसना होगा। यूपी में तो पारंपरिक लघु व कुटीर उद्योग बहुत हैं।

आज मुझे भी दरी का तोहफा मिल गया। बड़े-बड़े शहरों के नाम सुने थे, सीतापुर का नाम बहुत सुना था। मेरे गांव में जब मैं छोटा था, सीतापुर का नाम सुनता था। लोगों को आंख की कोई बीमारी होती थी तो सीतापुर आते थे। सीतापुर के बुनकर साथियों का परिश्रम दुनिया भर में दिखे, इसके लिए ओडीअोपी लेकर आए हैं। देश के हर जिले में ऐसे उत्पाद हैं, उनके लिए बोलता रहूंगा। लोकल फार वोकल बोल दिया, उनकी दरी बिक गई तो कुछ लोगों को तकलीफ होती है। मैं आपके लिए बोलता हूं। वह लोग यहां के कारीगरों के बजाय विदेश से खरीद लाते थे। डिफेंस कारीडोर खोल दिया है। देश में अधिक से अधिक उत्पादन, रोजगार के अवसर बने। पहले मोबाइल कितने महंगे होते थे। विदेश से मोबाइल आते थे। भाजपा सरकार की कोशिश से भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल बनाने वाला देश बन गया है।

मोबाइल, इंटरनेट सस्ता हुआ है। नियत साफ हो, प्रयास ईमानदार हो, दिल में सेवा का भाव हो, तो रास्ते निकलते ही हैं। एलईडी बल्ब छह वर्ष पहले 300 से 400 रुपये में आता था। हमने देश में उत्पादन पर जोर दिया, आज यह 50 से 60 रुपये में मिल रहा है। बिजली बिल भी कम हुआ है। योगी जी के नेतृत्व में रोजगार, स्वरोजगार की दिशा में भी अभूतपूर्व प्रयास किए गए। 2007 से 2017 तक दो लाख से भी कम सरकारी नौकरियां यूपी के युवाओं को मिलीं। जबकि योगी सरकार ने पांच वर्ष में साढ़े चार लाख नौकरियां दीं। घोर परिवारवादियों की सरकार में नौकरियां कैसे मिलती थीं, यह यूपी के लोग जानते हैं। 2017 से पहले खनन माफिया और भू माफिया का राज चलता था। याेगी सरकार ने ईमानदार प्रयास किए, नैमिषारण्य को लेकर घोर परिवारवादियों का रवैया कैसा था, आप मुझसे अधिक जानते हैं। योगी सरकार ने नैमिषारण्य के विकास के लिए काम किया है। जिन्होंने यूरिया के लिए किसानों पर लाठियां चलाई, वह किसान नहीं भूल सकते। गन्ना किसानों पर लाठी बरसाई गई। योगी सरकार नई गन्ना फैक्ट्री लगा रही है, क्षमता बढ़ा रही है। एथनाल पर जोर दे रहे हैं, ताकि किसानों की आय बढ़े।

तुलसी की खेती का व्यापार कैसे शुरू करें | How To Start Tulsi Farming Business in Hindi     |     पीएम मोदी ने तीसरी वंदे भारत ट्रेन को दिखाई हरी झंडी     |     नवरात्रि में फलाहार का है वैज्ञानिक आधार     |     जिलों में एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल गठित किए जाएँ – मुख्यमंत्री चौहान     |     40 साल की मॉडल ने की आत्महत्या     |     सीडीएस जनरल अनिल चौहान ने संभाला पदभार     |     मध्य प्रदेश के कांग्रेस नेताओं का दिल्ली में जमावड़ा     |     PM मोदी के गुजरात दौरे का दूसरा दिन     |     राहुल गांधी के फर्जी वीडियो को लेकर दिल्ली कांग्रेस ने अशोक पंडित के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत     |     जम्मू-कश्मीर के शोपियां और बारामूला में आतंकियों और सुरक्षा बलों की बीच मुठभेड़     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 8860606201